Home »Rajasthan »Bhilwara Zila »Pratapgarh » जन धन खातों में जमा हुआ सेठों का धन

जन धन खातों में जमा हुआ सेठों का धन

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 06:35 AM IST

जन धन खातों में जमा हुआ सेठों का धन
जिले के 23 बैंकों की 60 शाखाओं में दिखा कैश क्राइसिस का असर, 65 में से 8 एटीएम ही चले

एसबीबीजे बैंक में विशेष काउंटर लगाकर पेंशनरों को दिए पैसे

िदन

23 वां

भास्कर रिपोर्ट

नोटबंदीके 23वें दिन बाद गुरुवार को बैंक-एटीएम बूथों पर कतारें कम हो गई, कारण कि अधिकांश बैंक शाखाओं में करंसी क्राइसिस रहा, जिसके कारण ग्राहकों की मांग के अनुरूप भुगतान नहीं हुआ। लोग एटीएम के चक्कर लगाते रहे, लेकिन शहर के तीन एटीएम ने दोपहर तक रुपए दिए। उसके बाद वहां भी रकम खत्म हो गई। शुक्रवार से कतारें लंबी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। कारण की जिले में 1 से लेकर 10 तक सरकारी कर्मचारियों वेतन, पेंशनधारियों पेंशन जमा होती है, जिसके विड्राल को लेकर कतारे लंबी रहने की उम्मीद है। कर्मचारियों में तनख्वाह को लेकर कई तरह की अटकलें चल रही हैं। वहीं नोट निकालने की लिमिट के कारण एक साथ पूरा वेतन निकाल भी नहीं सकते, दफ्तर से रोज-रोज छुट्टी लेकर लाइन में भी नहीं लग सकते। जबकि, सबका हिसाब, बच्चों की फीस भरनी है। बुजुर्ग पेंशनर्स गुरुवार को बैंकों में लगने वाली कतार के चलते बैंक नहीं पहुंचे। हालांकि एसबीबीजे बैंक जहां पेंशनर्स के 2 हजार से ज्यादा खाते हैं। वहां पेंशनर्स के लिए अलग काउंटर और कुर्सियां लगाई हुई है। शुक्रवार कर्मचारियों की भी लाइनें बढ़ने की संभावना है। जिले में 3 करोड़ रुपए वृद्धा पेंशन, तीन करोड़ पेंशनधारी कर्मचारी, 4 करोड़ रुपए प्रतापगढ़ उपखंड के कर्मचारियों की सैलरी बैक में जमा हुई है। प्रतापगढ़ उपखंड में ही करीब 1802 कर्मचारी है। इसके अलावा छोटीसादड़ी, धरियावद, अरनोद उपखंड मिलाकर साढ़े तीन हजार कर्मचारी है। इन सबकी सेलेरी बैंकों में ऑन लाइन जमा होती है।

बैंकों में रही कम भीड़, एटीएम से निकले सिर्फ दो हजार

जिलेमें 23 बैंको की 60 शाखाओं में गुरुवार को करंसी क्राइसिस का असर दिखा। अधिकांश शाखाओं में भीड़ कम रही। शहर की एसबीबीजे, बैंक ऑफ बड़ौदा, एसबीआई, पीएनबी शाखाओं में ओर दिनों की अपेक्षा शुक्रवार को भीड़ कम रही। शहर के 25 एटीएम में से चार एटीएम ही चले बाकी एटीएम बंद रहे। वहीं जिले के 65 में 8 एटीएम ने ही रुपए दिए। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को आए साढ़े तीन करोड़ से जिले की साठ शाखाओं में भुगतान किया जा रहा था। वह गुरुवार को खत्म हो गया। हालांकि एसबीबीजे, एसबीआई बैंक ने ग्राहकों को भुगतान किया लेकिन राजस्थान ग्रामीण बड़ौदा बैंक की अधिकांश शाखाओं में रुपए जमा करने का काम ही हुआ।

प्रतापगढ़। एटीएम से निकाले गए दो हजार की नोट दिखाता ग्रामीण।

धरियावद | नगरके स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर शाखा प्रबंधक नरेंद्र पंड्या ने बताया कि बैंक परिसर में पेंशनर समाज के प्रतिनिधियों को विशेष सुविधा देते हुए गुरुवार को पहले आओ हाथों-हाथ पाओ की तर्ज पर अतिरिक्त कैश काउंटर लगाकर भुगतान किया गया। पेंशनर समाज के तहसील अध्यक्ष रामचंद्र पालीवाल, उनकी कार्यकारिणी ने पेंशनर समाज के कई वृद्ध महिला-पुरुषों को पेंशन भुगतान के लिए अलग से काउंटर खुलवाया गया, जिसकी पेंशनरों को पहले से सूचना करवा दी गई थी, जिससे दिनभर पेंशन आते रहे और 10-15 मिनट में भुगतान मिल गया। अन्य काउंटरों पर रोजमर्रा की तरह लंबी कतार रही।

बीओबी, आईसीआईसीआई बैंकों में उपभोक्ताओं की कतारें रही।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: जन धन खातों में जमा हुआ सेठों का धन
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Pratapgarh

      Trending Now

      Top