Home »Rajasthan »Jodhpur »News» Beyond The Limits Of Gothicism: Innocent Little Lips, Nose Father Was Chewing

वहशीपन की सारी हदें पार: मासूम बच्ची होंठ, नाक चबा गया बाप

Bhaskar News | Jan 26, 2013, 00:31 IST

  • बीकानेर.सियाणा गांव में शुक्रवार को एक पिता ने वहशीपन की सारी हदें लांघ दीं। नशे में धुत 36 वर्षीय भादर सिंह ने पहले तो पत्नी से मारपीट की। विरोध करने आई बहन को धमकाया।शोर सुनकर बाहर आई तीन साल की बेटी भंवरी के कमर व हाथ सहित शरीर को कई जगह दांतों से काट खाया।
    इतने पर भी वह नहीं रुका और अपनी पांच माह की दुधमुंही बेटी राधा के होंठ व नाक चबा गया। बच्चियों को बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें देर रात जयपुर रैफर कर दिया गया। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है।
    कोलायत तहसील के इस गांव में यह घटना गुरुवार रात करीब 10 बजे हुई। शराब के नशे में घर पहुंचा भादर सिंह पत्नी संतोष को गालियां देने लगा।
  • शादीशुदा बहन सरोज बीच-बचाव को पहुंची तो उसे धमकाकर पीछे रहने को कहा। इस बीच, पास के कमरे में सो रही भंवरी बाहर आकर रोने लगी तो भादर सिंह ने उसे पकड़ लिया और जगह-जगह से दांतों से काट लिया। उसे वहीं पटक वह पांच माह की राधा पर टूट पड़ा। उसका ऊपर वाला होंठ और नाक चबा लिया।

  • आखिर दरिंदगी पर उतरे पति को रुकता नहीं देख पत्नी और बहन बाहर दौड़ीं और शोर मचाकर पड़ोसियों को बुलाया। लोगों ने मिलकर उसे काबू किया। लोगों ने शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना दी। कोलायत थाना पुलिस ने संतोष की रिपोर्ट पर भादर सिंह को गिरफ्तार कर लिया।
     
  • आधी नाक और ऊपर का होंठ पूरा चबा डाला, डॉक्टरों ने कहा-प्लास्टिक सर्जरी करानी होगी
     
    पीबीएम हॉस्पिटल के सर्जन डॉ. सीताराम गोठवाल ने कहा-ऐसा मामला आज तक देखने में नहीं आया। तीन साल की बच्ची के शरीर पर जगह-जगह घाव हैं। पांच महीने की बच्ची की हालत ज्यादा खराब है। इसके ऊपर का होंठ और आधी नाक पूरी तरह चबा लिए गए हैं। हम इलाज तो कर रहे हैं, लेकिन होंठ व नाक को उसी रूप में लाने के लिए जयपुर में प्लास्टिक सर्जरी कराने की सलाह दे रहे हैं। उधर, सुपरिटेंडेंट डा.सतीश कच्छावा का कहना है ऐसा मामला पहली बार देखा है। कलेक्टर को रिपोर्ट भेजी है।
     
  • बिलबिलाती बेटी, बेबस मां
     
    पांच माह की राधा दर्द से बिलबिला रही है। बेबस मां संतोष उसे गोद में लिए कभी सुबकती है तो कभी बिलख पड़ती है। वह दुधमुंही बेटी को दूध भी पिलाए तो कैसे? ऊपर का होंठ गायब हो गया है। अगर दूध पिलाने की कोशिश करती है तो कटे होंठ से खून रिसने लगता है। 
     
    बच्ची के रुदन और कराह से छाती फट जाती है। तीन साल की राधा डरी हुई मां की गोद में सिमटी हुई है। उसके शरीर से ज्यादा जख्म दिल पर है। पीबीएम हॉस्पिटल की आपातकालीन इकाई में आने वाले डॉक्टर, नर्स, मरीज और उनके परिजनों के मुंह से केवल एक ही शब्द निकलता है ‘दरिंदा बाप’। मदद हर कोई करना चाहता है, लेकिन कैसे और क्या करें समझ में नहीं आता।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Beyond the limits of gothicism: innocent little lips, nose father was chewing
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top