Home »National »Latest News »National » Retired IAS’S Memoir Questions Narendra Modi’S Role In Gujarat Riots

गुजरात दंगे: वाजपेयी से उलझ गए थे मोदी?

DNA | Jan 09, 2013, 14:02 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
नई दिल्ली. एक पूर्व नौकरशाह की किताब ने गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी (गुजरात में हैट्रिक के बाद क्या मोदी बनाम राहुल की होगी लड़ाई?) को एक बार फिर कठघरे में खड़ा कर दिया है। 1965 बैच के आईएएस अधिकारी जाविद चौधरी की किताब 'द इनसाइडर्स व्यू-मेम्वॉयर्स ऑफ अ पब्लिक सर्वेंट' में दावा किया है कि 2002 के गुजरात दंगों के दौरान नरेंद्र मोदी की सरकार ने केंद्र की तरफ से मेडिकल मदद लेने से इनकार कर दिया था और बार-बार यह बताया था कि राज्य में हालात सामान्य हैं, जबकि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को गुजरात के हालात की पूरी खबर थी। चौधरी 2002 में अटल बिहारी वाजपेयी की अगुवाई वाली एनडीए सरकार में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में सचिव के पद पर तैनात थे। (कभी साधु बनना चाहते थे मोदी, क्या अब सीएम के बाद बनेंगे पीएम?)
किताब के 'डिस्चार्ज ऑफ राजधर्म? 2002' शीर्षक से प्रकाशित 18 वें चैप्टर में चौधरी ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री के आदेश के बावजूद मोदी (इन पांच कारणों से लगातार जीत पाए मोदी)ने तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को शाह आलम रिलीफ कैंप में जाने की अनुमति नहीं दी थी और न ही वे खुद वहां गए थे। चौधरी ने यह दावा भी किया है कि गुजरात के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री अशोक भट्ट ने यह धमकी भी दी थी कि अगर केंद्रीय मंत्री शाह आलम रिलीफ कैंप में जाने की जिद करेंगे तो वह चलती हुई कार से कूद जाएंगे। (पढ़ें- अहंकारी लेकिन ईमानदार हैं मोदी)
आगे की स्लाइड में देखिए चौधरी की किताब के मुताबिक समीक्षा बैठक में मोदी और वाजपेयी के बीच क्या हुआ था?
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
DBPL T20
Web Title: Retired IAS’s memoir questions Narendra Modi’s role in Gujarat riots
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From National

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top