Home »Sports »Cricket »Cricket Rochak» Cheteshwar Pujara Ready To Marry With Pooja On 13 Feb

LADY LUCK: कंगारुओं के छक्के छुड़ाएगा 'पूजा का प्यार', करेगा एक बड़ा धमाल

Dainikbhaskar.com | Feb 12, 2013, 11:54 IST

  • खेल डेस्क. भारतीय क्रिकेटरों और लेडी लक का नाता पुराना है। फिर चाहे बात सचिन तेंडुलकर की हो या सौरव गांगुली या फिर अपने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी। इन सभी धुरंधरों की जिंदगी में प्यार की एंट्री ने किस्मत पलट कर रख दी। सचिन जहां बेहतरीन बल्लेबाज से मास्टर ब्लास्टर में तब्दील हो गए, वहीं गांगुली कप्तानी में कमाल पर कमाल करते गए। धोनी की सफलता में भी उनके टेलेंट से ज्यादा साक्षी के साथ का कमाल रहा।
    कुछ ऐसा ही खूबसूरत भाग्योदय सौराष्ट्र के स्टार चेतेश्वर पुजारा की लाइफ में भी हुआ। पूजा पाबरी के साथ उनके रिश्ते की बात क्या चली वे रणजी स्टार से टीम इंडिया का अहम हिस्सा बन बैठे।
    सबसे पहले उनको इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट टीम में जगह मिली। भारतीय युवा क्रिकेटरों के साथ ऐसा कम ही होता है कि पहली बार टीम में चयन होते ही उन्हें प्लेयिंग इलेवन में भी खेलने का मौका मिल जाए। पुजारा के साथ यह संयोग हुआ। राहुल द्रविड़ के रिटायरमेंट के बाद खाली हुई सीट उन्हें झट से मिल गई।
    पुजारा ने इस मौके को गंवाया नहीं। मैदान के बाहर उनकी सगाई का जश्न चल रहा था, लेकिन सौराष्ट्र के इस युवा सितारे ने अपना ध्यान भटकने नहीं दिया। उन्होंने अहमदाबाद में नॉटआउट डबल सेंचुरी लगाई। मोटेरा में 206 रन बनाने के बाद मुंबई में भी उन्होंने 135 रन बनाए।
    पुजारा के कट शॉट्स और कवर ड्राइव के सामने इंग्लैंड के गेंदबाज बेबस लग रहे थे। लेकिन चेतेश्वर रिकॉर्ड पर रिकॉर्ड बनाते चले गए।
    अंग्रेजों की धुनाई करने के बाद उन्होंने रणजी में फिर से कमाल दिखाया। पहले मध्य प्रदेश के खिलाफ उन्होंने नाबाद 203 रन ठोके। फिर कर्नाटक के गेंदबाजों की खबर लेते हुए अहम मुकाबले में 352 रन बनाए। महज 25 साल की उम्र में लगातार इतनी लंबी पारियां खेलने के उनके कैलिबर ने सभी को प्रभावित किया।
    पुजारा की इस पावर के पीछे दो महिलाओं और एक 'पूजा' का हाथ है।
    आगे क्लिक कर जानिए, पुजारा के इस पराक्रम के पीछे छिपा यह खास राज...
    Sports News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट
  • पुजारा की मां
    मैदान पर चेतेश्वर पुजारा के ध्यान को भंग करना किसी भी गेंदबाज के लिए टेढ़ी खीर होता है। इतनी कम उम्र में पुजारा बहुत टफ हैं। इसके पीछे कारण है उनकी मां रीनाबेन। पुजारा जब महज 17 साल के थे तब उन्होंने अपनी मां को हमेशा के लिए खो दिया था।
  • चेतेश्वर को बचपन से उनकी मां ने एक मजबूत इंसान बनाने की कोशिश की थी। मां की हर सीख को पुजारा ने अपने दिल से कुछ इस तरह लगाया कि वे हर मुश्किल का सामना बड़ी आसानी से करते गए। जिस दिन उनकी मां का इंतकाल हुआ था उसके महज पांच दिन बाद चेतेश्वर को अंडर-19 मैच खेलना था। इतनी कम उम्र में उन्होंने मां के गम और मैच के प्रैशर को एकसाथ झेला। उनके पिता अरविंद उन्हें इस मुश्किल समय में हौसला देते रहे। उस मैच में पुजारा ने करियर का पहला सैकड़ा लगाया था। उसके बाद उन्होंने कभी मुड़ कर नहीं देखा।

  • मां ने जोड़ा पूजा-अर्चना से नाता
    पुजारा की मां ने उनका ध्यान पूजा पाठ में लगाया था। मां की उस सीख के बाद चेतेश्वर भगवान की अर्चना करना कभी नहीं भूलते। फिर वे चाहे मैच खेल रहे हों या यात्रा कर रहे हों, हालात चाहे जो भी हों, चेतेश्वर रोज पूजा करना कभी नहीं भूलते।
  • चेतेश्वर और उनका परिवार हरिचंद्र दास महाराज जी का भक्त है। मैचों के दौरान वे या तो अपनी पारी के बाद या फिर मैदान में जाने से पहले पूजा जरूर करते हैं। उनके पिता कहते हैं, पूजा उसके मन को शांत रखती है। यही कारण है कि वो इतना एकाग्र और शांत रहता है। पुजारा को पढ़ना भी बहुत पसंद है। वे कामयाब लोगों की जीवनी पढ़ कर प्रेरणा लेते हैं। उनके ट्रेवल बैग में अमेरिका के राष्ट्रपति ओबामा और अंबानी परिवार से जुड़ी किताबों के साथ-साथ अन्य किताबें भी रहती हैं। उन्हें जब भी वक्त मिलता है वे किताबें जरूर पढ़ते हैं।

  • पूजा से ही जुड़ा दिल भी
    इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले चेतेश्वर ने पूजा पाबारी से सगाई की थी। माउंट आबू, राजस्थान से स्कूली पढ़ाई करने वाली पूजा ने मुंबई से रिटेल में एमबीए किया है। उनके पिता रसिक पाबारी का कमोडिटी का कारोबार है। पाबारी मूल रूप से जामजोधपुर (गुजरात) के हैं, लेकिन लंबे समय से राजकोट में बस गए हैं।
  • अब है शादी की बारी
    पुजारा वेलेंटाइन्स डे से एक दिन पहले 13 तारीख को शादी के बंधन में बंधेंगे। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले सगाई के बाद पुजारा ने जम कर धमाल मचाया था। अब ऑस्ट्रेलिया से टक्कर लेने से पहले वे शादी कर रहे हैं। यह लक उनके टेस्ट करियर को नए मुकाम पर पहुंचा सकता है।
  • तोड़ देंगे गावस्कर का रिकॉर्ड
     
    पुजारा ने महज 9 मैचों की 15 पारियों में अब तक 58.53 की औसत से 761 रन बनाए हैं। टेस्ट में 1000 रन पूरे करने से वे महज 239 रन दूर हैं। यदि पुजारा अगली पांच पारियों में 1000 रन पूरे कर लेते हैं तो वे टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 1000 रन पूरे करने वाले दूसरे भारतीय बन जाएंगे। वर्तमान में यह रिकॉर्ड सुनील गावस्कर के नाम है, जिन्होंने 21 पारियों में 1000 रन बनाए थे। गावस्कर ने यह कीर्तिमान 1971 में बनाया था।
     
    विनोद कांबली ने महज 14 पारियों में 1000 रन बना कर गावस्कर को पीछे किया था। 
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: cheteshwar pujara ready to marry with pooja on 13 feb
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Cricket Rochak

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top