Home »Sports »Cricket »Cricket Rochak» Sachin Tendulkar May Be Eager To Retire From Cricket

PROBLEM: संन्यास लेने के लिए छटपटा रहे हैं सचिन, सामने आई बात!

Dainikbhaskar.com | Nov 29, 2012, 00:05 IST

  • मुंबई. ऐसा लग रहा है क्रिकेट के भगवान सचिन तेंडुलकर को खुद मदद की जरूरत पड़ गई है। वे किसी न किसी तरह संन्यास लेकर अपने ऊपर लग रहे खराब फॉर्म और ढलती उम्र के तानों पर ब्रेक लगा देना चाहते हैं। इस ओर इशारा कर रही है सामने आई तेंडुलकर और चीफ सेलेक्टर संदीप पाटिल के बीच हुई बातचीत।
    रिपोर्ट्स के मुताबिक सचिन चुपके-चुपके सेलेक्टर्स के साथ अपने संन्यास को लेकर चर्चा करना चाह रहे हैं, लेकिन उनकी बात को हर बार टाल दिया जा रहा है।
    जिस खिलाड़ी के नाम वनडे और टेस्ट में सर्वाधिक रन, सर्वाधिक शतक लगाने जैसे महान रिकॉर्ड्स दर्ज हैं, वही पिछली 10 पारियों से 50 रन का मामूली आंकड़ा पार करने में नाकाम रहा है। तेंडुलकर ने पिछली 10 टेस्ट पारियों में कुल 153 रन बनाए हैं, जिसमें शतक तो दूर की बात, एक हाफ सेंचुरी तक शामिल नहीं है। उनका लगातार क्लीन बोल्ड होना भी उनके आलोचकों को अपना मुंह खोलने का अच्छा मौका दे रहा है।
    खबरों के मुताबिक सचिन ने संदीप पाटिल को अपने संन्यास के बाबत फोन लगाया था।
    तस्वीर पर क्लिक कर जानिए, क्या बातें हुई होंगी तेंडुलकर और चीफ सेलेक्टर पाटिल के बीच...
  • सचिन: हैलो संदीप सर, मैं सचिन बोल रहा हूं।
    पाटिल: अरे सचिन, कसा आहे तू? (तुम कैसे हो?)
  • सचिन : मैं अच्छा हूं। लेकिन मुझे लग रहा है..... गावस्कर सर और कपिल सर को लगता है कि मुझे आपसे बात करनी चाहिए। इसलिए मैंने आपको फोन लगाया।
    पाटिल : (थोड़े डरे हुए अंदाज में) हां, हां... हम कभी भी बात कर सकते हैं। तुम्हें तो पता है मैं कैसा हूं। मैं हमेशा बातचीत के लिए ओपन रहता हूं। लेकिन खेल से पहले परिवार। अंजलि, अर्जुन और साना कैसे हैं? तुम कब जा रहे हो... घर?
  • सचिन :वे सब एकदम अच्छे हैं। आप तो सब जानते ही हो। मैं हर बार क्रिकेट से ब्रेक नहीं ले सकता। कभी-कभी मुझे उनकी बहुत याद सताती है।
    पाटिल : हां, यह बात तो है। मैंने सुना है कि अर्जुन एक अच्छा क्रिकेटर बनने के नक्शे कदम पर है। क्या तुम जा रहे हो.... उसे स्पेशल कोचिंग देने के लिए?
  • सचिन : (थोड़ी झुंझलाहट के साथ) मैं अर्जुन पर अभी कोई दबाव नहीं बनाना चाहता। वह अभी खेल का मजा ले रहा है। आगे जो होना है, होता रहेगा। मेरा यही मानना है।
    पाटिल : हां, हम रोहन गावस्कर का उदाहरण कैसे भूल सकते हैं। दबाव से टेलेंट मर जाता है। पुजारा को लेकर तुम्हारा क्या विचार है? माला त्याची बैटिंग खूप अवदली (मुझे तो उसकी बल्लेबाजी बहुत अच्छी लगी)
  • सचिन : पुजारा थोड़ा द्रविड़ जैसा है। उसका कंसंट्रेशन कमाल का है। काश मैं उसके जैसे ध्यान लगा कर खेल पाता। उसका स्टेमिना भी बेहतरीन है। उसमें रनों की भूख है, बिल्कुल द्रविड़ की तरह, या शायद उससे भी ज्यादा।
    पाटिल: लेकिन क्या विदेशी पिचों के लिए उसकी तकनीक अच्छी है?
  • सचिन: हां, हां। खूप छान मुलगा आहे (वह एक शानदार लड़का है)।
    पाटिल :लेकिन मुझे सबसे ज्यादा चिंता धोनी की कप्तानी की है। मुझे नहीं लगता कि वह अब टेस्ट टीम की जिम्मेदारी संभालना चाहता है। उसने जो मांगा हमने उसे सब दिया। हमने उसे हरभजन सिंह भी दिया मुंबई के मैच के लिए, फिर भी टीम हार गई।
  • सचिन :दरअसल, वह रन नहीं बना पा रहा। अब तो घर में भी हार मिलने लगी है। उसके बाल भी धीरे-धीरे सफेद होने लगे हैं। लेकिन मुझे लगता है उसे कोच फ्लेचर से पूरी मदद नहीं मिल पाती।
    पाटिल : फ्लेचर... उनके बारे में मैं बिना श्रीनिवासन जी से पूछे ज्यादा नहीं कह सकता। तुम तो सब जानते हो। कहीं मुझे भी नौकरी से न निकाल दें।
  • सचिन : हाहा... हां यह भी है। इस बारे में उन्हें कुछ मत बताना कि मैंने फ्लेचर के बारे में कुछ कहा।
    पाटिल : (हंसते हुए) अरे बिल्कुल नहीं। तुम्हारी नई कार निसान GT-R कैसे चल रही है? मुझे कब बैठा रहे हो उसमें?
  • सचिन : क्या नया। जुलाई में ली थी, लेकिन मस्त कार है। 300 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंच सकती है। मैं उसका मजा सिर्फ सुबह के समय ही ले सकता हूं। मेरे साथ यही परेशानी है।
    पाटिल :वाह! सुनने में तो अच्छी लग रही है। कितने की ली थी?
  • सचिन : लगभग 2.5 करोड़ रुपए और 45 लाख रुपए की ड्यूटी अलग। मैंने उसे सीधे जापान से इंपोर्ट करवाया था। आप कोलकाता आ रहे हो न?
    पाटिल : हां, बिल्कुल। मैं वहां जरूर आऊंगा। मुझे रसगुल्ले और मिष्टी दही बहुत पसंद है। चलो, अभी मुझे जाना है। जल्द ही मिलते हैं।
    (यह बातचीत पूरी तरह काल्पनिक है। टीम इंडिया के हालात पर हमने सिर्फ कयास लगाया है कि सचिन तेंडुलकर और संदीप पाटिल के बीच फोन पर कुछ इसी प्रकार की बातचीत हुई होगी। असलियत जो भी हो, तेंडुलकर के सभी फैन्स की यही चाह होगी कि वे कोलकाता में अपने बल्ले से सभी आलोचकों का मुंह बंद कर दें।)
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: sachin tendulkar may be eager to retire from cricket
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Cricket Rochak

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top