Home »Rajasthan »Jaisalmer Zila »Pokran » नौकरी का झांसा देने वाले गिरोह के दो आरोपी गिरफ्तार

नौकरी का झांसा देने वाले गिरोह के दो आरोपी गिरफ्तार

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 06:35 AM IST

मैंइकबाल पीएचईडी मंत्री किरण माहेश्वरी का पीए बोल रहा हूं। मुझे 16 युवकों के नाम भेजो जिन्हें नौकरी लगाना है। यह फोन पंचायत समिति सांकड़ा के प्रधान अमतुल्ला मेहर को आया। प्रधान ने सीधे ही एसपी गौरव यादव को इसकी सूचना दी।

एसपी ने इसे गंभीरता से लिया और बात को लीक नहीं करते हुए पुलिस की एक टीम बनाई जो इस गिरोह के मुताबिक नौकरी के लिए कांटेक्ट में रहे। आखिर में जब पुलिस की टीम के सदस्यों के पास एक आरोपी पैसे लेने पहुंचा तो पुलिस ने उसे धरदबोचा और गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए मुख्य आरोपी को भी पकड़ लिया।

यह गिरोह पूर्व में बीकानेर, छतरगढ़, फलोदी, सूरतगढ़, भरतपुर सहित कई जिलों में करीब 200 लोगों के साथ लाखों रुपए की ठगी कर चुके हैं। अब सर्वाधिक ठगी छतरगढ़ में 8 लाख रुपए की है।

इस मामले में एसपी गौरव यादव ने उपअधीक्षक पोकरण नानकसिंह के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की थी। जिसमें थानाधिकारी प्रमोद पाण्डे, उनि अमरसिंह, पदमाराम, सउनि खुशालचंद, कांस्टेबल नारायणसिंह, सवाईसिंह, मोहन पालीवाल, जगदीशदान, दिनेश चारण मुकेश बीरा शामिल थे।

परिवहन विभाग का निरीक्षक भी शामिल

इसमामले में पकड़ा गया दूसरा आरोपी भंवरलाल चौधरी परिवहन निरीक्षक है। जैसलमेर में नरेश ने जो ठगी करने का प्रयास किया उसमें परिवहन निरीक्षक चौधरी ने पैसे लेने का काम किया था। इसने जैसे ही पैसे लिए पुलिस ने इसे पकड़ लिया। बाद में पुलिस मुख्य आरोपी नरेश उर्फ नरेन्द्र उर्फ इकबाल तक भी पहुंच गई।

यह है पूरा मामला

एसपीगौरव यादव ने बताया कि प्रधान अमतुल्ला की सूचना पर पुलिस ने गंभीरता से इस मामले को लिया। पुलिस की टीम ने सजगता से कार्य करते हुए आरोपियों को धरदबोचा। नरेश उर्फ नरेन्द्रपाल उर्फ इकबाल निवासी बामणू फलोदी भंवरलाल चौधरी निवासी पीपाड़ सिटी अभी तक इस मामले में गिरफ्तार हुए। ये लोग नौकरी का झांसा देने के साथ साथ ट्रांसफर पोस्टिंग के नाम पर भी लोगों से ठगी करते थे। इस मामले में पकड़ा गया नरेश कभी किसी मंत्री का पीए बनकर तो कभी सीनियर आरएएस अफसर बनकर लोगों को फोन करता था। इतना ही नहीं ट्रांसफर पोस्टिंग के मामले में तो वह अधिकारियों को धमकी भी देता था। वहीं अन्य जिलों में इसने ट्रांसफर पोस्टिंग के लिए अपने आप को सीनियर आरएएस अफसर भी बताया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: नौकरी का झांसा देने वाले गिरोह के दो आरोपी गिरफ्तार
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Pokran

      Trending Now

      Top