Home »Rajasthan »Hanumangarh Zila »Bhadra » मोबाइल एप के जरिए मोस्टवांटेड अपराधियों पर नजर रखेगी पुलिस

मोबाइल एप के जरिए मोस्टवांटेड अपराधियों पर नजर रखेगी पुलिस

Bhaskar News | Dec 02, 2016, 13:45 PM IST

मोबाइल एप के जरिए मोस्टवांटेड अपराधियों पर नजर रखेगी पुलिस
हिसार. अपराधकर दूसरे राज्यों में शरण लेने वाले मोस्टवांटेड और फरार अपराधियों पर मोबाइल एप के माध्यम से पुलिस अधिकारी नजर रखेंगे। इस एप के माध्यम से अपराधियों की संख्या का भी आंकलन हो सकेगा। ऐसा एप तैयार करने के लिए राज्यों की पुलिस तैयारी कर रही है। कोऑर्डिनेशन मीटिंग एक दूसरे को मोस्टवांटेड अपराधियों का डेटा सौंपा गया।
कोऑर्डिनेशन मीटिंग में हिसार रेंज से लगते राजस्थान पंजाब प्रदेश के सीमावर्ती जिलों के पुलिस अधिकारियों के साथ अपराध और अपराधियों पर अंकुश के लिए समन्वय से काम करने पर भी सहमति बन गई। गुरुवार को जी” मैस में आयोजित मीटिंग की अध्यक्षता हिसार रेंज के आईजी ” पी सिंह ने की। मीटिंग में आपसी समन्वय स्थापित करने आंतरिक सुरक्षा विषय पर गहनता से मंथन किया गया।
आईजी”पी सिंह ने कहा कि जब कोई अपराध किसी थाना क्षेत्र में होता है तो उस अपराध के नियंत्रण धरपकड़ में दूसरे थाना प्रभारी इतना ज्यादा मुस्तैदी नहीं दिखाते। दूसरे जिले के थाना प्रभारी और भी कम दिलचस्पी दिखाते हैं तथा दूसरे राज्य की पुलिस तो बहुत कम दिलचस्पी लेती है। इसका फायदा अपराधी उठाते हैं और गिरफ्त से बच निकलते हैं।
उन्होंने कहा कि पुलिस हमारी कम्युनिटी हैं, उसमें जिला राज्य की कोई बाध्यता नहीं हो सकती। बशर्ते आपका समन्वय समय पर सूचना का आदान-प्रदान सही हो। इस समस्या के निदान के लिए उन्होंने हिसार रेंज पुलिस को एक यूनिट के रूप में गठित किया है। हिसार रेंज में जिलों की सीमा�”ं की कोई बाध्यता नहीं है। इसी प्रकार अब सीमावर्ती राज्यों के साथ लगते जिलों में भी ऐसी व्यवस्था बनाने की जरूरत पर बल दिया।
अपराध हिसार रेंज के किसी कोने में अगर वारदात घटित होती है तो हिसार रेंज पुलिस की तरह ही सभी सीमावर्ती जिलों की पुलिस भी सजगता से काम करें। वहीं बीकानेर रेंज के आईजी विपिन कुमार पाण्डे ने भी अपने सुझाव रखे उन्होंने सीमावर्ती राज्य के थाना प्रभारी इलाका अधिकारी पुलिस अधीक्षकों के आपसी परिचय, परस्पर संवाद सूचना�”ं के आदान-प्रदान की जरूरत पर बल दिया। पुलिस अधीक्षकों ने भी अपने सुझाव प्रस्तुत किए।

इन बिंदु�”ं पर हुई चर्चा: 1-सीमावर्ती जिला क्षेत्र में बढ़ते अपराधों के प्रकार कारणों पर मंथन किया।

2-वारदात करने के बाद अपराधियों द्वारा दूसरे राज्य के जिलों में बनाई गई शरण स्थली।

3-गतवर्ष आपसी समन्वय सहयोग के साथ अपराधियों की धरपकड़ में चलाए गए अभियान मिली सफलता पर चर्चा।
पुलिस में तालमेल की कमी का फायदा उठाते अपराधी
हुंचे
हिसार जीओ मैस में हरियाणा, पंजाब, राजस्थान के पुलिस अफसरों ने बार्डर के आसपास होने वाले अपराधों और अपराधियों पर अंकुश के लिए किया मंथन
को-ऑर्डिनेशन मीटिंग में ये पुलिस अफसर पहुंचे
आईजी बीकानेर रेंज विपिन कुमार पाण्डे, जिला झुंझनू के एसपी सुरेंद्र कुमार गुप्ता, हनुमानगढ़ के एसपी भुवन भूषण, एसपी चूरु राहुल, एएसपी भादरा नरेंद्र सिंह मीणा, एसएच�” चुरु अनिल बिश्नोई, मानसा के एसपी नरेंद्र पाल सिंह, एएसपी मानसा भरत राज, एएसपी संगरूर बुलंद सिंह, बठिंडा के एएसपी राजपाल सिंह, पटियाला के डीएसपी सतपाल शर्मा डीएसपी, राजपुरा सीआईए प्रभारी गुरूचरण सिंह, संगरिया थाना प्रभारी मोहर सिंह पूनिया सहित हिसार रेंज के पांचों जिलों के एसपी, एसपी सिरसा सतेंद्र कुमार गुप्ता, एसपी जींद शशांक आनन्द, एसपी फतेहाबाद ”पी नरवाल, एसपी भिवानी अशोक कुमार, एसपी हिसार राजेंद्र कुमार मीणा सहित रेंज के अनेक डीएसपी, थाना, सीआईए प्रभारियों ने हिस्सा लिया।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: मोबाइल एप के जरिए मोस्टवांटेड अपराधियों पर नजर रखेगी पुलिस
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Bhadra

        Trending Now

        Top