Home »Rajasthan »Jaipur »News» If The U.S. Does Not Interview Reads Laden 9/11 Tragedy!

अमेरिका अगर पढ़ लेता लादेन का इंटरव्यू तो नहीं होता 9 /11 हादसा!

Bhaskar News | Jan 26, 2013, 02:46 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
जयपुर.अमेरिका खुद को बाकी देशों से अलग एक द्वीप के रूप में देखता है। अक्सर अमेरिकी लोग अपने देश को छोड़कर कहीं और नहीं जाते। 9/11 ने अमेरिका को पूरी तरह से झंझोड़ दिया, क्योंकि पर्ल हार्बर के बाद वो खुद को बाकी देशों का रक्षक समझने लगा था। 9/11 जैसे हादसे इंसानी जिंदगी को पटरी से उतार देते हैं।
ऐसे हादसों में कला और साहित्य एक अलग जिम्मेदारी निभा सकता है। इन हादसों पर छोटी-छोटी कहानियां लिखकर हम लोगों की जिंदगी में कलम के जरिए उतार सकते हैं।
द लिटरेचर ऑफ 9/11 सेशन में होमी भाभा और रेजा असलन के बीच कुछ ऐसी ही बातचीत का दौर शुरू हुआ। रेजा ने बताया कि अमेरिका डायनासोर जैसा है, वो जब खांसता और छींकता है तो दुनिया को हिला देता है, पर वो भी इस आतंकवादी खतरे को भांप नहीं पाया।
अगर अमेरिका 1997 में एक अखबार को दिए ओसामा बिन लादेन के इंटरव्यू को पढ़ लेता तो शायद ये हादसा होता ही नहीं। जब लादेन से पूछा गया कि तुम्हारे गुफाओं में रहने वाले मुट्ठी भर लोग अमेरिका को कैसे हरा पाएंगे, तब उसने कहा कि मैं अमेरिका को हराना नहीं चाहता। मैं तो बस दो जेहादियों को प्लेन उड़ाने के लिए ट्रेनिंग दूंगा और अमेरिका के बड़े-बड़े सपनों को तोड़ दूंगा।
इस आक्रमण से अमेरिका दिवालिया हो जाएगा। 9/11 में ऐसा ही तो हुआ था। इस आक्रमण में तीन हजार डॉलर खर्च हुए पर इस जख्म को भरने में ट्रिलियन डॉलर्स लगाए जा चुके हैं। अमेरिका में इकॉनॉमी के डगमगाने का कारण कहीं न कहीं 9/11 से जुड़ा है।
आगे की स्लाइड्स में देखिए जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के दूसरे दिन की खास झलकियां>>>
आज के सेशंस
10 से 11, बैठक : ए पार बांग्ला ओ पार बांग्ला
टीवी और फिल्म स्क्रिप्ट राइटर और 60 से ज्यादा किताबें लिख चुके बांग्ला एकेडमी अवॉर्ड 2011 से सम्मानित अनिसुल हक और टैगोर पर लिखने वाली राधा चक्रवर्ती टैगोर की चोखेर बाली, गोरा और बॉयहुड डेज का अनुवाद कर चुकी हैं (दैनिक भास्कर भाषा सीरिज)।
10 से 11, दरबार हॉल : द राइटिंग लाइफ
मलयाली लेखक और नेशनल बुक ट्रस्ट के चेयरमैन सेतु माधवन और नाट्य कार और कवि, लोक परंपराओं पर अध्ययन करने वाले चंद्रशेखर कंबार की 27 लिटरेरी अवॉर्ड जीत चुके कवि के सच्चिदानंद से बातचीत (दैनिक भास्कर भाषा सीरीज)।
11:15 से 12:15, बैठक शाह अब्दुल लतीफ
बीबीसी वल्र्ड पोएट्री प्राइज से सम्मानित कवयित्री और अनुवादक अंजू माखीजा और पाकिस्तानी लेखिका फहमिदा रियाज की फेस्टिवल के डायरेक्टर विलियम डेलरिंपल के साथ बातचीत।
2:15 से 3:15, बैठक : आओ गांव चलें
पुस्तक समीक्षक लक्ष्मी शर्मा, ओम थानवी, व्यंग्यकार और नाट्यकार ईश मधु तलवार, रेडियो स्टोरी टेलर नीलेश मिश्रा की दुर्गा प्रसाद अग्रवाल के साथ बातचीत (दैनिक भास्कर भाषा सीरीज)।
2:15 से 3:15, फ्रंट लॉन : लोकगीत, फोक गीत बॉलीवुड की नई संस्कृति
प्रसून जोशी, उर्दू पोयट और क्रिटिक शीन काफ निजाम, स्मिता तिवारी जस्सल की फिल्म क्रिटिक नम्रता जोशी से बातचीत ।
3:30 से 4:30, मुगल टेंट : कॉर्नर ऑफ द डिस्टेंट प्लेइंग फील्ड
क्रिकेटर राहुल द्रविड़, चाइनीज लिटरेचर और जैपनिज सिनेमा पर अध्ययन कर चुके आईयान बुरूमा, क्रिकेट राइटर सुरेश मेनन की जर्नलिस्ट राजदीप सरदेसाई के साथ बातचीत।
3:30 से 4:30, चारबाग : नवरस
भारत सरकार के केन्द्रीय हिंदी संस्थान के वाइस चेयरमैन और हिंदी साहित्यकार अशोक चक्रधर, कवि गीतकार और स्क्रिप्ट राइटर इकराम राजस्थानी, अतुल कनक की व्यंग्यकार और कवि सम्पत सरल से बातचीत (दैनिक भास्कर भाषा सीरीज)।
5 से 6, मुगल टेंट : कश्मीर क्रॉनिकल्स ऑफ एग्जाइल
माओवाद पर लिखने वाली साहित्यकार राहुल पंडिता और सिद्दीक वाहिद की कश्मीर के बारामुला कॉलेज में असिस्टेंट प्रो. और लेखिका आसिया जहूर से बातचीत।
6 से 7, फ्रंट लॉन : सन सैट ऑन एम्पायर
लॉर्ड कर्जन और रूडयार्ड किपलिंग पर बायोग्राफी लिखने के लिए चर्चित डेविड गिलमौेर, इयान बुरूमा, राजा अशोक पर किताब लिखने वाले चाल्र्स एलिन, डिप्लोमेट और लेखक पवन वर्मा, ब्रिटिश हिस्ट्री पर अध्ययन करने वाले क्वासी क्वारतेंग की इकोनॉमिक्स पर लिखने वाले स्वप्न दास गुप्ता के साथ बातचीत।

टीम भास्कर

रिपोर्ट:त्रिभुवन, प्रेरणा साहनी, सर्वेश भट्ट, आलोक खण्डेलवाल, प्रणीता भारद्वाज, यासमीन सिद्दीकी, चंद्रवीर सिंह, सुरेन्द्र बगवाड़ा, विजय सिंह, गार्गी मिश्रा, श्रद्धा जैन
फोटो:योगेन्द्र गुप्ता, मनोज श्रेष्ठ, ताराचंद गरासिया
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: If the U.S. does not interview reads Laden 9/11 tragedy!
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top