Home »National »Latest News »National» Record Cold Kills More Than 100 In India

राजस्‍थान में बर्फ जमी, ठिठुरी दिल्ली, देश में मौतों का सिलसिला जारी

dainikbhaskar.com | Jan 05, 2013, 07:52 IST

  • नई दिल्ली।पूरा उत्‍तर भारत इन दिनों कड़ाके की ठंड की मार झेल रहा है। देश के कई इलाकों में शीतलहर चल रही है। कई जगहों पर तापमान शून्य तक गिर जाने से बीते चौबीस घंटों में 20 लोगों की मौत हो गई। उत्तर प्रदेश में 13 लोगों की मौत हुई। इसी के साथ राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 129 हो गई है। श्रीनगर में पारा -5.7 डिग्री पर पहुंच गया और शुक्रवार की रात इस मौसम की सबसे सर्द रात रही।
    जम्‍मू-कश्‍मीर में भारी बर्फबारी से ऐतिहासिक मुगल रोड बंद हो गया है। इस वजह से सैलानी रास्‍ते में फंसे हुए हैं। कश्‍मीर घाटी के सीमावर्ती गांवों के लिए 'जीवनरेखा' के तौर पर मशहूर यह सड़क राज्‍य के कई जिलों से जोड़ती है। यह सड़क घाटी में पुंछ जिले में बाफलियाज़ शहर से पुलवामा जिले के शोपियां को जोड़ती है। यह सड़क 3505 मीटर ऊंची 'पीर पंजाल' की पहाडियों से होकर भी गुजरती है। सड़क पर आवाजाही ठप होने की वजह से सैलानी राजौरी जिले में घंटों फंसे रहे। बाद मे, ट्रैफिक को कम भीड़-भाड़ वाले इलाकों की तरफ मोड़ दिया गया। एक सैलानी ने बताया कि सरकार को बर्फ हटाने के पुख्‍ता इंतजाम करने चाहिए। हालांकि स्‍थानीय अधिकारियों ने सड़क पर जमी बर्फ हटाने का काम शुरू कर दिया है।
    (फोटो: श्रीनगर की सर्द सुबह में कांगड़ी के सहारे एक सब्‍जी विक्रेता)

    आज की प्रमुख खबरों पर एक नजर:

    'दामिनी'के साथ क्‍या हुआ था उस रात,साथ रहे दोस्‍त ने सुनाई दिल दहला देने वाली आंखों देखी

    टीम इंडिया की 5बीमारी और इलाज के 5नुस्‍खे

    टीम इंडिया में आपसी दरार

    सोनिया पर वायुसेना के विमान का गलत इस्‍तेमाल करने का आरोप

    नहीं रुक रहे रेप

    ...तो क्‍या बंद हो जाएगा इंटरनेट

    PHOTOSजरा हट के:डिलीवरी के दौरान बच्‍ची ने पकड़ी डॉक्‍टर की अंगुली

  • दिल्‍ली इन दिनों पूरी तरह शीतलहर की चपेट में है। कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। लगातार तापमान गिरता जा रहा है। हर दिन सर्दी के नए रिकार्ड बन रहे हैं। शनिवार तड़के न्‍यूनतम तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि राजधानी में अभी शीतलहर का प्रकोप जारी रहेगा। लोग ठंड के कारण घर से नहीं निकल पा रहे हैं और कोहरे की वजह से ट्रेन व हवाई यात्रा भी प्रभावित हो रही है। शुक्रवार को मौसम ने एक और रिकार्ड बनाया और पिछले पांच साल के बाद एक बार फिर दिल्ली का तापमान 4 जनवरी को 2.7 तक जा पहुंचा है। तापमान में आई गिरावट की वजह से शनिवार को भी दिल्ली की सुबह कड़ाके की ठंड के साथ शुरू हुई और लोगों को हाड़ कंपा देने वाली ठंड का सामना करना पड़ा।
    मौसम वैज्ञानिक के अनुसार तब औसत तापमान से 5 डिग्री तापमान नीचे हो तो उसे शीतलहर कहा जाता है और अभी राजधानी का अधिकतम तापमान (12.7) औसत तापमान से 8 डिग्री नीचे है। इसलिए पूरी राजधानी अभी शीतलहर की चपेट में है। शुक्रवार का न्यूनतम तापमान सामान्य 2.7 डिग्री दर्ज किया गया जो एक नया रिकार्ड है। 4 जनवरी को इस स्तर तक न्यूनतम तापमान आज से 5 साल पहले दर्ज किया गया था। इससे पहले वर्ष 2008 में ही 2, 3, 24 तथा 28 जनवरी को राजधानी का न्यूनतम तापमान 2 डिग्री तक पहुंच गया था।
    बता दें कि मंगलवार को न्यूनतम तापमान गिर कर 4 डिग्री तक पहुंच गया था जो इस मौसम में अब तक का दूसरा सबसे न्यूनतम तापमान है। बुधवार को ठंड ने 44 साल का रिकार्ड तोड़ दिया था जब अधिकतम तापमान गिरकर 9.8 तक पहुंच गया। हालांकि शुक्रवार को अधिकतम औसत तापमान 12.7 दर्ज किया गया जो गुरूवार को रिकार्ड किए गए अधिकतम तापमान इतना ही है। हालांकि गुरूवार को न्यूनतम तापमान 4.4 दर्ज किया गया था, जो शुक्रवार को 2.7 तक नीचे चला गया। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार शनिवार को भी मौसम का हाल इसी प्रकार रहेगा और लोगों को शीतलहर से गुजरना पड़ेगा। 5 जनवरी को अधिकतम 13 तथा न्यूनतम 3, 6 जनवरी को अधिकतम 14 और न्यूनतम 3 तथा 7 जनवरी को अधिकतम 14 और न्यूनतम 4 डिग्री रहने की उम्मीद है।
  • अमृतसर में चार की मौत
    पंजाब में ठंड का कहर जारी है। शुक्रवार को अमृतसर में ठंड से चार लोगों की मौत हो गई। इनमें से दो के शव सड़क किनारे मिले। अब तक प्रदेश में 13 लोगों की मौत हो चुकी है। शुक्रवार को अमृतसर का अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री, जबकि न्यूनतम तापमान 6.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। लुधियाना का अधिकतम तापमान १०.८ और न्यूनतम तापमान 4.8 पहुंच गया। जालंधर में न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री पहुंच गया। पठानकोट में ठंड ने पिछले छह साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। पहाड़ों पर बर्फबारी के कारण पठानकोट व इसके आसपास के इलाकों में भी इस बार पारा काफी नीचे लुढ़क गया है। शुक्रवार को शहर का न्यूनतम पारा 3.2 डिग्री, जबकि अधिकतम 9.2 डिग्री दर्ज किया गया।

    क्या होती है शीतलहर

    मौसम विज्ञानियों के मुताबिक जब सामान्य न्यूनतम तापमान 9 से 10 डिग्री हो तो उस वक्त यदि तापमान 4 से 6 डिग्री तक चला जाए, तब शीतलहर की स्थिति निर्मित होती है। ऐसे में पांच से दस किमी की रफ्तार वाली ये ठंडी हवाएं लोगों को बीमार कर देती हैं।
  • राजस्‍थान में बर्फ जमी
    राजस्‍थान (देखें पूरे राज्‍य से तस्‍वीरें) में कड़ाके की ठंड कम होने का नाम नहीं ले रही। लगातार तीसरे दिन पारा गिरने और बर्फानी हवा के कहर से समूचा राजस्थान हाड़ कंपाने वाली सर्दी की जद में है। पिछले सातों दिन में जयपुर में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री गिरकर 4.5 डिग्री पर है, वहीं अधिकतम तापमान में स्थिरता बनी हुई है। ये सातों दिन 20 से 21 डिग्री के बीच रहा। वहीं अगले चार दिनों तक ठंड तेज ही रहने की संभावना है। दिल्ली में मौसम खराब होने व अन्य तकनीकी कारणों के चलते गुरुवार आधी रात को दो विमानों को जयपुर एयरपोर्ट पर आपात लैंडिंग कराई गई। एयर इंडिया की दुबई से दिल्ली जा रही फ्लाइट को रात 2 बजे जयपुर उतारा गया। बताया जा रहा है कि दिल्ली में मौसम खराब होने के कारण ऐसा किया गया। हालांकि एयरपोर्ट अधिकारियों का कहना है कि इसने यहां ईंधन भरवाया। उधर, घने कोहरे के कारण शुक्रवार को भी दस ट्रेने घंटों देरी से जयपुर पहुंची। अगले दो-तीन दिन और घने कोहरे के कारण ट्रेनों का शिड्यूल गड़बड़ाने की आशंका रेलवे ने जताई है।
    शेखावाटी का फतेहपुर फिर माइनस 2.3 डिग्री के साथ सबसे सर्द रहा। पिलानी में भी पारा 0.6 डिग्री पर पहुंच गया। माउंट आबू में लगातार दूसरे दिन बर्फ जमी। पारा शून्य डिग्री पर स्थिर बना हुआ है। राजधानी जयपुर में भी लगातार दूसरे दिन पारा 5 डिग्री से नीचे रहा। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान पिछले दिन से 0.3 डिग्री बढ़कर 4.5 डिग्री हो गया। वहीं जोबनेर में एक डिग्री पारा रिकॉर्ड किया गया। चूरू में पारा गिरकर 1.9 डिग्री हो गया। बीकानेर में तापमान 5.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। अलवर व भरतपुर में तापमान 1.8 डिग्री के स्तर को छू गया। श्रीगंगानगर में पारा 2.6 डिग्री तक लुढ़क गया। विराटनगर (शाहपुरा) के इस्माईलपुर गांव में ठंड की वजह से एक किसान की मौत हो गई।
    (जयपुर के आमेर के मावठा सरोवर पर सुबह 8:15 बजे ओस की परतें पानी के ऊपर बर्फ सी दिखाई दी। फोटो : योगेन्द्र गुप्ता)

  • मप्र में 5 डिग्री तक गिरा पारा
    पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी होने तथा वहां से आ रही बर्फीली हवाओं से समूचा मध्य प्रदेश शीतलहर की चपेट में है। बीती रात तेज सर्दी के चलते सीहोर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। मौसम विभाग के अनुसार बीते २४ घंटों में होशंगाबाद को छोड़कर भोपाल समेत सभी संभागों में पारा दो से पांच डिग्री तक लुढ़क गया है। सबसे कम पारा नौगांव में एक डिग्री दर्ज किया गया। भोपाल में शुक्रवार को इस सीजन की सबसे सर्द रात रही। वहीं इंदौर में न्यूनतम तापमान ६.४ डिग्री रहा। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो-तीन दिनों तक प्रदेश में शीतलहर इसी प्रकार जारी रहेगी। इस दौरान कहीं-कहीं तापमान 4 डिग्री या इससे भी कम रह सकता है। उत्तर भारत में ठंड और कोहरा बढऩे के साथ ही दिल्ली की ओर से आने वाली गाडिय़ों की लेटलतीफी फिर बढऩे लगी है। शुक्रवार को नई दिल्ली-भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस पौने दो घंटे की देरी से यहां पहुंची। इसके अलावा भोपाल एक्सप्रेस साढ़े तीन घंटे, स्वर्ण जयंती, संपर्क क्रांति, ग्वालियर-भोपाल इंटरसिटी एक्सप्रेस, कुशीनगर, दक्षिण, तमिलनाडु, पंजाब मेल, कर्नाटक, अमृतसर, श्रीधाम और गोंडवाना एक्सप्रेस डेढ़ से लेकर 15 घंटे तक की देरी से यहां पहुंचीं।
    भोपाल का हाल बेहाल
    इस सीजन में पहली बार शुक्रवार को राजधानी में शीतलहर चली। इसके चलते लोग दिन भर ठिठुरन महसूस करते रहे। इस दौरान न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम रहा, जिससे गुरुवार-शुक्रवार की रात इस मौसम की सबसे ठंडी रही। मौसम केंद्र के मुताबिक गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात को न्यूनतम तापमान 5.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यह गुरुवार की तुलना में चार डिग्री कम था। गुरुवार को यह 9 डिग्री दर्ज किया गया था। वहीं, अधिकतम तापमान में भी करीब डेढ़ डिग्री का उछाल आया है। इसकी वजह दोपहर में हवाओं की दिशा का कुछ वक्त के लिए उत्तर-पश्चिमी होना रहा। अधिकतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ, जो सामान्य से दो डिग्री ज्यादा था। सहायक मौसम विज्ञानी आरडी मेश्राम के अनुसार पूर्वी मप्र में बना ऊपरी हवा का चक्रवात खत्म हो गया है। इस कारण कश्मीर में बर्फबारी शुरू हो गई है। इससे शहर में ठंडी उत्तरी हवा आ रही है। शीतलहर का असर दो दिन और रहने की संभावना है। राजधानी में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने के आसार हैं।
    दो साल पहले पांच जनवरी को टूटा था रिकॉर्ड
    दो साल पहले यानी पांच जनवरी 2011 को राजधानी में ठंड का 60 साल का रिकॉर्ड टूटा था। तब न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री पहुंच गया था। यही नहीं, इसके चलते राजधानी में पत्तियों पर बर्फ तक जम गई थी। जबकि, पिछले साल 2012 में भी चार जनवरी को न्यूनतम तापमान 5.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Record cold kills more than 100 in India
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top