Home »Sports »Cricket »Cricket Classic» Chris Gayle Hit First t20 International Century

टी-20 वर्ल्ड कप का पहला मुकाबला.... बस 57 गेंदों में गेल ने मचाया कोहराम

Dainikbhaskar.com | Sep 11, 2013, 11:41 IST

  • खेल डेस्क.11 सितंबर का दिन टी-20 क्रिकेट के इतिहास में खास अहमियत है। 2007 में इसी दिन पहले टी-20 वर्ल्ड कप का आगाज हुआ था।
    टी-20 के मुकाबले की शुरुआत यदि धुआंधार न हो तो मजा नहीं आता। वेस्ट इंडीज के क्रिस गेल ने अपने रुतबे के मुताबिक पहले वर्ल्ड कप का आगाज आतिशी अंदाज में किया था। इतिहास में वह पहला मौका था जब किसी भी बल्लेबाज ने इंटरनेशनल टी-20 में 99 का आंकड़ा पार कर सेंचुरी लगाई थी।
    उसी मुकाबले में उन्होंने एक दो ऐसे कीर्तिमान स्थापित किए थे जिन्हें तोड़ने में दिग्गजों को नानी याद आ गई थी।
    आगे क्लिक कर जानिए, क्रिस गेल ने कैसे दो धांसू रिकॉर्ड्स के साथ किया था वर्ल्ड कप का शुभारंभ...
  • पहली ही गेंद पर चौका
    आईसीसी ने ट्वेंटी-20 क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए 2007 में पहले वर्ल्ड कप का आयोजन साउथ अफ्रीका में किया था। मेजबान टीम के कप्तान ग्रीम स्मिथ ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था।
    स्मिथ ने पहला ओवर डालने का मौका दिया अनुभवी शॉन पोलक को। पोलक की पहली ही गेंद पर क्रिस गेल ने चौका लगाकर आने वाले तूफान की ओर इशारा कर दिया।
    उन्होंने पोलक की गुड लेंथ गेंद को प्वाइंट पर तैनात फील्डर को चकमा देते हुए बाउंड्री पार पहुंचाया।
    पोलक के अगले ओवर की शुरुआत भी गेल ने आतिशी अंदाज में की। उन्होंने लेग साइड की ओर जाती गेंद को घुमाकर ऑन साइड पर मार दिया। गेंद स्क्वेयर लेग के ऊपर से होते हुए बाउंड्री पार छक्के के लिए गिरी। वह टूर्नामेंट का पहला छक्का था।
  • वर्ल्ड कप का पहला पचासा
    टी-20 वर्ल्ड की पहली हाफ सेंचुरी भी क्रिस गेल के नाम है। उन्होंने कुल 26 गेंदों में 3 चौके और 4 छक्के लगाते हुए पचासा पूरा किया था।
    उसी मुकाबले में साउथ अफ्रीका के हर्शेल गिब्स ने नाबाद 90 रन की पारी खेल टूर्नामेंट के इतिहास की दूसरी फिफ्टी भी जमाई थी, लेकिन गेल ने अपने कारनामे से गिब्स को पहली फिफ्टी का रिकॉर्ड थमा दिया।
  • गेल का तूफान
    पचासा पूरा होते ही गेल ताव में आ गए थे। अगली 24 गेंदों में उन्होंने 2 चौके और 5 छक्के लगाकर उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल के इतिहास का पहला सैकड़ा पूरा किया।
    शॉन पोलक की गेंद पर 2 रन लेकर उन्होंने यह कारनामा किया था। महज 50 गेंदों में लगा वह शतक आज भी टी-20 इंटरनेशनल के इतिहास का तीसरा सबसे तेज सैकड़ा है।
    गेल ने 57 गेंदों का सामना करते हुए 7 चौकों और 10 छक्कों की मदद से 117 रन बनाए थे। साउथ अफ्रीका के वान डेर वाथ ने 16.2वें ओवर में उन्हें विकेटकीपर मार्क बाउचर के हाथों लपकवाकर आउट किया था।
  • इंडियन ने लगाया दूसरा सैकड़ा
    टी-20 इंटरनेशनल में गेल के बाद सेंचुरी लगाने का कारनामा भारत के सुरेश रैना ने किया था। उन्होंने 2 मई 2010 को साउथ अफ्रीका के ही विरुद्ध ग्रोस आइलेट में हुए मैच में 101 रन बनाए थे, जिसमें 9 चौके और 5 छक्के शुमार थे।
  • रिकॉर्ड टूटने में लगे पांच साल
    गेल द्वारा बनाए टी-20 में सबसे बड़ी पारी के वर्ल्ड रिकॉर्ड को टूटने में पांच साल का समय लगा। 19 फरवरी 2012 को साउथ अफ्रीका के रिचर्ड लेवी ने नाबाद 117 रन की पारी खेल कर यह कीर्तिमान अपने नाम किया। उसी साल 21 सितंबर को न्यूजीलैंड के ब्रेंडन मैक्कुलम ने 58 गेंदों में 123 रन बनाकर लेवी को पीछे कर दिया।
    वर्तमान में यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के आरोन फिंच के नाम है। फिंच ने 29 अगस्त 2013 को इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में महज 63 गेंदों में 156 रन बनाकर नया कीर्तिमान स्थापित किया।
  • पार्टनरशिप का बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड
    क्रिस गेल ने वर्ल्ड कप के पहले ऐतिहासिक मुकाबले में अपने साथी डेवॉन स्मिथ के साथ मिलकर पार्टनरशिप का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया था। उन्होंने स्मिथ के साथ पहले विकेट के लिए 145 रन की साझेदारी निभाई थी।
    आज भी टी-20 इंटरनेशनल में पहले विकेट के लिए की गई यह दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। 15 नवंबर 2009 को ग्रीम स्मिथ और लूट्स बॉसमैन ने इंग्लैंड के खिलाफ सेंचुरियन मैदान पर 170 रन की रिकॉर्ड ओपनिंग पार्टनरशिप कर गेल और स्मिथ को पीछे किया था।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: chris gayle hit first t20 international century
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Cricket Classic

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top