Home »Rajasthan »Udaipur» धर्म के राजनीतिक इस्तेमाल से भारत असुरक्षित बनता जा रहा है : जहाबेग्लू

धर्म के राजनीतिक इस्तेमाल से भारत असुरक्षित बनता जा रहा है : जहाबेग्लू

Bhaskar News Network | Apr 21, 2017, 07:45 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
गांधीवादीविचारक और महात्मा गांधी सेंटर फॉर नॉन-वाइलेंस एंड पीस स्टडीज के कार्यकारी निदेशक रामीन जहाबेग्लू ने कहा कि धर्म के राजनीतिक इस्तेमाल से भारत समाज असुरक्षित बनता जा रहा है। चाहे वह अमरीका में ट्रंप हो या फिर भारत में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का हिंदुत्व। वे अमरीका के गांधी कहे जाने वाले मार्टिन लूथर किंग जूनियर के विचारों पर व्याख्यान दे रहे थे। विद्या भवन, सेवा मंदिर और डॉ. मोहनसिंह मेहता मेमोरियल ट्रस्ट के साझे में गुरुवार को डॉ. मोहन सिंह मेहता स्मृति व्याख्यान में रामीन जहाबेग्लू ने कहा कि भारतीय समाज असुरक्षित समाज बनता जा रहा है। अमरीका, ईरान, तुर्की, फिलिपींस असुरक्षित समाज वाले मुल्क हैं। भारत इस रास्ते पर आगे बढ़ता दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि एक परिपक्व समाज हमेशा समावेशी मूल्यों के साथ आगे बढ़ेगा। यदि बहुसंख्यक समुदाय यह तय करने लगे कि अल्पसंख्यकों को क्या करना है और क्या नहीं करना है, तो वह विनाश की ओर ही बढ़ेगा। यदि मंदिर-मस्जिद गिराए जाएंगे तो समाज कमजोर होगा।

समाज और पर्यावरण दोनों बच्चे की तरह बेहद कोमल

गांधीवादीचिंतक ने कहा कि समाज और पर्यावरण दोनों बच्चे की तरह होते हैं, जो बेहद कोमल होते हैं। इनका ख्याल रखना पड़ता है। नहीं तो ये नष्ट हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि गांधी ने खिलाफत आंदोलन से दिखा दिया कि वे मुस्लिमों के साथ काम कर सकते हैं। वे खान अब्दुल गफ्फार खान और मौलाना अबुल कलाम आजाद से दोस्ती कर सकते हैं। यह बताता है कि जब आप आध्यात्मिक होते हैं तब विभिन्न धर्मों के लोग भी साथ सकते हैं। बिना किसी सुबा के।

मार्टिन लूथर किंग जूनियर अमेरिकन गांधी विषय पर व्याख्यान में उपस्थित श्रोता

कार्यक्रम को संबोधित करते रामीन जहाबेग्लू

रामीन ने कहा कि मार्टिन लूथर समावेशी समाज की बात करते हैं। वे सैन्यवाद और नस्लवाद के खिलाफ एकजुट होने को कहते हैं। शांति के लिए समाजों, संस्कृतियों और राष्ट्रों को एक दूसरे से संवाद करना जरूरी है। जब लोग भय की वजह से एक से दूसरी जगह जाएं। दूसरे समुदाय के लोगों से बात करें। दूसरी बस्तियों में जाएं। ऐसे में सुरक्षित समाज नहीं बनाया जा सकता।

बेहतरसमाज बनाने के लिए तीन चीज चाहिए : उन्होंनेबताया कि मार्टिन लूथर किंग कहते थे कि क्षमा, स्वीकार करना और दूसरों के लिए भी दिल में दर्द रखने से बेहतर समाज बना पाएंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: धर्म के राजनीतिक इस्तेमाल से भारत असुरक्षित बनता जा रहा है : जहाबेग्लू
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Udaipur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top