Home »Rajasthan »Jaipur »News» 30 Thousand People Will Be Deprived Of Lease Tech

30 हजार लोग रह जाएंगे हाइटेक पट्टे से वंचित

Bhaskar News | Dec 12, 2012, 04:28 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
जयपुर.जेडीए प्रशासन शहरों के संग अभियान में 30 हजार पट्टे जारी करने जा रहा है, लेकिन लोगों को सालों बाद मिल रहे पट्टे जेडीए की नई योजना के अनुसार नहीं दिए जा रहे। जेडीए में पिछले जून से हाइटेक पट्टे बनाने की योजना चल रही है, लेकिन अभी तक 100 साल चलने वाले आधार कार्ड स्टाइल के पट्टे तैयार नहीं किए गए।
जेडीए अधिकारियों की ढुलमुल नीति के कारण शहर के 30 हजार से ज्यादा लोग हाइटेक पट्टे से वंचित रह जाएंगे, जबकि हाइटेक पट्टे का स्वरूप जून-जुलाई में ही तय हो गया था। जेडीए अधिकारी छह माह में पट्टे से संबंधित सॉफ्टवेयर की खरीद तक नहीं कर पाए।
जेडीए में स्मार्ट पट्टा योजना के तहत डुप्लीकेसी रोकने के लिए हाइटेक पट्टे तैयार करने की योजना बनाई थी। मई-जून में जेडीए के एडिशनल कमिश्नर व सचिव ने दावा किया था कि कुछ ही दिन में जेडीए ऐसे पट्टे जारी करेगा, जो पानी, मिट्टी से खराब नहीं होंगे।
सौ साल तक पड़ा रहने पर भी सड़ेगा या गलेगा नहीं। जेडीए के 99 साल के लिए पट्टे जारी करने के नियम को देखते हुए 100 साल तक चलने वाले पट्टे लाने की पहली बार योजना बनी। जेडीए अधिकारियों ने जून में 15 दिन तक देश की 12 कंपनियों का प्रजेंटेशन देखा।
कंपनियों से जेडीए ने ऐसे पट्टे तैयार कर प्रजेंटेशन देने को कहा कि नकली पट्टा कोई तैयार नहीं कर सके। उस समय पेपर और प्रिंटिंग की सेफ्टी के लिए उच्च मानदंडों वाला पेपर लेकर ऐसा पट्टा तैयार करना तय हुआ, जिसकी कॉपी करते ही फर्जीवाड़ा पकड़ में आ जाए।
नए पट्टे में सौ के नोट की तरह फाइबर लगाने, आईएसआई मार्क जैसा होलोग्राम लगाने की योजना बनी। जेडीए का होलोग्राम अंदर प्रिंट करना था। एक यूनिक कोड नंबर पेपर लगाया जाना है, जिससे पट्टे की कोई कॉपी नहीं कर सके।
माइक्रो लेटरिंग, बार कोडिंग, वाटर मार्क जैसे फीचर्स डालकर पट्टा तैयार करने की योजना बनी, लेकिन जेडीए अधिकारी पांच माह से सॉफ्टवेयर खरीदने में ही उलझा है। दूसरी ओर सरकार ने एक साथ हजारों पट्टे देने के लिए अभियान चला दिया, लेकिन जेडीए अभियान में हाइटेक की जगह वहीं पुराने ढर्रे के कागजी पट्टे बांट रहा है।
'हाइटेक पट्टे तैयार करने की योजना प्रोसेस में है। प्रशासन शहरों के संग अभियान में हाइटेक पट्टे देना संभव नहीं है। अभी जेडीए स्तर पर पट्टे जारी करने के लिए सॉफ्टवेयर खरीदना है।'
-ओपी गुप्ता, एडिशनल कमिश्नर (प्रशासन) जेडीए।
जोन-5 की अजरुन नगर कॉलोनी का शिविर स्थगित
जेडीए की ओर से मंगलवार को पांच जोन में लगाए शिविरों में 343 पट्टे जारी किए गए। इससे जेडीए को 1.17 लाख रुपए की राजस्व प्राप्ति हुई। जेडीए का 12 दिसंबर को जोन पांच की अर्जुन नगर कॉलोनी के लिए पूर्व में निर्धारित शिविर अचानक स्थगित कर दिया गया है। जेडीए अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को जोन पांच के शिविर में 45, जोन 6 के शिविर में 81, जोन 7 के शिविर में 70, जोन 9 के शिविर में 17 तथा जोन 15 के शिविर में 130 पट्टे जारी किए गए।
रिंग रोड के छोटे भूखंडों की लॉटरी आज
जेडीए के जोन 10 में रिंग रोड परियोजना के तीन गांवों के प्रभावित किसानों को आवंटित किए जाने वाले छोटे भूखंडों की बुधवार को लॉटरी निकाली जाएगी। एंपावर्ड कमेटी के निर्देशानुसार गांव लखेसरा, खोरी और भटेसरी के 300, 200, 100, 50, 25 और 12.5 वर्गमीटर के छोटे भूखंडों की लॉटरी सुबह 11.30 बजे से जेडीए के नागरिक सेवा केंद्र में निकाली जाएगी।
किस जोन में कितने पट्टे
मोतीडूंगरी जोन में वार्ड 44 व 45 के लिए शिविर लगा, इसमें 20 लोगों को पट्टे दिए गए। इसी प्रकार विद्याधर नगर जोन में वार्ड 7 व 8 के लोगों की समस्या के लिए शिविर लगाया गया। इसमें स्टेट ग्रांट व कच्ची बस्ती के 98 परिवारों को पट्टा दिया गया, जबकि सांगानेर जोन में लगे वार्ड 32 व 33 के शिविर में 6 पट्टे जारी किए गए।
निगम ने 123 पट्टे बांटे
प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत नगर निगम के तीन जोनों में लगे शिविर में पट्टों के लिए लोगों की भीड़ रही। मंगलवार को मेयर ज्योति खंडेलवाल व सीईओ जगरूपसिंह यादव ने क्षेत्रीय पार्षदों की मौजूदगी में 123 परिवारों को पट्टे बांटे।
अभियान को शुरू हुए एक सप्ताह से ज्यादा समय हो गया। अभियान में सिर्फ पट्टा वितरण किया जा रहा है। इसमें भी निगम कर्मचारियों की कमी आड़े आ रही है। जितने आवेदन प्राप्त हो रहे हैं, उतने पट्टे जारी नहीं हो रहे। हालांकि निगम सीईओ ने उन जोनों में अतिरिक्त स्टाफ लगा दिया, जिनमें कच्ची बस्ती व स्टेट ग्रांट के आवेदकों की संख्या अधिक है।
आज यहां लगेंगे शिविर :
प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत बुधवार को नगर निगम के आमेर जोन के वार्ड 74 का शिविर आमेर रोड नगर निगम कॉलोनी पार्क में लगाया जाएगा। इसी प्रकार मानसरोवर जोन के वार्ड 23 और सिविल लाइन जोन के वार्ड 13 व 14 का शिविर दोनों जोन कार्यालयों में लगेगा। शिविर सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक चलेंगे।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
DBPL T20
Web Title: 30 thousand people will be deprived of lease Tech
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top