Home »Sports »Cricket »Latest News» Sachin Tendulkar In ODI Team Vs Pakistan Yes Or No

पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज में नहीं खेलेंगे तेंडुलकर!

Dainikbhaskar.com | Dec 20, 2012, 11:53 IST

  • नई दिल्ली. राजनीति में आज जहां गुजरात और हिमाचलसे कुछ लोगों को खुश और कुछ को परेशान करने वाली खबरें आ रही हैं, वहीं खेल जगत से आ रही एक खबर तमाम क्रिकेट प्रेमी को निराश करने वाली है। पाकिस्तान की टीम पांच साल के अंतराल के बाद भारत आ रही है। पड़ोसी टीम यहां तीन वनडे और दो टी-20 मैच खेलेगी। लेकिन अटकलें हैं कि सचिन इस सीरीज से बाहर रखे जा सकते हैं।
    मास्टर ब्लास्टर के नाम से मशहूर इस महान बल्लेबाज ने अब तक अपनी मर्जी से वनडे मैचों में हिस्सा लिया है। उन्होंने जब कहा तब बीसीसीआई ने उन्हें आराम दिया। लेकिन हालिया टेस्ट मैचों में घटिया प्रदर्शन के बाद अब उनकी यह हैसियत शायद ही कायम रहे।
    सूत्रों की मानें तो बीसीसीआई और सेलेक्टर्स के बीच सचिन तेंडुलकर का मुद्दा इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है। घरेलू सीरीज में हार से गुस्साए फैन्स लगातार तेंडुलकर के संन्यास की मांग कर रहे हैं। बोर्ड भी इसी चिंता में है कि क्या सचिन को पाकिस्तान के खिलाफ खेलाया जाए या वनडे टीम को भविष्य के लिए अभी से तैयार किया जाए।
    बीसीसीआई के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, "मुझे नहीं लगता कि अब सचिन को वनडे टीम में रखना चाहिए। आप कपिल देव का उदाहरण ले लीजिए। कपिल जब अपने करियर की समाप्ति की ओर थे तब उन्होंने सिर्फ रिचर्ड हेडली के रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए देर से संन्यास लिया था। इसका खामियाजा उभरते तेज गेंदबाज जवागल श्रीनाथ को उठाना पड़ा।"
    अधिकारी के मुताबिक यदि इस समय बीसीसीआई सचिन तेंडुलकर के करियर को लेकर कोई बैठक करता है तो उसमें कुछ कठोर फैसले लिए जा सकते हैं। बोर्ड के सदस्य चाहते हैं कि सेलेक्टर्स कुछ कड़े निर्णय लें। हालांकि, बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक सचिन तेंडुलकर को इस मसले पर जल्द ही सूचित किया जाएगा।
    आगे क्लिक कर जानिए, हाल में कैसा रहा है सचिन का प्रदर्शन, किस युवा खिलाड़ी के लिए रोड़ा बने हुए हैं सचिन और कैसा है पाकिस्तान के खिलाफ रिकॉर्ड
  • नहीं बन रहे रन
    सचिन तेंडुलकर के खेल में अब मास्टर ब्लास्टर की झलक देखने को नहीं मिल रही। पिछले साल वर्ल्ड कप के दौरान जिस तरह से उनके बल्ले से दनादन रन निकल रहे थे, वैसा अब नहीं दिख रहा। इस साल खेले 19 वनडे और टेस्ट मैचों में वे 26.88 के औसत से कुल 672 रन बना सके हैं।
    इस साल वे कुल एक बार 100 का आंकड़ा पार कर सके। वह भी बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में खेली 114 रन की पारी थी जिससे उन्होंने 100 शतकों का रिकॉर्ड पूरा किया था। इसके अलावा वे कुल तीन अर्धशतक और लगा सके।
  • खराब हुई तकनीक
    2 अप्रैल 2011 को मुंबई में हुए वर्ल्ड कप फाइनल के बाद से 13 दिसंबर 2012 तक तेंडुलकर ने कुल 27 वनडे और टेस्ट मैचों में शिरकत की। इन 27 मैचों की 40 पारियों में वे 11 बार बिना दहाई का आंकड़ा पार किए आउट हुए। कुल तीन बार वे 50 रन बनाने के करीब तक पहुंचे।
    इस दौरान सचिन तेंडुलकर की तकनीक में भी खराबी देखने को मिली। 40 पारियों में से 9 बार वे क्लीन बोल्ड हुए और 9 बार LBW आउट हुए। दो बार वे रन आउट हुए और 20 बार कैच लपके जाने के कारण उनका विकेट गिरा।
  • कौन-कौन से खिलाड़ी हैं लाइन में?
    सचिन तेंडुलकर को वनडे टीम में रखने का मतलब होगा एक युवा खिलाड़ी को मौका मार लेना। 38 साल के सचिन का चयन यदि टीम में होता है तो उन्हें प्लेयिंग इलेवन में रखना भी जरूरी होगा। इससे या तो अजिंक्य रहाणे को बाहर बैठाना होगा।
    मनोज तिवारी, रोहित शर्मा, सुरेश रैना, रवींद्र जडेजा और अंबाती रायुडू वनडे टीम में अपनी सीट पक्की करने की होड़ में लगे हैं। तेंडुलकर का प्लेयिंग इलेवन में खेलना इन सबकी राह अटका सकता है।
  • क्यों है पाकिस्तान सीरीज अहम?
    पाकिस्तान भारत में पांच साल बाद सीरीज खेलने आ रहा है। पड़ोसी देश के साथ मुकाबला हमेशा से अहम रहा है। इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन खिलाड़ी को हिट करवा सकता है। इरफान पठान, एल बालाजी और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी जैसे सितारे पाकिस्तान के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद एकदम से हीरो बन गए थे। इसी कारण हर युवा का टार्गेट पाकिस्तान के खिलाफ मैचों में खेलना और अच्छा परफॉर्म करना होता है। खुद तेंडुलकर ने करियर की शुरुआत पाकिस्तानी टीम के खिलाफ सीरीज से की थी।
  • कैसा है सचिन का पाकिस्तान के खिलाफ रिकॉर्ड
    पाकिस्तानी टीम के लिए सचिन तेंडुलकर हमेशा से बड़ा खतरा रहे हैं। फिर चाहे बात मुश्ताक अहमद की गेंदों पर लगातार चौके जमाने की बात हो या शोएब अख्तर के बाउंसर पर प्वाइंट के ऊपर से छक्का, हर बार तेंडुलकर ने अपना जलवा दिखा कर फैन्स को दीवाना बनाया था।
    तेंडुलकर ने पाकिस्तान के खिलाफ 69 वनडे मैच खेले हैं, जिनकी 67 पारियों में उन्होंने 40.09 के औसत से 2526 रन बनाए हैं। उन्होंने पाकिस्तान के विरुद्ध पांच सेंचुरी और 16 हाफ सेंचुरी भी लगाई हैं। 2003 के वर्ल्ड कप में शोएब अख्तर की गेंद पर लगाया छक्का फैन्स के दिलों को आज भी धड़का देता है। रावलपिंडी के मैदान पर 16 मार्च 2004 को उन्होंने 141 रन बनाए थे। 17 चौकों और 1 छक्के से सजी यह पारी पाकिस्तान के विरुद्ध उनकी सबसे बड़ी वनडे इनिंग रही।
    15 अप्रैल 1996 को शारजाह में हुए वनडे में उन्होंने 118 रन की पारी खेल कर टीम इंडिया को पाकिस्तान पर शानदार जीत दिलाई थी।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: sachin tendulkar in ODI team vs pakistan yes or no
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Latest News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top