Home »National »Latest News »National» Rape In India

पुलिसवाले ने ही किया महिला कांस्‍टेबल की बेटी से रेप

भास्कर न्यूज नेटवर्क | Feb 16, 2013, 08:50 IST

  • भोपाल की एक अदालत ने शहर के आर्कबिशप के खिलाफ केस दर्ज करने का निर्देश दिया है। अदालत ने कहा है कि आर्कबिशप और दो अन्य लोगों पर चर्च के पुजारी और पूर्व प्रवक्ता को ड्रग्‍स देकर मानसिक रूप से बीमार करने की साजिश के खिलाफ केस दर्ज किया जाए। जज आलोक मिश्रा ने आर्कबिशप फादर लियो कोरनेलियो और दो लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 328 (अपराध करने के लिए जहर देकर किसी को नुकसान पहुंचाना) और 120 बी (आपराधिक षड्यंत्र) के तहत केस दर्ज करने को कहा है। सभी को एक मार्च को अदालत के सामने पेश होने को भी कहा गया है। अदालत ने यह आदेश सात फरवरी को दे दिए थे लेकिन अभियोजन पक्ष को इस आदेश की कॉपी 14 फरवरी को मिल सकी। हालांकि फादर कोरनेलियो ने अपनी सफाई दी है और इन आरोपों को गलत और बेबुनियाद बताया है। उनका कहना है कि उन पर यह आरोप पूर्व पीआरओ आनंद मुत्तांगल ने लगाए हैं जो आर्कबिशप बनना चाहता है।

    उधर, राजस्थान में महिला कांस्टेबल की बेटी से थाने में तैनात कांस्टेबल द्वारा दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। आरोपी भीम सिंह और उसके साथी किशोर सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों को निलंबित कर दिया गया है।

    17 साल के 'कॅरियर' में दो करोड़ कमा लेती हैं मेरठ की वेश्‍याएं

    एक VIP पर 3 पुलिसवाले, नेताओं पर बलात्‍कारियों को पनाह देने का आरोप, फिर कैसे रुकेंगे रेप?

    छलका अनुष्‍का का दर्द, करीबी ने ही बनाया था हवस का शिकार

    ''6 साल की उम्र में पहली बार हुआ था मेरा बलात्‍कार, उतरवा दिए थे पूरे कपड़े''

    नौवीं के छात्र के साथ 5 साथियों ने किया सेक्‍स, फिल्म भी बनाई

    दिल्ली में जारी हैवानियत : दुष्कर्म में असफल युवक ने लड़की के मुंह में डाली रॉड

    16 फरवरी की खास खबरें
  • मामला ऋषभदेव थाना क्षेत्र का है। आरोपी और पीडि़त का परिवार थाने के पीछे बने क्वार्टर में रहते हैं। एफआईआर के मुताबिक, महिला कांस्टेबल की 14 साल बेटी गुरुवार शाम साढ़े सात बजे गाय को रोटी खिलाने पास के क्वार्टर की तरफ गई थी। लौटते समय किशोर और भीम ने उसे पास बुलाया। फिर उसे पकड़कर किशोर के क्वार्टर में ले गए। वहां भीम सिंह ने उससे दुष्कर्म किया। लड़की देर शाम घर पहुंची और मां को घटना के बारे में बताया।

  • बच्ची संग नाबालिग ने किया दुष्कर्म
    झारखंड में सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोप गांव के ही नौ साल के बच्चे पर लगा है। बच्ची की शिकायत पर आरोपी को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। शुक्रवार को चर्चा में रही यह घटना बरकाकाना के पास की है। पीडि़ता के मां ने पुलिस को बताया कि वह मजदूरी के लिए घर से बाहर गई थी। शाम में जब घर लौटी तो बेटी की हालत ठीक नहीं थी। उसने समझा की खेल-खेल में शायद बेटी को चोट लगी होगी। आननफानन में वह बच्ची को पास के अस्पताल ले गई, जहां से उसे रामगढ़ सदर अस्पताल भेज दिया गया। यहां इलाज के दौरान बच्ची ने मां को अपने साथ हुए दुष्कर्म की जानकारी दी। अस्पताल प्रशासन ने पुलिस बुलाई। बरकाकाना ओपी के प्रभारी विष्णु प्रसाद राउत ने बच्ची का बयान लिया। मामला दर्ज करने के बाद आरोपी बच्चे को हिरासत में लेकर बाल सुधार गृह भेज दिया गया। बच्ची का इलाज कर रहे डॉक्टर मीठू हलधर व डॉ मृत्युंजय सिंह ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है।
  • गैंग रेप कांड में डिसमिस इंस्पेक्टर पहुंचा हाईकोर्ट
    पटियाला जिले के बादशाहपुर गांव में नाबालिग से गैंग रेप मामले में मंत्री के दवाब में जांच से खिलवाड़ हुआ। रेप मामले के जांच अधिकारी रहे डिसमिस इंस्पेक्टर नसीब सिंह ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट से बहाली की मांग करते हुए खुलासा किया है कि यह पुलिस उत्पीडऩ से तंग होकर आत्महत्या करने का मामला नहीं बल्कि प्यार में नाकामी पर आत्महत्या करने का है। ऐसे में उसे बलि का बकरा बनाकर गलत ढंग से डिसमिस किया गया है। याचिका पर प्राथमिक सुनवाई के बाद जस्टिस एजी मसीह ने 5 अगस्त के लिए पंजाब सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।
    ये है मामला : 13 नवंबर 2012 को युवती के साथ दो लोगों ने रेप किया। युवती ने अपने सुसाइड नोट में कहा कि पुलिस उस पर आरोपियों के साथ समझौता करने के लिए दबाव बना रही है। दूसरी तरफ आरोपी खुले घूमे रहे हैं जिससे उसे जान का खतरा है। ऐसे में प्रताडऩा के चलते वह आत्महत्या कर रही है। मुख्यमंत्री परकाश सिंह बादल के हस्तक्षेप के बाद इस मामले में एडीजीपी (क्राइम) की देखरेख में एक उच्च स्तरीय टीम का जांच करने के लिए गठन किया गया था।
  • दुष्कर्मी को 13 दिन में उम्रकैद की सजा सुनाई
    फतेहाबाद फास्ट ट्रैक कोर्ट ने शुक्रवार को दुष्कर्म के मामले में सुनवाई करते हुए 13 दिन में आरोपी गांव लालवास निवासी 25 वर्षीय बबलू को उम्रकैद की सजा सुनाई है। कोर्ट द्वारा किसी आपराधिक मामले में इतनी जल्दी सजा का जिले का यह पहला मामला है। अतिरिक्त एवं जिला सत्र न्यायधीश एनएल जिंदल की कोर्ट ने दोषी को उम्रकैद व 20 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। इस बारे में रतिया के गांव लालवास निवासी लड़की के पिता ने पुलिस को शिकायत दी थी कि 10 जनवरी को गांव का ही युवक बबलू ने उसकी 15 वर्षीय बेटी का अपहरण किया था। जिसने बाद में उससे दुष्कर्म किया। मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपी को किशोरी सहित गिरफ्तार कर लिया था। मेडिकल में किशोरी के साथ दुष्कर्म की पुष्टि की गई। पुलिस द्वारा आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म की धारा के तहत मामला किया गया।
  • नाबालिग की हत्या, ज्यादती की आशंका
    खरगोन के भगवानपुरा थानाक्षेत्र के दाउदखेड़ी गांव में एक युवक ने १० वर्षीय बालिका की हत्या कर दी। परिजन ज्यादती की आशंका जता रहे हैं। ग्रामीणों के अनुसार शुक्रवार सुबह १०.३० बजे जगराम पिता बिशन २७ निवासी ढोलखेड़ी दाउदखेड़ी गांव की कक्षा ६वीं में पढऩे वाली बालिका को खेत में ले गया और गला दबाकर मार डाला। गांव के राधेश्याम ने बताया उसने गला दबाते जगराम को देखा तो शोर मचाते हुए पीछा किया। इस दौरान ग्रामीण भी आ गए। घटना की जानकारी मिलने पर आक्रोशित लोगों ने जगराम को जमकर पीटा। इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने उसे गंभीर हाल में जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस का कहना है मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। प्राथमिक तौर पर हत्या का मामला नजर आ रहा है। जांच रिपोर्ट के बाद केस भी दर्ज कर लेंगे। परिजनों के आरोप पर ज्यादती की जांच भी कराएंगे। आरोपी को हिरासत में ले लिया है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: rape in india
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top