Home »Rajasthan »Jaipur »News» Rajasthan Temple Ghost Stories

भूतों का ऐसा खौफ की 20 साल से नहीं गए घर, मंदिर में रहने लगे लोग

जितेंद्र गुप्ता | Mar 15, 2017, 07:33 IST

  • धुरवास बालाजी मंदिर। यहां लोग 20-20 साल से रह रहे हैं।
    धौलपुर.किसी ने मां-बाप को छोड़ दिया तो कोई पत्नी के साथ सब कुछ छोड़कर चला आया। किसी को बहन आकर खर्चा दे जाती है तो कोई गांव में ही बस कर काम करने लगा। कारण है भूत-प्रेत का डर। जी हां आपको यकीन नहीं होगा, लेकिन यह हमारी 21वीं सदी का कड़वा सच है। इसे देखना है तो सैंपऊ से 10 किमी दूर स्थित पार्वती के बीहड़ों में बने धुरवास बालाजी मंदिर में चले जाइए। यहां का नजारा भी काफी चौंकाने वाला है। सुबह-शाम भूत-प्रेत के साए से बचने के लिए पीड़ित जोर-शोर से चीखते-चिल्लाते हुए गुहार लगाते हैं। ये वहीं लोग है जो जिन्होंने भूत-प्रेत के डर से कई वर्षों पहले अपने घर को छोड़ दिया और इस मंदिर में आकर बस गए। कोई 20 तो कोई 8 साल से घर ही नहीं गया है। दिनभर ये लोग मंदिर के परिसर के एक कोने में पड़े रहते है। परिजन भी इन्हें समझाकर हार मान चुके है। इसलिए उन्होंने अब इनसे मिलने आना भी बंद कर दिया। पढ़िए भास्कर रिपोर्ट...

    दतिया के हाकिम से मिलने नहीं आते परिजन, बहन दे जाती है खर्चे के लिए पैसे
    - प्रेतबाधा से परेशान एमपी के दतिया निवासी हाकिम पुत्र गंगा प्रसाद कुशवाह पिछले पांच साल से घर परिवार छोड़कर मंदिर के परिसर में रह रही है। उससे मिलने परिवार से कोई नहीं आता। केवल बड़ी बहन है, जो उससे मिलने के लिए आती है और उसे खर्चे पानी के लिए पैसे दे जाती है।
    - यहां आने के एक वर्ष तक माता-पिता मिलने आते थे। लेकिन पिछले कई वर्ष से बहन के अलावा कोई नहीं आया। हाकिम ने बताया कि पत्नी के साथ मंदिर के नीचे के बरामदे में रहता है।
    आगे की स्लाइड्स में पढ़िए खौफ के ऐसे ही किस्से।
  • धुरवास बालाजी मंदिर परिसर में दिन भर इसी तरह बैठे रहते हैं।
    पत्नी के साथ 8 वर्ष से रह रहे युवक की करंट से हो चुकी मौत
    पत्नी को भूत-प्रेत की बाधा से निजात दिलाने के लिए करीब 8 वर्ष से रह रहे बिरजू की 4 फरवरी को करंट से मौत हो गई थी। बिरजू यूपी के सिकंदरा तहसील के तिल की मढ़ैया का रहने वाला था। उसकी पत्नी नीतू को ऊपरी मंदिर में ऊपरी चक्कर से राहत मिली तो वह घर परिवार छोड़कर करीब 8 वर्ष से यहीं रह रहा था। 4 फरवरी को सुबह ट्रांसफार्मर में फाल्ट से अचानक आग लग गई। बिरजू मोबाइल को निकालने गया तो वह करंट की चपेट में गया था और उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी।
    आगे की स्लाइड में पढ़िएगोरखपुर की मां-बेटी ने मंदिर में गुजार दिए 20 साल।
  • लोग मंदिर के परिसर के एक कोने में पड़े रहते है।(डेमो फोटो)
    गोरखपुर की मां-बेटी ने मंदिर में गुजार दिए 20 साल
    उत्तरप्रदेश के गोरखपुर निवासी पुलिस दीवान की पत्नी पिछले 20 वर्ष से भूत व्याधि से मुक्ति के लिए यहां मंदिर परिसर में रह रही है। मंदिर के नीचे बने बरामदों में रहने वाली लीलावती पांडे ने बताया कि उसके पति यूपी पुलिस में दीवान के पद पर कार्यरत है। नौकरी में समय नहीं मिलने के कारण वह अकेले ही मंदिर में आकर बस गई है। घर में नाना प्रकार के क्लेश और भूत प्रेत के साए के कारण उसका परिवार कलह से जूझ रहा है। बेटी राजकुमारी पांडे भी भूत प्रेत के साए से परेशान बनी हुई है। ऐसे में दोनों मां-बेटी वर्षों से बाबा के दरबार में शरण पाए हुए हैं।
    आगे की स्लाइड में पढ़िए महिला बोली- जब तक ठीक नहीं हो जाती नहीं जाऊंगी
  • प्रेत के डर से कई वर्षों पहले अपने घर को छोड़ दिया और इस मंदिर में आकर बस गए।(डेमो फोटो)
    जब तक ठीक नहीं हो जाती नहीं जाऊंगी: अनीता
    मध्यप्रदेश के मुरैना निवासी अनीता पत्नी सुदामा ने बताया कि ऊपरी साए के कारण उसकी जिंदगी बदतर हो गई थी। कई जगह दिखाया तो कोई फर्क नहीं पड़ा। फिर किसी ने इस स्थान के बारे में बताया तो वह बिना कोई देर किए यहां पहुंच गई। 21वीं सदी में भी इन बातों पर विश्वास करने के सवाल पर वह बोली कि सब अलग-अलग सोच है। उसे मिलने के लिए समय-समय पर पति और ससुराल पक्ष के लोग आते रहते हैं। उसने बताया कि जब तक पूर्ण रूप से वह स्वस्थ नहीं हो जाती तब नहीं जाएगी।
    आगे की स्लाइड में पढ़िए कभी भी गिर जाता है, मुंह से झाग निकलते हैं पर जाना नहीं चाहता भूपसिंह
  • मंदिर को ही जिंदगी मान लेते हैं लोग।( डेमो फोटो)
    कभी भी गिर जाता है, मुंह से झाग निकलते हैं पर जाना नहीं चाहता भूपसिंह
    उत्तरप्रदेश के ही फिरोजाबाद जिले का भूपसिंह रास्ता चलते कभी भी जमीन पर गिर पड़ता था। उसके मुंह से झाग निकल जाते। इस समस्या का उसने नीम-हकीमों और बड़े-बड़े डॉक्टरों से काफी इलाज कराया। लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। अब यहां मंदिर में गया। पिछले आठ साल पहले मंदिर के नीचे बरामदों में बस गया है। उसने ही इसे बची जिंदगी मान लिया है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Rajasthan temple Ghost stories
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top