Home »Rajasthan »Jhunjhunu Zila »Udaipurwati » समस्याओं की अनदेखी पर लगाई फटकार

समस्याओं की अनदेखी पर लगाई फटकार

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 07:55 AM IST

नारी पंचायत को नहीं मिला पहाड़ी रॉयल्टी का हिस्सा

पंचायतसमिति सभागार में सोमवार को ब्लॉक स्तरीय जन सुनवाई शिविर लगाया गया। ग्रामीणों की समस्याओं का समय पर समाधान नहीं करने पर गुढ़ागौड़जी बिजली एईएन उदयपुरवाटी पीएचईडी एईएन को फटकार लगाई गई।

विधायक शुभकरण चौधरी की अध्यक्षता में जन सुनवाई शिविर में बड़ागांव के रिटायर्ड सूबेदार प्रतापसिंह ने नायब तहसीलदार पर रिश्वत लेकर उसकी खातेदारी जमीन पर दूसरे को कब्जा कराने का आरोप लगाया गया। शिविर में खरबासों की ढाणी निवासी पूर्णमल ने शिकायत दी कि उसने 3 मई को पुन: कनेक्शन के लिए शुल्क जमा करवा दिया था लेकिन निगम के एईएन ने आज तक कनेक्शन वापस नहीं जोड़ा। इसी ढाणी के भींवाराम जाट ने शिकायत दी कि उसने घरेलू कनेक्शन के लिए 10 जून को फाइल जमा करवाई थी लेकिन आज तक किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई। विद्युत निगम के एईएन को फटकार लगाकर समय पर कार्य करने के निर्देश दिए गए। पंस सदस्य हंसा वर्मा ने सड़क निर्माण करवाने के लिए वन विभाग से एनओसी दिलवाने तथा पीएमजेएवाई के तहत सड़क निर्माण कार्य चालू करवाने की मांग की। कृषि उपज मंडी सदस्य गणेश गुप्ता ने शिकायत देकर बताया कि कृषि कनेक्शन के लिए तहसीलदार के हस्ताक्षर मांगते हैं जबकि तहसीलदार हस्ताक्षर नहीं करते। नांगल के कालूराम ने सुबह 9 बजे से 10 बजे तक पानी सप्लाई के दौरान बिजली सप्लाई बंद करवाने की मांग की। मझाऊ के भागीरथमल ने एचआईवी पीड़ित परिवार को बीपीएल में करवाने की मांग की।

चिड़ावा | पंचायतसमिति में गुरुवार को संपर्क समाधान शिविर लगाया गया। एसडीएम राजीव आचार्य एवं प्रधान कैलाश मेघवाल की मौजूदगी में आयोजित शिविर में तीन प्रकरण उठाए गए। इनके समाधान वास्ते संबंधित विभाग को पत्र लिखे गए। शिविर में नारी पंचायत के सरपंच नरेंद्र चौधरी ने अपने क्षेत्र की पहाड़ी में हो रहे खनन की रॉयल्टी में से पंचायत को उसका हिस्सा नहीं मिलने का मामला उठाया। उन्होंने बताया कि खनन विभाग द्वारा विगत तीन वर्षों से पंचायत को उसके हिस्से की राशि का भुगतान नहीं दिया गया है। सरपंच ने कहा कि अगर रॉयल्टी के हिस्से की राशि मिल जाए तो ग्राम पंचायत में विकास के कार्यों को गति मिल सकती है। वहीं प्रधान मेघवाल ने नरहड़ में सड़क के दोनों तरफ निर्माणाधीन नाले का काम काफी दिनों से रुका होने का मुद्दा उठाया। उन्होंने बताया कि जिला परिषद द्वारा इस कार्य के लिए 16 लाख रुपए स्वीकृत किए गए थे। प्रधान ने कार्यकारी एजेंसी पीडब्ल्यूडी द्वारा नाले का काम बीच में रोक देने से संबंधित क्षेत्र में गंदे पानी के निकास की समस्या बनी हुई है। मालुपुरा के ईश्वरसिंह ने गांव के नजदीक ढाणी में पीने के पानी की समस्या समाधान वास्ते सिंगल फेस का सार्वजनिक बोरवैल बनवाने की मांग की। शिविर में बीडीओ राजेंद्र जोईया, जलदाय विभाग के एईएन नागरमल जांगिड़, सहायक निदेशक कृषि प्रमोद कुमार, कृषि अधिकारी सुभाष चंद्र, एबीईओ सुनीता चौधरी, एसडीएम कार्यालय के निजी सहायक कैलाशसिंह कविया, नगरपालिका जेईएन सरोज भाटिया, क्षेत्रीय वन अधिकारी रामलाल सहित अन्य विभागों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

खेतड़ी | कलेक्टरप्रदीप बोरड़ ने गुरुवार शाम पंचायत समिति सभागार में पंचायतीराज संस्थाओं से जुड़े कार्मिकों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार की विकास योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने के निर्देश दिए। उन्होंने बजट घोषणाओं के अनुरूप विकास कार्य को आगे बढ़ाने की बात कही। नगरपालिका क्षेत्र में जाकर मुख्यमंत्री जल स्वाबलंबन योजना के तहत आगामी वित्त वर्ष में होने वाले कार्यों की जानकारी ली। इस दौरान जिला परिषद सीआईओ जेपी बुनकर ने मनरेगा में बकाया कार्यों के विवरण की जानकारी ली। उन्होंने ओडीएफ, आधार कार्ड की सीडिंग की ग्रामसेवकों और कनिष्ठ लिपिकों से पंचायत वार जानकारी ली। इस दौरान राज्य सरकार द्वारा संचालित दीनदयाल उपाध्याय जनकल्याण शिविरों को गंभीरता से लेने के निर्देश दिए। सीआईओ ने कहा कि अक्सर देखने में आया है कि 13 विभागों से संबंधित कार्मिक शिविरों से गायब रहते हैं तथा समय पर नहीं पहुंचते। इसके लिए उन्होंने एसडीएम और बीडीओ को कार्मिकों की समय पर उपस्थिति के लिए पाबंद करने के निर्देश दिए। साफ-सफाई को लेकर उन्होंने कहा कि पंचायत स्तर पर सफाई की व्यवस्था स्तरीय नहीं हो रही है। उच्च स्तर के निर्देशों के मुताबिक दीनदयाल उपाध्याय जनकल्याण शिविरों के तय स्थानों पर सफाई होनी चाहिए। इसके लिए ब्लॉक वार औचक निरीक्षण किया जाएगा तथा लापरवाही बरतने वाले कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बैठक में प्रधान मनीषा गुर्जर, एसडीएम दिनेशचंद्र भार्गव, तहसीलदार जयसिंह, बीडीओ शशीबाला, एईएन महेंद्रसिंह मेघवाल, नगरपालिका ईओ अनिल जोनवाल, पीओ मुकेश तुदंवाल सहित अनेक कर्मचारी मौजूद थे।

चिड़ावा. शिविर में जन समस्याओं के प्रकरणों पर विचार करते अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि।

खेतड़ी. पंचायत समिति में कार्मिकों की बैठक लेते कलेक्टर और सीईओ।

उदयपुरवाटी. शिविर में सुनवाई करते विधायक शुभकरण चौधरी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: समस्याओं की अनदेखी पर लगाई फटकार
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Udaipurwati

      Trending Now

      Top