Home »Rajasthan »Churu Zila »Sadulpur » पहली तारीख को 500 कर्मचारी-पेंशनरों को मिली सैलेरी, बैंकों के सामने कतारें

पहली तारीख को 500 कर्मचारी-पेंशनरों को मिली सैलेरी, बैंकों के सामने कतारें

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 06:55 AM IST

महीनेकी पहली तारीख के कारण गुरुवार को एसबीबीजे बैंक में कर्मचारियों पेंशनरों की सर्वाधिक भीड़ रही। शहर के सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारियों पेंशनरों के खाते एसबीबीजे बैंक में है। पहले दिन केवल 500 कर्मचारियों पेंशनरों को सैलेरी मिली।

एसबीबीजे बैंक प्रबंधक आरके सिंह ने बताया कि महीने की पहली तारीख को देखते हुए बैंक में कर्मचारियों के वेतन भुगतान के लिए दो एक्सट्रा काउंटर लगाए गए। कर्मचारियों को लिमिट के अनुसार 10 हजार रुपए का खाते में से निकालकर नकद भुगतान भी किया गया। इससे पहले बैंक में सैलेरी के लिए कर्मचारियों पेंशनरों की सुबह से ही लाइन लग गई।

महिलाकर्मचारियों के लिए अलग काउंटर

एसबीबीजेमें महिला कर्मचारियों के लिए अलग काउंटर बनाया गया। दिनभर बैंक में सैलेरी निकालने वालों की भीड़ रही। बैंक प्रबंधक का कहना है कि निकासी की लिमिट के अनुसार ही राशि कर्मचारी पेंशनरों को खाते में से निकालकर दी गई।

सादुलपुर|नोटबंदीके चलते बैंकों में गुरुवार को भी लंबी लाइनें लगी रही। पीएनबी में कैश नहीं होने पर ग्राहकों ने हंगामा मचाया। सूचना पर पुलिस एसडीएम भी मौके पर पहुंच गए। पीएनबी में तो कैश नहीं होने पर हंगामा हो गया। बैंक के बाहर काफी संख्या में महिलाएं पुरुषों ने पैसा नहीं मिलने पर शोर-शराबा शुरू कर दिया। लोगों के बढ़ते आक्रोश के चलते पुलिस बुलानी पड़ी, वहीं एसडीएम नरेंद्र कुल्हरि भी मौके पर पहुंचे। एसडीएम ने लोगों को समझाईश की।

बैकों मंे नकदी नहीं होने से कैसे मिलेगा वेतन

सिद्धमुख | कस्बेमें स्थित स्टेट बैंक बीकानेर एंड जयपुर बड़ौदा राजस्थान ग्रामीण बैंक में बुधवार रुपए खत्म हो गए। जिसके चलते ग्राहकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बंैकों में रुपए नहीं होने के कारण बैंको में कर्मचारियों पेशनरों की आई सैलरी का पैसा नहीं मिलने से काफी परेशानियां होगी।

बैंकोंके आगे कतार जारी, नए नोट का अभाव

रतनगढ़ | नोटबंदीकी घोषणा के बाद बैंकों के आगे नोट बदलवाने के लिए लोगों की लाइनें ज्यों कि त्यों लगी हुई है। प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में लोग बैंक में रुपए बदलवाने जमा करवाने के लिए रहे हैं। कई बैंकों में कैरेंसी के अभाव में लोगों को बैंकों के खाते में जमा पूंजी वापस नहीं मिलने से उनके दैनिक कार्यों पर असर पड़ा रहा है। हर दिन उपभोक्ताओं बैंक प्रशासन के बीच तीखी नौकझौंक की घटनाएं भी हो रही है।

सुजानगढ़ | नोटबंदीके बाद गुरुवार को बैंक ऑफ बड़ौदा तथा भारतीय स्टेट बैंक के सामने लोगों की लंबी लाइन दिन भर लगी रही। एसबीबीजे के सामने भीड़ नहीं थी। इसके अलावा शहर के पेट्रोल पंप चौराहे के पास स्थित एटीएम पर भी जमघट लगा रहा। एसबीबीजे में गुरुवार को ग्राहकों को दो-दो हजार रुपये का भुगतान किया गया। भारतीय स्टेट बैंक के लगभग सभी 80 प्रतिशत ग्राहकों को 24-24 हजार रुपए का भुगतान किया गया।

सुजानगढ़. बैंक ऑफ बड़ौदा के सामने गुरुवार को रुपए लेने के लिए लगी महिलाओं पुरुषों की भीड़।

चूरू. शास्त्री मार्केट में एटीएम पर लगी कतार।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: पहली तारीख को 500 कर्मचारी-पेंशनरों को मिली सैलेरी, बैंकों के सामने कतारें
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Sadulpur

      Trending Now

      Top