Home »Sports »Cricket »Cricket Celebrities» Imran Khan Return From Retirement May Inspire Sachin Tendulkar

CHAMP: जब गुस्से में इस जांबाज ने लिया संन्यास, खुद राष्ट्रपति ने लगाई गुहार

Dainikbhaskar.com | Dec 25, 2012, 12:30 IST

  • खेल डेस्क. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर ने वनडे क्रिकेट को अलविदा कहने का ऐलान कर दिया है। भारत और पाकिस्तान के बीच पांच साल के बाद हो रही वनडे सीरीज से ठीक पहले उनके इस कदम ने सभी प्रशंसकों को स्तब्ध कर दिया है। आलोचकों के चेहरों पर जहां शैतानी मुस्कान आ गई है, वहीं सचिन के चाहने वाले जर्सी नंबर 10 की विदाई से दुखी हैं।
    ऐसे में हर फैन का दिल एक ही बात कह रहा है, लौट आओ सचिन। हालांकि, विशेषज्ञों का तर्क है कि तेंडुलकर की उम्र अब उनके साथ नहीं। लेकिन फैन्स का मानना है कि 38 सावन देख चुके मुंबई के इस दिग्गज खिलाड़ी में अब भी काफी क्रिकेट बाकी है।
    सचिन की वापसी के लिए पाकिस्तान के लेजेंड्री कप्तान इमरान खान से प्रेरणा ली जा सकती है। क्रिकेट जगत में इमरान खान एक ऐसा उदाहरण हैं जिन्होंने न सिर्फ 37 साल की उम्र में संन्यास लेने के बाद वापसी की, बल्कि अपने देश को पहले वर्ल्ड कप का तोहफा भी दिया।
    आगे क्लिक कर जानिए, इस महान कप्तान की चैंपियन वापसी की सच्ची दास्तां, जिसने करोड़ों का जीता दिल...
  • नहीं हुआ फिर कभी ऐसा खिलाड़ी
    इमरान खान निर्विवादित रूप से पाकिस्तान क्रिकेट के सबसे महान क्रिकेटर हैं। जवानी के दिनों में प्लेब्वॉय की इमेज वाले इमरान ने अपने खेल से दुनिया भर में अपने फैन बनाए। इमरान दुनिया के महानतम ऑलराउंडर्स में शुमार हैं। वे जब बैट थामते थे तो ताबड़तोड़ रनों की बरसात हो जाती थी और जब गेंद लेकर आक्रमण के लिए उतरते थे, तो सामने खड़ा बल्लेबाज उनकी रफ्तार और बॉल कंट्रोल से धराशायी हो जाता था।
  • क्या टेस्ट, क्या वनडे, सभी में गाड़े इन्होंने झंडे
    इमरान खान किसी एक फॉर्मेट के एक्सपर्ट नहीं थे। टेस्ट और वनडे में उनका जलवा बराबर रहा। बल्लेबाजी की बात करें तो इमरान ने टेस्ट में 37.69 की औसत से 3807 रन और वनडे में 33.41 के एवरेज से 3709 रन बनाए। उन्होंने 6 टेस्ट और 1 वनडे सेंचुरी भी लगाई।
    गेंदबाजी के मामले में भी उनका जलवा रहा। टेस्ट में जहां इमरान ने 362 विकेट चटकाए, वहीं वनडे में उन्होंने 182 शिकार किए।
  • हार से हुए निराश, ले लिया संन्यास
    1987 में वर्ल्ड कप का आयोजन भारत और पाकिस्तान में हुआ था। इमरान की कप्तानी में पाकिस्तानी टीम टूर्नामेंट के सेमी फाइनल दौर तक पहुंच गई थी। लाहौर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए सेमी फाइनल में पाक को पराजय झेलनी पड़ी। एलन बॉर्डर की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने मेजबान को 18 रन से हरा कर फाइनल में एंट्री कर ली।
    उस मैच में इमरान ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 36 रन देकर 3 विकेट चटकाए थे। 268 रन के टार्गेट को हासिल करने के लिए उन्होंने 4 चौकों से सजी 58 रन की पारी भी खेली थी, लेकिन वे अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।
    यह हार इमरान को तोड़ गई। उन्होंने तुरंत कप्तानी से इस्तीफा देते हुए खेल को अलविदा कहने का फैसला कर लिया।
  • पाकिस्तान में मच गया हंगामा
    पाकिस्तान में इमरान खान की लोकप्रियता जबरदस्त थी। उनके संन्यास लेने का ऐलान करते ही फैन्स ने हंगामा शुरू कर दिया। जनता सेमी फाइनल में हार से ज्यादा इस दिग्गज की विदाई से दुखी थी।
  • खुद राष्ट्रपति ने कहा, लौट आओ प्लीज
    इमरान खान क्रिकेट को छोड़ने का मन बना चुके थे, लेकिन उस समय पाक के राष्ट्रपति जिया उल हक ने उनसे मुलाकात कर वापसी के लिए मना लिया। पाकिस्तान की जनता अपने हीरो को हार के साथ विदा होते नहीं देखना चाहती थी। जनता की इच्छा पूरी करने के लिए खुद राष्ट्रपति ने इमरान खान से लौटने की अपील की थी।
  • मान गए इमरान
    राष्ट्रपति की अपील और जनता की दीवानगी देखते हुए इमरान खान ने नेशनल टीम में लौटने का फैसला किया। उनकी वापसी का सम्मान करते हुए उनकी टीम अगले वर्ल्ड कप की तैयारियों में जुट गई।
  • मिशन की शुरुआत हार के साथ
    1992 में फिर से इमरान खान के पास मौका आया कि वे अपने देशवासियों को वर्ल्ड कप का तोहफा दें। इस बार वे बिल्कुल नहीं चूके। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में आयोजित हुए टूर्नामेंट में पाकिस्तान ने इंग्लैंड को 22 रन से हरा कर खिताब पर कब्जा जमाया।
    टूर्नामेंट के पहले मुकाबले में वेस्ट इंडीज ने पाकिस्तान को 10 विकेट से रौंदा था। ऐसा लग रहा था कि एक बार फिर इमरान खान एंड कंपनी का सपना टूट कर बिखर जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। जिम्बाब्वे के खिलाफ अगले मैच में पाक ने शानदार वापसी करते हुए 53 रन से जीत दर्ज की।
  • भारत से खाई मात, फिर भरी हुंकार
    भारत के खिलाफ एक बार फिर उसे 43 रन से पराजय झेलनी पड़ी। साउथ अफ्रीका ने भी पाक को 20 रन से पस्त किया। लगातार दो मैच हारने के बाद पाक ने जो जीत का सिलसिला शुरू किया, फिर वह खिताब हासिल करने के बाद ही थमा। प्रोटीज टीम से हार के बाद पाकिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया को 48 रन, श्रीलंका को 4 विकेट और न्यूजीलैंड को 7 विकेट से हराया।
  • और कर ली दुनिया मुट्ठी में
    सेमी फाइनल में पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को चार विकेट से हराया। फिर फाइनल में इंग्लैंड को 22 रनों से हरा कर खिताब पर कब्जा जमा लिया।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: imran khan return from retirement may inspire sachin tendulkar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Cricket Celebrities

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top