Home »Punjab »Jalandhar» Gurmehar Kaur Interview At Jalandhar House

निडरता मेरे खून में है, मोदी इंटरनेट पर ट्रोलिंग के खिलाफ सख्त कानून बनाएं: गुरमेहर

प्रवीण पर्व | Mar 08, 2017, 10:50 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

गुरमेहर बोलीं- मेरे वीडियो की एक स्लाइड वायरल की गई। मैंने जो वीडियो में पूरी बात की, उस पर ध्यान नहीं दिया गया।

जालंधर.दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कालेज में विवाद के बाद सोशल मीडिया पर कैम्पेन चलाने वाली गुरमेहर कौर इन दिनों जालंधर में हैं। रोजाना उनके समर्थन में कार्यक्रम हो रहे हैं। इस बीच, माना जा रहा है कि गुरमेहर ने खुद को कैम्पेन से अलग कर लिया। महिला दिवस से एक दिन पहले दैनिक भास्कर ने उनसे खास बातचीत की। गुरमेहर ने बेबाकी से कहा - निडरता मेरे खून में है। मैं डरी नहीं। उन्होंने मांग की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानून को सख्त करें। इंटरनेट पर ट्रोलिंग के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। भास्कर के सवालों का जवाब गुरमेहर ने कुछ इस तरह दिया...
Q- महिला दिवस पर लड़कियों को क्या नहीं करने की सलाह देंगी?
A-वो जो कुछ करना चाहती हैं, उसे खुल कर करें। डरें नहीं। ये आप पर निर्भर है कि घर में बैठना है या बाहर निकलकर कुछ खास करना है। बाउंडेशन में न रहें। पेरेंट्स को चाहिए वह बेटियों की भावना को समझें। पुरुषों को भी ये चीज समझनी चाहिए। सबको पुराने थॉट्स को तोड़ना पड़ेगा।

Q- आप दिल्ली में हैं और मम्मी राजविंदर कौर चंडीगढ़ में तैनात हैं, लड़की होने के नाते दिल्ली में मुश्किल महसूस करती हैं?
A- दिल्ली में हमारे काॅलेज के आसपास माहौल ही ऐसा है कि विभिन्न शहरों की लड़कियां रहती हैं। सभी एक-दूसरे का ख्याल रखती हैं। स्वाभाविक सिस्टरहुड होता है। मम्मी ने मुझे अकेले पाला। उन्हीं से मैंने जीना सीखा है।

Q- आपके पापा मंदीप सिंह देश के लिए शहीद हुए। आपको अगर सेना, राजनीति या सरकारी नौकरी में एक को चुनना पड़े तो किसे चुनेंगी?
A- आपकी दिए गए तीनों आप्शन में मेरी तरजीह सेना है। मेरा सपना है कि मैं लेखन करूं। मेरी अपनी मैगजीन हो।

Q- डीयू कैम्पेन से खुद को क्यों अलग किया? कहीं आप डर तो नहीं गईं? भविष्य में डीयू या समाज के लिए किसी आंदोलन का हिस्सा बनेंगी?
A- मेरा कैम्पेन आज सोसाइटी चला रही है। निडरता मेरे खून में है। मैं डरी नहीं। मैं किसी संगठन के खिलाफ नहीं हूं। मेरा काम शांति के लिए है। मैं हिंसा के खिलाफ हूं। चाहे कोई भी संगठन हो, शांति के लिए मेरी आवाज हमेशा बुलंद रहेगी।

Q- आपने सोशल मीडिया पर कैम्पेन क्यों स्टार्ट किया?
A-मेरी कुछ फ्रेंड्स को धमकी दी गई थी। एक दिन पूर्व की घटनाओं के लिए उन्हें परेशान किया गया। इसीलिए मैंने कैम्पेन शुरू किया।

Q- आपके मुताबिक आप किसी संगठन विशेष से नहीं, बल्कि डीयू में गुंडागर्दी के खिलाफ हैं। क्या आप लेफ्ट विचारधारा का समर्थन करती हैं? क्या आपका आम आदमी पार्टी से कनेक्शन है?
A-मैं स्टूडेंट हूं। मैं पेसिफिस्ट (शांतिवादी) हूं। मैं न लेफ्टिस्ट हूं और न किसी राजनीतिक विचारधारा से संबंध है।

Q- आपके पहले वीडियो के डायरेक्टर सुब्रह्मण्यम की नजदीकियां आम आदमी पार्टी के साथ हैं। इसी के जरिए आपको भी इसी पार्टी के साथ समझा जा रहा है?
A-नहीं। मेरा आम आदमी पार्टी से संबंध नहीं। मैंने पहले ही कहा कि स्टूडेंट हूं। सुब्रह्मण्यम जी का जहां तक सवाल है, जो उन्हें पसंद है, वो उनका ही हक है। आप अखबार में कार्यरत हैं, तो जो आपके बाॅस को पसंद है, ये तय नहीं है कि वो आपको भी पसंद ही हो।
Q- आपके वीडियो को लेकर जो देश में बहस छिड़ी, आप क्या कहना चाहेंगी?
A-आधी नॉलेज हमेशा खतरनाक होती है। पहले पूरी बात जाननी चाहिए। मेरे वीडियो की एक स्लाइड सोशल मीडिया पर वायरल की गई। मैंने जो वीडियो में पूरी बात की, उस पर ध्यान नहीं दिया गया। पिता की शहादत के बाद मैंने जिंदगी के 18 साल में जो कुछ झेला, मैं नहीं चाहती कि दूसरे किसी बच्चे के साथ भी ऐसा हो। मैंने पहले वीडियो में दोनों देशों के बीच शांति की बात की थी। बात ये है कि न युद्ध हो और न ही किसी से उनके पिता छिनें। आप सभी स्लाइड एक साथ देखें। सब क्लियर हो जाएगा।
Q- देश में भाजपा सरकार है, जिसका संगठन एबीवीपी है। महिला दिवस पर मोदी जी से कुछ कहना चाहेंगी?
A-पीएम मोदी जी ऑनलाइन ट्रोलिंग पर सख्त कार्रवाई करें। महिलाओं को सेफ्टी मिले। कानून सख्त किए जाएं। डिजिटल इंडिया की बात हो रही है। महिलाएं समाज में असुरक्षा का स्ट्रेस झेलती हैं, दूसरा इंटरनेट पर दिया जाने वाला स्ट्रेस होता है। सरकार की सख्ती ही इसे रोक सकती है।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Gurmehar Kaur interview at jalandhar house
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Jalandhar

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top