Home »National »Latest News »National» More Exemptions For Life Insurance Policy Holders

जीवन बीमा पॉलिसीधारकों को और रियायत संभव

एजेंसी | Feb 18, 2013, 14:07 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नई दिल्ली.जीवन बीमा पॉलिसीधारकों को आगामी बजट में कर रियायतों का लाभ मिलने की संभावना है। वित्त मंत्रालय प्रथम प्रीमियम पर सेवाकर समाप्त करने और पेंशन योजनाओं के लिए अलग से कर छूट सीमा तय करने के प्रस्ताव पर विचार कर रहा है।
इसके अलावा, कर अधिकारी इस बात की भी संभावना तलाश रहे हैं कि क्या सेवाकर का आकलन वास्तविक प्राप्ति आधार पर किया जा सकता है। वर्तमान व्यवस्था के तहत प्रीमियम संग्रह में होने वाली वृद्धि के आधार पर कर लगाया जाता है। वर्तमान में, बकाया या राशि की प्राप्ति जो भी पहले हो पर सेवाकर लगाया ही जाता है। हालांकि, कुछ बकाया राशि की वसूली कभी नहीं हो पाती।
इसी तरह, प्रस्ताव के साथ अग्रिम में प्राप्त सभी राशियां पॉलिसी में परिवर्तित नहीं होती है। बीमा उद्योग मांग करता आया है कि सेवाकर की देनदारी राशि प्राप्ति के आधार पर होनी चाहिए।
उद्योग को उम्मीद है कि वित्त मंत्री पी. चिदंबरम इस संबंध में बजट में घोषणा कर सकते हैं। इससे उपभोक्ताओं के साथ-साथ जीवन बीमा उद्योग को लाभ मिलेगा। सूत्रों ने कहा कि जीवन बीमा उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार द्वारा कुछ अन्य प्रोत्साहन उपायों पर विचार किया जा रहा है। इसमें पॉलिसी बेचने वाले एजेंटों के लिए अधिक प्रोत्साहन शामिल है।
सूत्रों ने बताया कि आयकर विभाग कुछ बीमा पेंशन उत्पादों के लिए अलग छूट सीमा तय करने पर विचार कर रहा है जो मौजूदा सीमा से ऊपर होगा। वर्तमान में, आयकर कानून के तहत, अन्य मंजूरी प्राप्त निवेशों के साथ बीमा प्रीमियम भुगतान सहित विभिन्न निवेशों पर एक लाख रुपए तक की आयकर कटौती उपलब्ध है। सरकार पेंशन उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए पेंशन उत्पादों में निवेश पर अलग से सीमा तय कर सकती है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: More exemptions for life insurance policy holders
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top