Home »Rajasthan »Kota» Camera In Front Of The Bathroom In The Girls Hostel

गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम के सामने कैमरा, लड़कियों का ये भी है आरोप

bhaskar news | Mar 10, 2017, 07:20 IST

  • आरटीयू हॉस्टल की लड़कियों का आरोप है कि चीफ वार्डन सीडी प्रसाद ने बाथरूम के सामने कैमरे लगवा दिए हैं।
    कोटा (राजस्थान).आरटीयू हॉस्टल की लड़कियों का आरोप है कि चीफ वार्डन सीडी प्रसाद ने बाथरूम के सामने कैमरे लगवा दिए हैं। उनका आरोप है कि कभी-कभी वे अचानक लड़कियों के कमरे में भी आ जाते हैं। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि चीफ वार्डन लड़कियों के कपड़ों को लेकर भी कमेंट करते हैं। होली सेलिब्रेशन के दौरान तोड़ दिया था लैपटॉप...
    - आपको बता दें कि बुधवार की रात भी लड़कियों का आरोप था कि वे होली सेलिब्रेट कर रही थीं।
    - सेलिब्रेशन के दौरान चीफ वार्डन ने लड़कियों का लैपटॉप तोड़ दिया था जिसके बाद उन्होंने सड़क पर बैठ हंगामा किया था।
    - बुधवार की रात के बाद गुरुवार की सुबह भी लड़कियों ने चीफ वार्डन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और हंगामा किया।
    - उधर, लड़कियों के हंगामे की धमक जयपुर तक पहुंच गई, लेकिन यूनिवर्सिटी वीसी प्रो. एनपी कौशिक ने आरोपी के खिलाफ जांच जरूरी नहीं समझा।
    - लड़कियों का कहना है कि प्रसाद ने गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम के सामने कैमरा लगवा दिया है।
    - उन्होंने कहा कि वक्त-बेवक्त कभी भी जांच के नाम पर छात्राओं के कमरे में आ जाते हैं। छात्राओं के कपड़ों पर भी टिप्पणी करते हैं।
    मंत्री ने कही ये बात
    - उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी और राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने मामले को गंभीर मानते हुए जांच की बात कही है।
    - किरण माहेश्वरी ने बाथरूम के बाहर कैमरे लगाने को गलत बताते हुए शुक्रवार को वीसी से रिपोर्ट मांगी है। वहीं, सुमन शर्मा ने भी वीसी से रिपोर्ट मांगी है।
    - उन्होंने कहा कि गर्ल्स वॉश रूम के बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाना गलत है। शुक्रवार को टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वीसी से बात की जाएगी।
    - उधर, आरटीयू के वीसी एनपी कौशिक ने कहा कि वार्डन काउंसिल की मीटिंग बुलाई है। वार्डन काउंसिल में चीफ वार्डन का हस्तक्षेप नहीं रहेगा।
    - किसी को हटा देने से समस्या का समाधान नहीं होगा। मुख्य जिम्मेदारी छात्राओं के समस्याओं के समाधान की है। इस पर कमेटी बना दी है। कैमरों को बंद कर करवा दिया है।
    - इधर, प्रो. कौशिक ने प्रो. लता गिडवानी को डिप्टी चीफ वार्डन की जिम्मेदारी सौंपी है।
    - जांच के लिए चार महिला फैकल्टी की कमेटी बनाई है, लेकिन इन्हें चीफ वार्डन के व्यवहार की जांच करने की बजाय हॉस्टल की व्यवस्थाओं की जांच करने को कहा है।
    - चीफ वार्डन के पद पर अभी भी प्रसाद ही रहेंगे। भास्कर ने चीफ वार्डन से उनका पक्ष जानने की कोशिश की तो उन्होंने साफ मना कर दिया।
    बाथरूम के गेट की तरफ लगा कैमरा
    - बुधवार को छात्राएं न्यू हॉस्टल में होली सेलिब्रेशन कर रही थीं। इसी दौरान चीफ वार्डन प्रसाद पहुंचे और कार्यक्रम बंद करवा दिया।
    - उन्होंने एक छात्रा का लैपटॉप भी तोड़ दिया। छात्राओं के कपड़ों पर भी टिप्पणी की। वहीं, हॉस्टल में एंट्री के ठीक सामने कैमरा लगा है।
    - इसके एंट्रेंस पर ही गर्ल्स का वॉशरूम भी है। वॉशरूम से निकलने वाली गर्ल्स की फोटो सीसीटीवी में कैप्चर हो जाती है।
    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें लड़कियों ने कहा- धमका कर आंदोलन खत्म करवाने की कोशिश...
  • उनका आरोप है कि कभी-कभी वे अचानक लड़कियों के कमरे में भी आ जाते हैं।
    गुरुवार सुबह भी धरने पर बैठी छात्राएं, धमका कर आंदोलन खत्म करवाने की कोशिश
    - बुधवार रात प्रदर्शन के बाद गुरुवार सुबह ही छात्राएं यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर आकर बैठ गईं और चीफ वार्डन के विरोध में नारेबाजी करने लगीं।
    - इस दौरान फैकल्टी अनंत बलाल छात्राओं से गलत तरीके से पेश आए। वे उन पर गुस्सा करने लगे और बोले-बैठे रहो जब तक बैठना है।
    - बलाल ने मीडियाकर्मियों से भी धमकी भरे लहजे में कहा- तुम चले जाओ तो 15 मिनट में आंदोलन खत्म करवा दूंगा।
    - वे महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष रचना राठौड़ से भी उलझ गए। इसी रवैये की वजह से बलाल पहले भी सस्पेंड रह चुके हैं।
    महिला आयोग ने कलेक्टर से ली जानकारी
    - राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने इस संबंध में कलेक्टर से बात करके वस्तुस्थिति जानी।
    - मामले की रिपोर्ट आरटीयू से मांगी गई है। उन्होंने कहा कि आरटीयू की रिपोर्ट पर संदेह होगा तो छात्राओं से भी बात की जाएगी।
    - उन्होंने माना कि आधी रात तक लड़कियों का इस मामले को लेकर सड़कों पर आना गंभीर विषय है। कोई बात होगी तभी छात्राओं ने ऐसा कदम उठाया है।
    इन पर है जांच की जिम्मेदारी
    - मामले की जांच के लिए वीसी प्रो.. कौशिक ने चार सदस्यों की कमेटी बनाई है।
    - इसमें अन्नापूर्णा भार्गव, मनीषा भंडारी, राजश्री तापड़िया और मनीषा व्यास शामिल हैं।
    - इनको 16 मार्च तक अपनी रिपोर्ट वीसी प्रो. कौशिक को सौंपनी होगी।
    आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...
  • उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि चीफ वार्डन लड़कियों के कपड़ों को लेकर भी कमेंट करते हैं।
    गुरुवार सुबह भी धरने पर बैठी छात्राएं, धमका कर आंदोलन खत्म करवाने की कोशिश
    - बुधवार रात प्रदर्शन के बाद गुरुवार सुबह ही छात्राएं यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर आकर बैठ गईं और चीफ वार्डन के विरोध में नारेबाजी करने लगीं।
    - इस दौरान फैकल्टी अनंत बलाल छात्राओं से गलत तरीके से पेश आए। वे उन पर गुस्सा करने लगे और बोले-बैठे रहो जब तक बैठना है।
    - बलाल ने मीडियाकर्मियों से भी धमकी भरे लहजे में कहा- तुम चले जाओ तो 15 मिनट में आंदोलन खत्म करवा दूंगा।
    - वे महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष रचना राठौड़ से भी उलझ गए। इसी रवैये की वजह से बलाल पहले भी सस्पेंड रह चुके हैं।
    महिला आयोग ने कलेक्टर से ली जानकारी
    - राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने इस संबंध में कलेक्टर से बात करके वस्तुस्थिति जानी।
    - मामले की रिपोर्ट आरटीयू से मांगी गई है। उन्होंने कहा कि आरटीयू की रिपोर्ट पर संदेह होगा तो छात्राओं से भी बात की जाएगी।
    - उन्होंने माना कि आधी रात तक लड़कियों का इस मामले को लेकर सड़कों पर आना गंभीर विषय है। कोई बात होगी तभी छात्राओं ने ऐसा कदम उठाया है।
    इन पर है जांच की जिम्मेदारी
    - मामले की जांच के लिए वीसी प्रो.. कौशिक ने चार सदस्यों की कमेटी बनाई है।
    - इसमें अन्नापूर्णा भार्गव, मनीषा भंडारी, राजश्री तापड़िया और मनीषा व्यास शामिल हैं।
    - इनको 16 मार्च तक अपनी रिपोर्ट वीसी प्रो. कौशिक को सौंपनी होगी।
    आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...
  • उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी और राज्य महिला आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने मामले को गंभीर मानते हुए जांच की बात कही है।
  • किरण माहेश्वरी ने बाथरूम के बाहर कैमरे लगाने को गलत बताते हुए शुक्रवार को वीसी से रिपोर्ट मांगी है।
  • उन्होंने कहा कि गर्ल्स वॉश रूम के बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाना गलत है।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: camera in front of the bathroom in the girls hostel
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Kota

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top