Home »National »Latest News »National » Swami Agnivesh

स्‍वामी अग्निवेश का दावा, अन्‍ना को मारना चाहते थे अरविंद केजरीवाल

dainikbhaskar.com | Feb 19, 2013, 13:53 PM IST

नई दिल्ली।स्वामी अग्निवेश के खुलासे को अन्ना हजारे ने कोरी बकवास करार दिया है। दिल्ली आए अन्ना हजारे ने दैनिकभास्कर डॉट कॉम से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा है कि अरविंद के बारे में जो कहा जा रहा है वह ठीक नहीं है। लोग सनसनीखेज बातें करने के लिए ऐसा कह रहे हैं। जो लोग इतनी बड़ी बात कह रहे हैं उन्हें हवा में बातें करने के बजाए ठोस सबूतों के साथ ऐसी बातें करनी चाहिए।

अन्ना ने कहा कि अरविंद केजरीवाल भी पक्ष और पार्टी के रास्ते पर चले गए। मैं ऐसे भारत का सपना देखता हूं जिसमें पक्ष और पार्टी न हो बल्कि आदर्श लोग संसद के लिए चुने जाएं। यदि अरविंद ने पार्टी न बनाई होती तो वह मेरी नजर में एक आदर्श उम्मीदवार होते।
अन्ना हजारे ने यह भी कहा कि उन्हें लगता नहीं कि सरकार सशक्त लोकपाल बिल पारित करेगी। अन्ना बुधवार को उत्तर प्रदेश के उन्नाव में चुनावी सभा करेंगे।
अन्ना हजारे ने यह भी कहा कि मुझे जान जाने की परवाह नहीं है। यदि यह सरकार लोकपाल बिल नहीं लाई तो मैं अगली सरकार के कार्यकाल में भी मजबूत लोकपाल के लिए आमरण अनशन पर बैठूंगा।
वहीं अरविंद केजरीवाल ने भी दैनिक भास्कर डॉट कॉम से बातचीत में कहा कि कुछ लोग सिर्फ सनसनी के लिए कुछ भी कह दे रहे हैं। अन्ना हजारे की जान से खेलने के बारे में सोचना ही पाप है। अन्ना की एक जान पर मेरे सौ जीवन कुर्बान है। मेरी राजनीतिक पार्टी भी एक आंदोलन ही है। बस हमने चुनावों का रास्ता चुना है।
केजरीवाल ने कहा, 'कोई इस बात कल्पना कैसे कर सकता है कि मैं अन्ना को मारना चाहता था। क्या इस देश में कोई भी किसी भी प्रकार के आरोप लगा सकता है? अगर आरोप लगाए हैं तो इसके सबूत कहां हैं? हम जब आरोप लगाते हैं तो उसके समर्थन में सबूत पेश करते हैं। क्या अग्निवेश ने मेरे बयान के संबंध में कोई सबूत पेश किया? यह पूरी तरह से बेबुनियाद और बेतुका आरोप है।'

केजरीवाल यहीं तक नहीं रुके, उन्‍होंने कहा, 'अगर मान लिया जाए कि मैंने ऐसा कहा था तो अग्निवेश दो साल से चुप क्यों थे? अगर मैंने ऐसा बयान दिया था तो उन्हें पहले ही मीडिया के सामने आकर बताना चाहिये था कि मेरी नीयत गलत है?' केजरीवाल ने यह भी ट्वीट किया, 'अन्‍ना पर एक नहीं, सौ जिंदगियां कुर्बान।'

अरविंद केजरीवाल के पूर्व सहयोगी स्वामी अग्निवेश के मुताबिक, 'केजरीवाल चाहते थे कि अनशन के दौरान अन्ना हजारे की मौत हो जाए और इसका फायदा आंदोलन को पहुंचे।' यह बात पहले उन्‍होंने एक न्‍यूज चैनल पर कही। केजरीवाल ने इस पर सवाल उठाए और स्‍वामी के बयान को संदेहास्‍पद बताया। लेकिन मंगलवार को दैनिक भास्‍कर डॉट कॉम से बातचीत में स्‍वामी अग्निवेश ने दोहराया कि अरविंद चाहते थे कि अन्‍ना का बलिदान हो जाए, ताकि आंदोलन को मजबूती मिले। स्‍वामी अग्निवेश का दावा है कि अरविंद ने कहा था कि अन्ना का बलिदान आंदोलन के लिए अच्छा रहेगा।

अप्रैल 2011 में जब जंतर-मंतर पर जन लोकपाल आंदोलन शुरू हुआ तो अग्निवेश अन्ना को आमरण अनशन पर बैठाने के खिलाफ थे। अग्निवेश के अनुसार, 'जब मुझे पता चला कि अन्ना आमरण अनशन करने वाले हैं, तो मैंने अरविंद से सवाल किया था कि वह अन्ना जैसे बुजुर्ग को आमरण अनशन पर क्यों बैठा रहे हैं? इस पर अरविंद ने कहा कि उनका बलिदान हो जाता है तो इससे क्रांति होगी। वह मर जाएंगे तो कोई बात नहीं, यह आंदोलन के लिए अच्छा रहेगा।'
FILE PHOTO : केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्‍बल के साथ स्‍वामी अग्निवेश।
19फरवरी की प्रमुख खबरें

20 साल की हिमाचली एनआरआई से शादी करेंगे 40 साल के जॉन अब्राहम

PHOTOS: एयरपोर्ट से दिनदहाड़े लूट लिए 25 अरब के हीरे

पाकिस्‍तान ने सौंपा पोर्ट,अब भारत की छाती पर मूंग दलेगा चीन!

सोने से 40गुना महंगा है उल्कापिंड, 1.21लाख रुपए है एक ग्राम की कीमत

मिलिए शाही खर्च करने वाली हस्तियों से : 37लाख में खाया 1वक्‍त का खाना

रिलायंस को प्रभावशाली कंपनी बनाने में नाकाम हो रहे हैं मुकेश अंबानी

वेश्‍या ने बेटे को बनाया इंजीनियर,समाज के डर से दूर हुई बहू-बेटे से

सचिन वापसी कर विदाई मैच खेलें:ब्लाइंड बैंड

नरेंद्र मोदी के आगे कहीं नहीं ठहरते राहुल गांधी?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Swami agnivesh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Comment Now

    Most Commented

        More From National

          Trending Now

          Top