Home »Rajasthan »Sikar» Liquor Sales On Dry Day In Sikar

महावीर जयंती पर ड्राई डे, ठेकों में बने छेद से बेच रहे थे शराब

मनीष चतुर्वेदी | Apr 10, 2017, 07:52 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
महावीर जयंती पर ड्राई डे, ठेकों में बने छेद से बेच रहे थे शराब
सीकर. महावीर जयंती पर ड्राई डे के बावजूद शराब बेची गई। इसके लिए ठेका संचालकाें ने नया तरीका निकाला। ठेकों में बनाए छेद के जरिए शराब की बाेतल ग्राहकों को दी जा रही थी, रुपए भी छेद से ही लिए जा रहे थे। हर बोतल पर निर्धारित कीमत से 25 से 30 रुपए ज्यादा वसूले जा रहे थे। भास्कर ने पूरे मामले का सच जानने के लिए कई शराब ठेकों पर स्टिंग ऑपरेशन किया। फतेहपुर रोड स्थित ठेके पर भी शराब बेची जा रही थी। भास्कर टीम ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और ठेका बंद कराया। लेकिन 10 मिनट बाद फिर ठेके से शराब बिक्री शुरू हो गई। कलेक्ट्रेट के सामने ठेके पर सेल्समैन ने शराब के ज्यादा रुपए मांगे। कारण पूछा तो दूसरसेल्समैन बोला-आज छुट्‌टी है, 30 रुपए ज्यादा लगेंगे, लेनी है तो पूछ वरना बाहर भगा दे।
ड्राई डे के बावजूद शराब कैसे बिक रही थी, इस सवाल का जवाब ढूंढ़ने के लिए पड़ताल की तो सामने आया कि आबकारी विभाग ने रविवार को दिनभर में एक भी कार्रवाई नहीं की, यह जानने के लिए कि ड्राई डे पर कहीं शराब तो नहीं बिक रही। मामले में भास्कर ने बात की तो जिला आबकारी अधिकारी सत्यनारायण परेवा ने भी यह स्वीकार किया कि विभाग की ओर से रविवार को एक भी कार्रवाई नहीं की।
केस 1 : फतेहपुर रोड, दोपहर 1:00 बजे
पड़ताल में सामने आया कि फतेहपुर रोड पर अंबेडकर सर्किल के पास स्थित ठेके पर शराब बिक रही है। इस पर भास्कर ने पुलिस को सूचना दी। दोपहर करीब 1 बजे एक पुलिसकर्मी ठेके पर पहुंचा। शराब खरीद रहे लोगों को वहां से हटाया और ठेके का दरवाजा बंद कराया। इसके बाद हिदायत देकर चला गया। पुलिसकर्मी के जाने के बाद 10 मिनट बाद ही फिर शराब की बिक्री शुरू हो गई। फिर वही हालात हो गए और लोगों ने जमकर शराब खरीदी।
दोपहर 2.40 बजे भास्कर टीम दोबारा ठेके पर पहुंची। ठेका बाहर से बंद था। बगल का दरवाजा खाेलकर टीम अंदर गई। जहां देखा कि दुकान के पीछे दीवार में बने बड़े छेद के जरिए लोगों से रुपए लिए जा रहे थे और उसी छेद से ग्राहक को बोतल दी जा रही थी। टीम ने भी पुष्टि के लिए शराब खरीदी। टीम पूरे मामले काे कैमरे में कैद कर रही थी। इसी दौरान दो जनों ने पहचान लिया। जिसके चलते टीम को बीच में लौटना पड़ा।
केस 2 : कलेक्ट्रेट के सामने, दोपहर 3:00 बजे
करीब 3 बजे भास्कर टीम कलेक्ट्रेट के सामने शराब ठेके पर पहुंची। जहां बाहर खड़े सेल्समैन ने बगल के दरवाजे से अंदर जाने के लिए कहा। अंदर दूसरे सेल्समैन ने बाहर वाले सेल्समैन के कहने पर दरवाजा खोला। टीम जब अंदर पहुंची तो सेल्समैन ने गली में रोक लिया। टीम ने शराब मांगी तो पहले सेल्समैन ने 100 रुपए की बोतल के बदले 110 रुपए मांगे। टीम ने कहा कि रेट ज्यादा है, इस पर नाले के बाहर बैठे सेल्समैन ने कहा कि 130 रुपए लगेंगे। टीम ने कहा कि इतनी देर में 20 रुपए फिर बढ़ा दिए। इस पर सेल्समैन के साथ मौजूद व्यक्ति ने कहा कि आज छुट्टी है, ज्यादा रुपए लगेंगे। टीम ने रुपए ज्यादा लेने पर सवाल किया तो अंदर बैठे सेल्समैन ने बाहर बैठे सेल्समैन से कहा कि 30 रुपया ज्यादा लागला, लेनी है तो पूछ ल, नही तो बार् भगा दे। इस पर टीम ने पूरी रकम देकर शराब खरीदी और पूरे घटनाक्रम को कैमरे में रिकॉर्ड किया।
भास्कर से बोले-आपसे जानकारी मिली है, अभी कार्रवाई करता हूं
सवाल : आज महावीर जयंती पर अधिकांश स्थानों पर शराब बिक रही है, आपने क्या कार्रवाई की?
जवाब : पक्का शराब बिक रही है क्या, इस मामले में अभी सीआई से बात करता हूं।
सवाल: आपको मालूम कैसे नहीं चला, जो आपने कार्रवाई नहीं की?
जवाब: इस संबंध में विभागीय टीम से जानकारी नहीं मिली। आपसे मिली है, कार्रवाई करेंगे।
सवाल: क्या आपको पता है ठेकों की दीवारों में छेद बनाकर शराब बेची जा रही है?
जवाब: मुझे इस बारे में बिल्कुल कोई जानकारी नहीं है। मामले की जांच कराई जाएगी।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
DBPL T20
Web Title: liquor sales on dry day in sikar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Sikar

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top