Home »Rajasthan »Udaipur» 20 घंटे की बाद निकाले कुएं में गिरे युवकों के शव

20 घंटे की बाद निकाले कुएं में गिरे युवकों के शव

Bhaskar News Network | Apr 21, 2017, 07:45 IST

  • क्षेत्रके दुर्गावतों का गुड़ा में बुधवार पंप सेट चालू करने के दौरान दम घुटने और असंतुलित हाकेर कुएं में गिरे शभूलाल गमेती (35) और माेतीलाल डांगी (38) के शव निकालने में ग्रामीणों, रेसक्यू टीम को 20 घंटे लग गए। गौरतलब है कि बुधवार शाम पांच बजे शभुलाल कुएं पर पपंसेट चालू करने उतरा था, जो असुलित होकर कुएं में गिर गया। इसके करीब एक घंटे बाद शंभूलाल को निकालने मोतीलाल भी कुएं में उतरा शव की तलाश में बलाई घुमाने के दौरान कुएं में नाइट्रोजन गैस की मात्रा अधिक होने से उसका दम घुट गया और वह भी अंदर गिर गया था। बहुत देर तक मोतीलाल की कोई हलचल सुनाई नहीं देने पर आशंकित ग्रामीणों ने कुएं झांका तो उसके भी अंदर गिरने की जानकारी मिली। इस बीच पुलिस ग्रामीणो ने रेस्वयू किया लेकिन सफलता नहीं मिली थी।

    रात12 बजे दिखे शव, गैस की आशंका में नहीं उतरी रेस्क्यू टीम : दोनोंके कुएं में डूबने के बाद ग्रामीणों और सूचना पर पहुंची पुलिस ने दो पंप सेट लगाकर कुएं का पानी खाली किया, जिसमें रात 12 बजे पानी खाली होने पर दोनों के शव नजर आए। इस बीच नगर निगम की रेसक्यू टीम भी पहुंच गई थी, लेकिन कुएं में गैस की आशंका होने से शवों को निकालने अंदर नहीं उतरे और सुबह आने का कह कर लौट गए। इसके बाद भी देर रात तक ग्रामीण वहीं जुटे रहे और कुएं से पानी निकालने लगातार पंप चालू रखा।

    बुझ गए दो परिवारोंे के चिराग, नहीं जले चूल्हे, बंद रखी दुकानें

    गांवमें एक साथ दो युवकों की मौत से पूरा गांव शोक में डूब गया। हादसे को लेकर गुरुवार को व्यपारियों ने अपनी दुकानें बंद रखी। वहीं शव नहीं निकाले जाने तक गांव में किसी भी घर में चूल्हा नहीं जलाया गया। मृतक शंभूलाल गमेती के दो लड़के और एक लड़की है। वह मजदूरी करके परिवार का भरण पोषण करता था। वहीं मोतीलाल छोटा-मोटा नल फीटिंग का काम करता था। उसकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने, चार बेटियों और एक माह का लड़का होने से भरण पोषण मुश्किल हो गया है। ग्रामीणों ने प्रशासन से दोनों मृतकों के परिजनों को मुआवजा दिलाने की मांग की है।

    रेस्क्यू टीम के नहीं आने पर किया रास्ता जाम

    अगलेदिन गुरुवार को सुबह 6 ही कुएं पर एकत्र हो गए लेकिन रेस्क्यू टीम के 9 बजे तक नहीं पहुंची तो आक्रोशित ग्रामीणों ने आधा घंटे तक उदयपुर घासा मार्ग पर पत्थर, कांटे डालकर रास्ता जाम कर दिया। इस बीच नगर निगम उदयपुर, हिंदुस्तान जिंक दरीबा, देबारी की रेस्क्यू टीमें घासा पहुंची और ऑपरेशन शुरू किया। टीम ने दोपहर एक बजे क्रेन की मदद से दोनों के शव कुएं से बाहर निकाल लिए। मावली चिकित्सालय से पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों काे सौप दिए।

    माेतीलाल डांगी

    शभूलाल गमेती

    घासा . शव निकालने के लिए मशक्कत करती टीम ग्रामीण।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: 20 घंटे की बाद निकाले कुएं में गिरे युवकों के शव
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Udaipur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top