Home »Rajasthan »Jodhpur »News» Jnvu Exam Controller Appointment Process Doubtful

राजभवन से आर्डिनेंस एप्रूव करवाए बिना ली परीक्षा, 25 को होंगे इंटरव्यू

मनोज कुमार पुरोहित | Mar 21, 2017, 06:56 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
राजभवन से आर्डिनेंस एप्रूव करवाए बिना ली परीक्षा, 25 को होंगे इंटरव्यू
जोधपुर.जेएनवीयू में शिक्षक भर्ती के बाद अब डिप्टी रजिस्ट्रार एग्जाम कंट्रोलर की नियुक्ति प्रक्रिया संदेह के घेरे में है। इन पदों पर परीक्षा के लंबे समय बाद अब विवि ने आनन-फानन में इंटरव्यू कॉल कर लिए है। इस बार भी मौजूदा कुलसचिव ने दूरी बना रखी है और कुछ भी बताने में असमर्थता जता रहे हैं। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि राजभवन भेजा गया भर्ती का आॅर्डिनेंस एप्रूव होकर आए बिना ही कुलपति ने परीक्षाएं करवा दी, लेकिन परिणाम दो ही पदों के लिए जारी किए।
मामले ने तूल तब पकड़ा जब डीआर पद के जारी परिणामों में सबसे ऊपर एबीवीपी के नेता और विवि में अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ चुके वीरेंद्र सिंह सोढ़ा का नाम सामने आया। इसे देखते हुए विवि ने इंटरव्यू की सूची जारी कर 25 मार्च तिथि भी घोषित कर दी। इसके अगले ही दिन सिंडीकेट की बैठक बुलाई गई है। मामले में कुलसचिव बीएस सांदू का कहना है कि साक्षात्कार की मुझे कोई जानकारी नहीं है।
मेरीओर से कोई पत्र जारी नहीं किया गया। वहीं स्थापना शाखा के असिस्टेंट रजिस्ट्रार एसपी रामदेव ने कहा कि हां, कॉल लेटर मैंने भेजे हैं। इस संबंध में कुलपति प्रो. आरपी सिंह ने लिखित में आदेश दिए हैं।
जेएनवीयू की ओर से 12 नवंबर 2016 को पिछले लंबे समय से रिक्त पड़े 5 अशैक्षणिक पदों की भर्ती परीक्षा का आयोजन किया गया था। इन पदों में परीक्षा नियंत्रक के एक, डिप्टी रजिस्ट्रार के एक और सहायक कुलसचिव के तीन पदों की भर्ती के लिए परीक्षा हुई।
पहले लिखित परीक्षा को सिंडीकेट से पारित नहीं करवाने और फिर ऑर्डिनेंस रोस्टर की वजह से उसे स्थगित करना पड़ा था, लेकिन बाद में पुराने आर्डिनेंस की आड़ में परीक्षाएं करवा दी। परीक्षा नियंत्रक के पद पर 22 में से केवल 5 अभ्यर्थी परीक्षा देने पहुंचे। वहीं डिप्टी रजिस्ट्रार पद पर 118 में से 41 और सहायक कुलसचिव के 986 पंजीकृत अभ्यर्थियों में से 310 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी। परीक्षा में गणित रीजनिंग, सामान्य ज्ञान, हिंदी अंग्रेजी के सवाल पूछे गए। परीक्षा कुल 80 अंक की थी।
वर्तमान चयन प्रक्रिया
1. भर्ती विज्ञापन कार्यवाहक कुलसचिव आबिद खान के नाम से जारी हुआ। जबकि होता कुलसचिव के नाम से है। तत्कालिन कुलसचिव जीएस चारण के अनुसार एड जारी करने के दिन वे छुट्टी पर थे।
2. प्रक्रियासे पहले आर्डिनेंस तैयार कर राजभवन भेजा गया था, लेकिन आज तक भी वह ऑर्डिनेंस एप्रुव होकर नहीं लौटा फिर भी नवंबर में कुलपति प्रो. आरपी सिंह ने लिखित परीक्षाएं करवा दी।
3. वर्तमानकुलसचिव बीएस सांदू पूरी तरह दूर हैं। कुलपति प्रो. आरपी सिंह ने प्रक्रिया पूरी करने को स्थापना शाखा के असिस्टेंट रजिस्ट्रार एसपी रामदेव को अधिकृत कर रखा है। कॉल लेटर भी रामदेव ने ही भेजे।
4. मौजूदाभर्ती प्रक्रिया में साक्षात्कार की तिथि 25 मार्च तय कर अगले दिन ही 26 मार्च को सिंडिकेट की बैठक बुला दी। जिससे हाथों-हाथ नियुक्तियों पर मोहर लग जाए।
2013 शिक्षक भर्ती
- 2013 में भी अलग-अलग चरणों में साक्षात्कार पूरे होने के साथ ही सिंडिकेट बुलाकर नियुक्तियों पर मुहर लगाई गई।
- इस भर्ती के आर्डिनेंस में मनमाफिक बदलाव नहीं हुआ था तो विवि ने राजभवन राज्य सरकार को अंधेरे में रखकर आर्डिनेंस ही बदल दिया था।
- जब भी आदेश जारी करने की बारी आई तब तत्कालीन कुलसचिव निर्मला मीणा भी छुट्टी पर रहीं। वहीं कार्यवाहक कुलसचिव सीएल सोलंकी ने भी दूरी बनाई रखी थी।
- 2013 की भर्ती में भी तत्कालीन वीसी प्रो. बीएस राजपुरोहित ने बड़े अधिकारियों के पीछे हटने पर स्थापना शाखा के सहायक कुलसचिव प्रभुलाल भाटी को अधिकृत कर दिया था।
जानिए, कैसे शिक्षक भर्ती की तर्ज हुआ ‘काम’
हां, यह सही है कि नया आर्डिनेंस एप्रूव होकर नहीं आया है। हमने पुराने आर्डिनेंस के आधार पर ही प्रक्रिया पूरी की है। कहीं पर भी अनियमितता नहीं है। प्रक्रिया मौजूदा रजिस्ट्रार के आने से पहले शुरू हो गई थी, शायद इसलिए उन्होंने हस्ताक्षर नहीं किए हैं।
-प्रो.आरपी सिंह, कुलपति जेएनवीयू
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: jnvu exam controller appointment process doubtful
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top