Home »National »Latest News »National» Mamta Benarjee Birthday, Some Special Fact

PICS: बचपन में बेचा दूध और आज सीएम बनने के बाद भी वही है अंदाज

dainik bhasakr.com | Jan 05, 2013, 11:29 IST

  • सूती साड़ी, हवाई चप्पल, कंधे पर कपड़े का थैला और चेहरे पर हमेशा संघर्ष के भाव। तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की यही पहचान है। समर्थकों में 'दीदी' के नाम से लोकप्रिय तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने अपनी सादगी और संघर्ष की बुनियाद पर पश्चिम बंगाल में वाममोर्चा के 34 साल पुराने क़िले को ढहा दिया।
    कम ही लोग जानते हैं कि ममता का बचपन अत्यंत ही संघर्षपूर्ण रहा। बचपन के दिनों में अपने छोटे भाई बहनों की परवरिश के लिए उन्होंने दूध बेचने का व्यवसाय तक किया।
    तस्वीरों में देखें ममता बनर्जी के बचपन से लेकर केंद्रीय मंत्री और फिर सीएम बनने तक का सफर और उनसे जुड़ी कुछ अंजानी बातें...
  • एक ऐसा समय भी था, जब ममता बनर्जी को ग़रीबी से संघर्ष करते हुए दूध बेचने का काम भी करना पड़ा था। उनके लिए अपने छोटे भाई-बहनों के पालन-पोषण में अपनी विधवा मां की मदद करने का यही अकेला तरीका था। ममता के पिता स्वतंत्रता सेनानी थे और जब वे बहुत छोटी थीं, तभी उनकी मृत्यु हो गई थी।

  • ममता ने 'जोगेश चंद्र चौधरी लॉ कॉलेज' से अपनी क़ानून की डिग्री प्राप्त की और पश्चिम बंगाल में यूथ कांग्रेस की अध्यक्ष के तौर पर राजनीति की शुरुआत की। जादवपुर सीट से 1984 में सोमनाथ चटर्जी को हराकर वे पहली बार लोक सभा में पहुँची। क़रीब 13 साल के संघर्ष के बाद आखिरकार पश्चिम बंगाल में वाममोर्चा को हटाकर ममता इतिहास रचने में सफल रहीं।

  • ममता ने राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री बनने का गौरव भी हासिल किया। हमेशा की तरह ममता सफ़ेद साड़ी पहनकर समारोह स्थल पहुंची थी। उन्हें देश की सबसे युवा सांसद बनने का गौरव भी प्राप्त हुआ है।

  • ममता ने वर्ष 2007 और 2008 में अपने तैल चित्रों की बिक्री कर चार लाख और 15 लाख रुपए कमाए और इसे दान कर दिया। अब भी वह लाल खपरैल की छत वाले घर में रहती हैं। नियमित रूप से ट्रेडमिल पर अभ्यास करती हैं।

  • ममता बनर्जी के जीवन का एक अनजाना पहलू यह भी है कि, वे एक संवेदनशील कवयित्री हैं। उनकी कविताओं में भी ‘बदरंग’ हो चुकी राजनीति के ‘पोरीबर्तन’ (बदलाव) की छटपटाहट है। सुश्री बनर्जी की इस आशय की कविता ‘राजनीति’ इसी मनोव्यथा को दर्शाती है और ख़ासी चर्चित है।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: mamta benarjee birthday, some special fact
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top