Home »Sports »Cricket »Cricket Rochak» Ms Dhoni Faced 536 Balls Before Getting Out In Delhi Kotla

PHOTOS: 536 गेंदें झेलने के बाद आखिरकार आउट हुए कप्तान धोनी

Dainikbhaskar.com | Jan 06, 2013, 16:20 IST

  • खेल डेस्क. टीम इंडिया के बल्लेबाज पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज में बुरी तरह से फ्लॉप रहे। 100 रन तो दूर की बात, कोई भी बल्लेबाज 50 का आंकड़ा तक पार नहीं कर सका। एकमात्र बैट्समैन जिसने थोड़ी बहुत इज्जत रखी वह थे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी।
    वैसे तो बल्लेबाजी के मामले में चारों ओर युवा सनसनी विराट कोहली के चर्चे रहे, लेकिन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के कारनामे पर कम ही लोग ध्यान दे सके।
    धोनी 30 मार्च 2011 के बाद पहली बार दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर आउट हुए। इस दौरान घरेलू मैदानों पर खेले 8 वनडे मैचों में उन्होंने 506 रन बनाए।
    आगे क्लिक कर जानिए, कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के इस खास कारनामे की दास्तां...
  • पाकिस्तान ने किया था दिल्ली से पहले आउट
    30 मार्च 2011 को पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमी फाइनल मुकाबले में धोनी कुल 25 रन बना कर आउट हुए थे। वहाब रियाज ने उन्हें LBW आउट किया था। लेकिन इसके बाद से भारतीय पिचों पर खेले हर वनडे में धोनी नॉट आउट रहे।
  • फाइनल से किया आगाज
    धोनी के इस शानदार सफर की शुरुआत हुई मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम से। श्रीलंका के खिलाफ वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में उन्होंने नाबाद 91 रन बनाए। 2 अप्रैल 2011 को खेले गए उस मैच में धोनी ने 79 गेंदों का सामना करते हुए 8 चौकों और 2 छक्कों की मदद से नाबाद 91 रन बनाए थे।
  • हैदराबाद में भी ठोका पचासा
    कप्तान धोनी ने वर्ल्ड कप फाइनल के बाद घरेलू पिचों पर अगला वनडे 14 अक्टूबर 2011 को खेला। इंग्लैंड के खिलाफ हैदराबाद में हुए उस वनडे में कप्तान ने 70 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौकों और 1 छक्के से सजी नाबाद 87 रन की पारी खेली।
  • मोहाली-मुंबई में भी नॉट आउट
    इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के सभी मैचों में धोनी नॉटआउट रहे। हैदराबाद के बाद दिल्ली में उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला। 20 अक्टूबर 2011 को मोहाली में हुए अगले वनडे में वे 3 चौकों की मदद से 35 रन बना कर नाबाद रहे।
    इसके बाद मुंबई में भी वे 15 रन बना कर अविजित रहे।
  • उमर गुल ने लगाया ब्रेक
    कप्तान धोनी को घरेलू मैदानों पर आउट करने का कारनामा किया पाकिस्तान के ही उमर गुल ने। गुल ने दिल्ली वनडे में धोनी को 36 रन के स्कोर पर कैच आउट करवाया। इस पारी में धोनी ने 55 गेंदों का सामना करते हुए 1 चौका और 3 छक्के लगाए।
  • कोलकाता में नॉटआउट पचासा
    इंग्लैंड के खिलाफ फाइनल वनडे में धोनी ने 3 चौकों और 4 छक्कों से सजी 75 रनों की आतिशी पारी खेली। ईडन गार्डन्स में भी वे नाबाद ही रहे।
  • चेन्नई में चमके धोनी
    इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज खेलने के बाद टीम को 2011 में घरेलू मैदानों पर एक भी वनडे खेलने का मौका नहीं मिला। एकमात्र मैच 30 दिसंबर 2012 को चेन्नई में खेला गया। इस वनडे में धोनी ने नाबाद 113 रन बनाए। अपने शतक में कप्तान ने 7 चौके और 3 छक्के लगाए।
  • कोलकाता में लगातार दूसरा पचासा
    पाकिस्तान के खिलाफ 3 जनवरी 2012 को कोलकाता में हुए एकदिवसीय में धोनी ने नाबाद 54 रन बनाए। ईडन गार्डन्स मैदान पर यह उनका लगातार दूसरा पचासा रहा।
  • 8 मैचों में झेलीं 536 गेंदें
    पाकिस्तान के खिलाफ मोहाली में हुए वर्ल्ड कप सेमी फाइनल के बाद से धोनी ने भारत में खेले 8 वनडे मैचों में 536 गेंदों का सामना करते हुए 506 रन बनाए।
    इसमें 1 शतक और 4 अर्धशतक शामिल रहे।
  • पाकिस्तान के खिलाफ बेस्ट एवरेज
    धोनी ने पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज में 269 गेंदों का सामना करते हुए 203 रन बनाए। उमर गुल द्वारा आउट किए जाने के बाद उनका औसत 203 का रहा। पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज में किसी भी भारतीय कप्तान द्वारा किया यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। 203 से बेहतर की औसत से किसी भारतीय कप्तान ने पाकिस्तान के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज में रन नहीं बनाए।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: ms dhoni faced 536 balls before getting out in delhi kotla
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Cricket Rochak

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top