Home »National »Latest News »National » Justice Sathasivam Is New Cji

जस्टिस सदाशिवम: परिवार किसान था, खानदान में तो कोई ग्रेजुएट भी न हुआ

एन. अशोकन/राकेश भटनागर | Jul 21, 2013, 08:21 AM IST

चेन्नई/नई दिल्ली.तमिलनाडु में इरोड जिले के छोटे से गांव कडप्पनल्लूर का किसान परिवार। पढ़ाई का जहां कोई माहौल नहीं। लेकिन उसी परिवार के पलानिसामी सदाशिवम न सिर्फ पढ़े, बल्कि परिवार के पहले ग्रेजुएट बने। मद्रास हाईकोर्ट में इसलिए खुशी का माहौल है कि जस्टिस सदाशिवम ने 40 साल पहले 1973 में यहीं से वकालत शुरू की थी। यहां के बार एसोसिएशन के अध्यक्ष और जस्टिस सदाशिवम के पुराने सहयोगी एस प्रभाकरन कहते हैं, कि वे बेहद सरल हैं। अपनी जड़ों को कभी नहीं भूलने वाले। रिलायंस गैस विवाद से जुड़े फैसले में इसकी झलक देखी जा सकती है, जब जस्टिस सदाशिवम कहते हैं- प्राकृतिक संसाधन देश की संपत्ति हैं, किसी प्राइवेट फर्म की नहीं। सरकार को इनका विकास जनहित में ही करना चाहिए।
सदाशिवम की स्कूली पढ़ाई तमिल में ही हुई। फिर चेन्नई के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से ग्रेजुएट हुए। मद्रास हाईकोर्ट में वकालत करने के बाद 1996 में वहीं के स्थायी जज बनाए गए। 2007 में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ट्रांसफर हुआ और फिर उसी वर्ष सुप्रीम कोर्ट जज के रूप में तरक्की मिल गई। देश के 40वें मुख्य न्यायाधीश को सरकार के कामकाज में बहुत ज्यादा दखल देने वाला नहीं माना जाता। हाल ही में उन्होंने संजय दत्त को सजा, पाक वैज्ञानिक मोहम्मद खलील चिश्ती को माफी और मायावती के खिलाफ सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर रद्द करने जैसे चर्चित फैसले सुनाए।

अन्‍य अहम खबरें

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Justice sathasivam is new cji
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top