Home »Rajasthan »Dholpur Zila »Saipau » सूचना देने वाले उप सरपंच को रातभर हवालात में रखा

सूचना देने वाले उप सरपंच को रातभर हवालात में रखा

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 07:00 AM IST

सैंपऊ| रजौराखुर्द ग्राम पंचायत के गांव नंगू का नगला में बीती रात को एक शादी समारोह में दावत की पंगत के दौरान पूडी परोसने से छेके जाने पर ग्रामीणों और भातई के बीच हुए विवाद में मामला झगड़े तक जा पहुंचा। देखते ही देखते दोनों पक्षों में पथराव शुरू हो गया। बाद में लोग लाठियां निकाल लाए। जिससे शादी समारोह में भगदड़ मच गई।

शेष|13 पर



सूचनापर पहुंची पुलिस ने स्थिति संभालते हुए झगड़ा करने के आरोप में दो जनों को गिरफ्तार किया है। जिसमें रजौरा खुर्द ग्राम पंचायत का उप सरपंच शिवनारायण कुशवाह भी शामिल है।

उप सरपंच की गिरफ्तारी को लेकर सुबह ट्रैक्टर ट्रॉली में भरकर गांव नंगू का नगला से ग्रामीण रजौरा खुर्द सरपंच प्रतिनिधी थानसिंह कुशवाह, सहरौली सरपंच प्रतिनिधी परीक्षत कुशवाह के नेतृत्व में पुलिस थाने पहुंचे और उन्होंने उप सरपंच को रात भर हवालात में बंद करने का विरोध जताया। ग्रामीणों ने पुलिस कर्मियों को बताया कि उप सरपंच शिवनारायण कुशवाह झगड़ा शांत कराने के लिए घटनास्थल पर पहुंचा था। उसी ने शादी समारोह में झगड़ा होने की सूचना पुलिस को दी थी। उसके बावजूद पुलिस ने उल्टा उसे ही हवालात में बंद कर दिया। ग्रामीणों का आरोप था कि पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचते ही झगड़ा करने वाले मुरारी पुत्र नत्थी के साथ उप सरपंच शिवनारायण कुशवाह को बिना कुछ बताए गिरफ्तार कर जीप में बिठा लिया। एएसआई महेश शर्मा ने बताया कि रात को गांव नंगू का नगला में बारात के दौरान झगड़े की सूचना पुलिस के 100 नंबर से मिली थी। सूचना पर पहुंचे पुलिस जाब्ते ने झगड़े पर आमदाा कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया।

थप्पड़ मारे, बोलने का नहीं दिया मौका

उप सरपंच शिवनारायण कुशवाह ने बताया कि उसे पुलिस थाने पर लाकर हवालात में बंद कर दिया गया। जब उसने झगड़े में शामिल नहीं होने और पुलिस को सूचना देकर बुलाने की बात कही तो उसे पुलिस कर्मियों ने थप्पड़ जड़ दिए। उप सरपंच ने बताया कि नंगू का नगला के मुरारी पुत्र गोरे के यहां उसकी पुत्री की बारात आई हुई थी। इसी दौरान दावत की पंगत के दौरान पूडी नहीं परोसे जाने से नाराज रामदास पुत्र नत्थी ने वधू के मामा से कहासुनी कर दी। इसके बाद दोनों ओर से झगड़ा शुरू हो गया। झगड़े के दौरान रामदास के भाई मुरारी और वधू के पिता मुरारी पुत्र गोरे और उसके साले के साथ मारपीट होने लगी। देखते ही देखते झगड़ा बढ़ता गया और दोनों ओर से पथराव और लाठी डंडे शुरू हो गए। झगडे से बारात में भगदड़ मची देखकर उसने पुलिस को सूचना देकर विवाद रोकने का प्रयास किया। लेकिन बदले में उसे पुलिस की पिटाई मिली।

वर्जन

उप सरपंच द्वारा मारपीट का आरोप गलत है। बारात में झगड़े की सूचना 100 नंबर से मिलने के बाद पुलिस टीम गांव पहुंची। लोगों को हाथों में लाठी -डंडे देखकर पुलिस ने दोनों पक्षों से समझाइश की। झगड़े पर आमाद कुछ लोगों को पुलिस थाने पर ले आई। जिन्हें शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया है।

राजपाल सिंह, हैड कांस्टेबल।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: सूचना देने वाले उप सरपंच को रातभर हवालात में रखा
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Saipau

        Trending Now

        Top