Home »Rajasthan »Rajsamand » चाय में जहर मिलाकर पति की हत्या करने की आरोपी महिला गिरफ्तार

चाय में जहर मिलाकर पति की हत्या करने की आरोपी महिला गिरफ्तार

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 06:40 AM IST

राजसमंद | कांकरोलीथाना क्षेत्र कोयड़ में एक वर्ष पहले प|ी ने ही पति को चाय में कीटनाशक दवा पिलाकर हत्या कर दी थी। वह कोयड़ स्थित मकान को बेचकर पति को उदयपुर ले जाना चाह रही थी। पति ने इनकार कर दिया तो यह वारदात की। पुलिस ने आरोपी प|ी को गुरुवार सुबह गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया।

थानाधिकारी लक्ष्मण राम विश्रोई ने बताया कि कोयड़ निवासी चंद्रकला (43) प|ी शंकरलाल सुथार को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया। एसआई मानसिंह ने बताया कि उदयपुर में नाइयों की तलाई निवासी चंद्रकला का नाता विवाह 10 वर्ष पूर्व कुरज निवासी शंकरलाल सुथार के साथ हुआ। शंकरलाल ने कुरज से कांकरोली स्थित कोयड़ में प्लाॅट खरीदकर मकान बनाकर रहने लगा। चंद्रकला ने अपने पति शंकरलाल पर कोयड़ स्थित मकान को बेचकर उदयपुर जाने का दबाव बनाया। शंकरलाल के नहीं मानने पर चंद्रकला ने 8 नवंबर 2015 की शाम 4 बजे चाय के साथ कीटनाशक दवा पिला दी। उसके बाद टीवी की तेज आवाज करने के बाद घर को बंद कर पड़ोसी के यहां चली गई। रात 10 बजे वापस घर पहुंची तो शंकरलाल तड़प रहा था। इस पर चंद्रकला ने आवाज लगाई तो पड़ोसी दौड़कर आए और आरके अस्पताल ले गए। शंकरलाल की हालत गंभीर होने पर उसे उदयपुर रेफर कर दिया। जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस उदयपुर पहुंची तो पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। पीएम करते समय चिकित्सक ने सुझबूझ रखते हुए शरीर से विसरा निकालकर जयपुर एफएसएल लेब में भेज दिए। जयपुर से प्राप्त रिपोर्ट में शंकरलाल की मौत जहरीली दवा पिलाने से होना सामने आया। रिपोर्ट पर चंद्रकला से पूछताछ की गई तो पति शंकरलाल की हत्या करना कबूल किया।

सामान्यमौत में किया था मामला दर्ज : शहरके पास कोयड़ में 8 नवंबर 2015 को रतनलाल पुत्र देवकिशन सुथार ने मामला दर्ज कराया कि उसका भाई शंकरलाल पुत्र देवकिशन सुथार की बीमारी हालात में उदयपुर में उपचार के दौरान मौत हो गई। रिपोर्ट पर कांकरोली पुलिस ने मृग दर्जकर इतिश्री कर ली थी।

जांच अधिकारी एएसआई मोहन सिंह ने बताया कि एक माह पूर्व जयपुर से एफएसएल रिपोर्ट प्राप्त हुई। जहर की बात सामने आने पर दो पहलूओं पर अनुसंधान शुरू किया। जिसमें स्वयं कीटनाशक पीना सिद्ध नहीं होने पर परिजनों से पूछताछ की। कड़ी पूछताछ में प|ी चंद्रकला ने सच्चाई उगल दी। इस पर 29 नवंबर को एएसआई की जांच रिपोर्ट पर चंद्रकला के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया। चंद्रकला ने दस साल पूर्व नाता विवाह किया था। उसके दो बच्चे हुए। चंद्रकला शंकरलाल की मौत के बाद 14 लाख रुपए में कोयड़ स्थित मकान को बेच कर उदयपुर में कालकामाता रोड पर मकान गिरवी लेकर रह रही थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: चाय में जहर मिलाकर पति की हत्या करने की आरोपी महिला गिरफ्तार
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Rajsamand

      Trending Now

      Top