Home »Rajasthan »Udaipur » सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी से आवासीय योजना की लॉटरी निरस्त, विरोध

सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी से आवासीय योजना की लॉटरी निरस्त, विरोध

Bhaskar News Network | Dec 02, 2016, 07:50 AM IST

सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी से आवासीय योजना की लॉटरी निरस्त, विरोध
मुख्यमंत्रीआवास योजना के तहत दक्षिण विस्तार योजना में बनने वाले 640 आवास की लाॅटरी गुरुवार को प्रक्रिया के बीच कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी के चलते निरस्त करनी पड़ी। लॉटरी प्रक्रिया में हमनाम के चलते एक ही नाम बार बार आने की शिकायत पर यूआईटी को यह कदम उठाना पड़ा।

दरअसल चेयरमैन रवींद्र श्रीमाली और सचिव रामनिवास मेहता की मौजूदगी में आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग के लिए सुबह 11 बजे लॉटरी प्रक्रिया शुरू हुई। दिव्यांग श्रेणी के 19, सैनिक, भूतपूर्व सैनिक के लिए 15 और राज्य कर्मचारियों के 30 आवास की लॉटरी निकलने के बाद अनुसूचित जाति वर्ग के 58 आवास की लाॅटरी निकलने की प्रक्रिया शुरू की। सभागार के बाहर मौजूद कुछ आवेदकों को स्क्रीन पर नजर आया कि एक ही नाम बार बार रिपीट हो रहा है। आवेदकों ने विरोध जताया और सचिव रामनिवास मेहता को जानकारी दी। उस वक्त मेहता और चेयरमैन रवींद्र श्रीमाली शिमला में होने वाली वर्कशॉप में भाग लेने यूआईटी से एयरपोर्ट निकल चुके थे। इसके बाद तत्काल प्रभाव से पूरी लॉटरी प्रक्रिया को निरस्त कर दिया गया। यूआईटी ने इसी योजना के तहत शुक्रवार को प्रस्तावित मध्यम आय वर्ग की लॉटरी को भी स्थगित कर दिया है। सवाल यह भी उठता है कि प्रोग्रामर की तकनीकी टीम लॉटरी से पहले बारीकी से जांच कर ली जाती तो तो यह स्थित नहीं बनती।

गड़बड़ी पकड़ में आते ही निरस्त कर दी प्रक्रिया

^जनजातिवर्ग की लॉटरी के दौरान एक ही व्यक्ति का नाम तीन बार रहा था। प्रथम दृष्टया यह सामने आया है कि तीन आवेदकों के हमनाम होने से यह समस्या आई है। मामला ध्यान में आने पर इसकी जांच की तो पता लगा कि तकनीकी गड़बड़ी के कारण ऐसा हो रहा है। इस कारण पूरी लॉटरी प्रक्रिया को ही निरस्त कर दिया गया है। कीर्तिराठौड़, ओएसडी, यूआईटी।

तकनीकी खामी पर पड़ी नजर तो लोगों ने जताया विरोध

संयोगकी बात की जा सकती है कि आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग में राज्य सरकार के कर्मचारी, राजकीय उपक्रमों के कर्मचारी के लिए 30 आवास और सैनिक, भूतपूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों के लिए 15 आवास आरक्षित किए गए हैं। इस श्रेणी में जितने आवास आरक्षित किए गए हैं आवेदन भी उतने ही आए हैं। ऐसे में जब कभी दोबारा लॉटरी निकलेगी इन सभी आवेदकों को मकान मिलना तय है।

उदयपुर। तकनीकी खामी देखते ही सवाल उठाते अावेदक।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी से आवासीय योजना की लॉटरी निरस्त, विरोध
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From Udaipur

      Trending Now

      Top