Home »Rajasthan »Shriganganagar » शुभलक्ष्मी योजना का लाभ देने के लिए घर-घर पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी

शुभलक्ष्मी योजना का लाभ देने के लिए घर-घर पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 07:35 AM IST

ढाई साल में 151 लाभांवित, नवंबर माह में 1340 को भुगतान

सीएमएचओडॉ. नरेश बंसल ने बताया कि योजना अप्रेल 2014 में प्रारंभ हुई। जिले में 27 अक्टूबर 2016 तक केवल 151 महिलाओं को ही ऑनलाइन भुगतान हुआ। मिशन निदेशक के निर्देश पर एनएचएम के कार्मिकों डीपीएम विपुल गोयल, डीएनओ कमल गुप्ता, डीएसी रायसिंह सहारण, डीएएम सतीश गुप्ता सीओआईईसी विनोद बिश्रोई के साथ बैठकर रणनीति तैयार की। कार्मिक मैदान में उतरे और ब्लॉक दर ब्लॉक पहुंचे। असर यह हुआ कि नवंबर माह में विभाग ने 1340 खातों में 27 लाख 28 हजार 700 रुपए जमा करवा दिए। यह भुगतान अगस्त 2015 से नवंबर 2015 के बीच जन्मी बालिकाओं का है।

भास्कर संवाददाता|श्रीगंगानगर

बेटियोंको शुभ लक्ष्मी योजना का लाभ देने के लिए जिले के स्वास्थ्य महकमें ने बड़ा प्रयास किया है। विभाग द्वारा माह नवंबर में 73 फीसदी से अधिक बेटियों को योजना से लाभांवित किया है। अप्रेल 2013 में मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना शुरू हुई। लेकिन जिले में योजना ठीक से क्रियान्वित नहीं की जा सकी। बीते दिनों एनएचएम मिशन निदेशक नवीन जैन की वीसी में मिले निर्देश प्रेरणा का असर यह हुआ कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों ने घर-घर जाकर विभाग की ओर से बालिका जन्म पर मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना के तहत दी जाने वाली द्वितीय किश्त पहुंचाई। इससे पहले अक्टूबर तक भुगतान के बराबर था। शेष रहे लाभार्थियों को आगामी 10 दिनों में लाभांवित कर दिया जाएगा।

तीनचरणों में बेटी को मिलते हैं 7300 रुपए: सीओआईईसीविनोद बिश्नोई ने बताया कि प्रदेश में बालिका जन्म को प्रोत्साहित करने एवं मातृ मृत्यु दर कम करने के उद्घेश्य से राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना प्रारंभ की। जिसमें राजकीय एवं अधिस्वीकृत चिकित्सा संस्थानों में संस्थागत प्रसव में बालिका के जन्म होने पर प्रसूता को 2100 रुपए की राशि का चैक दिया जाता है। यह राशि जननी सुरक्षा योजना के अन्तर्गत देय राशि के अतिरिक्त है। इसके बाद बालिका की उम्र एक वर्ष पूर्ण होने और सभी आवश्यक टीके लगवाने पर 2100 रुपए की अतिरिक्त राशि का चैक दिया जाने का प्रावधान है। वहीं बालिका की आयु पांच वर्ष पूर्ण होने और स्कूल में प्रवेश होने की स्थिति में बालिका को 3100 रुपए की राशि देने का प्रावधान है। यानी कुल 7300 रुपए का भुगतान किया जाता है।

भास्कर ख़ास

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: शुभलक्ष्मी योजना का लाभ देने के लिए घर-घर पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Shriganganagar

      Trending Now

      Top