Home »Rajasthan »Udaipur » कांग्रेस पार्टी का हैकरों से रहा है पुराना नाता से लगातार पीड़ित रही है कांग्रेस पार्टी

कांग्रेस पार्टी का हैकरों से रहा है पुराना नाता से लगातार पीड़ित रही है कांग्रेस पार्टी

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 07:50 AM IST

कांग्रेस पार्टी का हैकरों से रहा है पुराना नाता 
से लगातार पीड़ित रही है कांग्रेस पार्टी
भास्कर ने पहले भी उजागर की थी कांग्रेस वेबसाइट में गड़बड़ियां, तकनीकी खामी बता झाड़ा था पल्ला

21 अक्टूबर के अंक में प्रकाशित खबर

भास्कर फॉलोअप

फेसबुक संस्थापक का अकाउंट भी हुआ था हैक

फेसबुकके संस्थापक मार्क जुकरबर्ग के खुद का अकाउंट हाल में हैक हो चुका है। फेसबुक या ट्विटर आम लोगों के अकाउंट कैसे सुरक्षित रखेगा, यह हमेशा चिंता का विषय रहा है। जुकरबर्ग के बाद गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई का कोरा अकाउंट भी हैक हो चुका है।

पॉलिटिकल रिपोर्टर| उदयपुर

कांग्रेससे जुड़े वेबसाइट, ट्विटर-फेसबुक अकाउंट हैक होने के मामले काफी पहले से आते रहे हैं। पिछले दो दिनों में एक के बाद एक अकाउंट हैक हुए। बुधवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का ऑफिशियल ट्विटर अकांउट जबकि गुरुवार को कांग्रेस का ट्विटर अकाउंट हैक हो गया। हैक करने के बाद दोनों ट्विटर हैंडल से किसी ने आपत्तिजनक पोस्ट भी किए। भास्कर ने इससे पहले कांग्रेस के वेबसाइट में गड़बड़ी की बात उजागर की थी। कांग्रेस की वेबसाइट पर पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी पहले मेवाड़ के नेता सीपी जोशी का फोटो लगा हुआ था। सीपी जोशी को पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी पहले दिखाया गया था। इस लिस्ट में राहुल गांधी कहीं आसपास भी नहीं थे। तब इसे टेक्नीकल फॉल्ट या किसी की शरारत बताया गया था। भास्कर के उजागर करने के एक दिन बाद इसे दुरुस्त कर लिया गया था। इस बार राहुल का अकाउंट हैक होने के बाद कांग्रेस ने दिल्ली पुलिस से शिकायत की। कांग्रेस का अकाउंट हैक करने वाले ने इस शिकायत पर नाराजगी जताते हुए भी पोस्ट डाले हैं।

एकके बाद एक आपत्तिजनक ट्वीट किए : करीब40 मिनट तक एक के बाद एक 8 आपत्तिजनक ट्वीट किए गए। सारे ट्वीट अपशब्द और गाली-गलौज वाले थे। हैकर ने ट्विटर अकाउंट का नाम भी बदल दिया था। इस घटना पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि यह एक गिरी हुई हरकत है। राहुल हमेशा जनता की आवाज उठाते रहेंगे। इसकी जांच होनी चाहिए।

मजबूतरखें पासवर्ड

123456या एबीसी123 बेहद खतरनाक पासवर्ड हैं। क्योंकि इनका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। एक मजबूत पासवर्ड बनाने का एक तरीका किसी मुहावरे या वाक्य है जो दूसरे लोग नहीं जानते हैं। मिसाल के तौर पर जैसे- मैं कभी झूठ नहीं बोलूंगा। वहीं, पासवर्ड को नंबर, सिंबल और फर्स्ट लेटर्स के इस्तेमाल से बना सकते हैं। जैसे- iV2kd*pt।

रहें सतर्क

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: कांग्रेस पार्टी का हैकरों से रहा है पुराना नाता से लगातार पीड़ित रही है कांग्रेस पार्टी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Udaipur

      Trending Now

      Top