Home »Rajasthan »Kota» Shobha Yatra On Mahavir Jayanti

महावीर जयंती पर 4.5 किमी की दूरी तय की, 2.25 किमी लंबी थी शोभायात्रा

Bhaskar News | Apr 10, 2017, 07:07 IST

  • कोटा.जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी, को वर्तमान शासन नायक कहा जाता है, क्योंकि ये युग उन्हीं के शासनकाल में चल रहा है। भगवान महावीर का अनेकांत का सिद्धांत वैचारिक संयम का सिद्धांत है। हम अमीर भी हैं और गरीब भी। हम सुखी भी हैं और दुखी भी। यह केवल देखने का नजरिया है। अनेकांत का सिद्धांत इसी नजरिए को बताता है। महावीर का धर्म वैज्ञानिक है। उनका धर्म सिद्धांत वैज्ञानिकता की तरह सरल है।
    सिद्धांत सदा काल और क्षेत्र की सीमाओं से परे होता है। जो बदल जाए वह धर्म नहीं होता है। धर्म जीने का तरीका हो, सिर्फ बोलने का नहीं। विश्व एवं पर्यावरण की संरक्षा के लिए भगवान महावीर के अमर संदेश जियो और जीने दो की आवश्यकता है। इसमें जीव स्वयं भी आनंद से जीवन यापन करें साथ ही दूसरे के प्रति भी सद‌्‌भाव एवं परोपकार भाव के साथ आगे बढ़ें। सत्य, अहिंसा, अचौर्य, अपरिग्रह और ब्रह्मचर्य भगवान महावीर स्वामी के 5 सिद्धांत हैं।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Shobha Yatra on Mahavir Jayanti
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Kota

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top