Home »Sports »IPL 2017 »IPL @ Rochak» Reason Behind Washington Sundar Name Revealed

पुणे को जिताने वाले इंडियन बॉलर के नाम में क्यों लगा है वाशिंगटन, ये है रीजन

dainikbhaskar.com | May 18, 2017, 18:51 IST

  • पुणे के बॉलर वाशिंगटन सुंदर (लाल घेरे में) एमएस धोनी के साथ।
    स्पोर्ट्स डेस्क. IPL-10 के पहले क्वालिफायर मैच में पुणे ने मुंबई को 20 रन से हरा दिया था। पुणे की जीत के हीरो रहे 17 साल के स्पिनर वाशिंगटन सुंदर। तीन विकेट लेकर वो मैन ऑफ द मैच रहे थे। खेल के साथ ही वाशिंगटन के नाम ने भी सभी को अट्रैक्ट किया। उनका ये नाम कैसे पड़ा इस बारे में उनके पिता ने अपनी लाइफ का इमोशनल किस्सा शेयर किया। गॉडफादर के नाम पर बेटे का नाम...
    - वाशिंगटन सुंदर के पिता एम. सुंदर के अनुसार उन्होंने बेटे का नाम अपने गॉडफादर पीडी. वाशिंगटन के नाम पर रखा है। उन्होंने बताया, ‘मैं हिंदू हूं। हमारे घर के पास दो गली छोड़कर एक्स-आर्मी पर्सन पीडी वाशिंगटन रहते थे। वो क्रिकेट के बहुत शौकीन थे। वो हमारा मैच देखने ग्राउंड पर आते थे। वो मेरे खेल में इंटरेस्ट लेने लगे। यहीं से हमारे बीच अच्छा रिलेशनशिप बन गया।’
    - एम. सुंदर के अनुसार, ‘हम गरीब थे। वाशिंगटन मेरे लिए यूनिफॉर्म खरीदते थे, मेरी स्कूल फीस भरते थे, किताबें लाते थे, अपनी साइकिल पर मुझे ग्राउंड ले जाते थे। उन्होंने हमेशा मेरा हौसला बढ़ाया। मेरे लिए वो सबकुछ थे। जब रणजी की संभावित टीम में मेरा सिलेक्शन हुआ था तो वो सबसे ज्यादा खुश हुए थे।’
    - तभी अचानक 1999 में वाशिंगटन की डेथ हो गई और इसके कुछ समय बाद ही बेटे का जन्म (5 अक्टूबर, 1999) हुआ। सुंदर के अऩुसार, ‘वाइफ की डिलीवरी काफी क्रिटिकल थी, लेकिन सब ठीक से हो गया। हिंदू रिवाज के अनुसार मैंने बेटे के कान में भगवान का नाम लिया, लेकिन ये पहले ही तय कर लिया था कि बेटे का नाम उस इंसान के नाम पर रखना है, जिन्होंने मेरे लिए बहुत कुछ किया था।’ इस तरह एम. सुंदर ने अपने बेटे का नाम वाशिंगटन सुंदर रख दिया। सुंदर के अनुसार यदि उनका दूसरा बेटा होता तो वो उसका नाम भी वाशिंगटन जूनियर रखते।
    आगे की स्लाइड्स में जानें वाशिंगटन सुंदर के बारे में ऐसे ही कुछ और इंटरेस्टिंग फैक्ट्स...
  • वाशिंगटन सुंदर।
    अश्विन की जगह आए पुणे टीम में:
    - 17 साल के वाशिंगटन सुंदर को आर. अश्विन की जगह IPL-10 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट टीम में शामिल किया गया था। अश्विन चोट के कारण इस बार नहीं खेले। सुंदर 10 मैचों में अब तक 8 विकेट ले चुके हैं। मुंबई के खिलाफ क्वालिफायर-1 में उन्होंने 3 विकेट लेकर टीम को जीत दिलाई थी।
  • पुणे के साथी प्लेयर जयदेव उनाद्कट के साथ सुंदर (दाएं)।
    बैट्समैन से बन गए स्पिनरः
    तमिलनाडु के क्रिकेटर सुंदर कभी विकेटकीपर-बैट्समैन बनना चाहते थे, लेकिन अब वो स्पिनर हैं। अंडर-13 स्कूल क्रिकेट टीम में जब उनकी जगह दूसरे विकेटकीपर को ले लिया गया, तो सुंदर ने स्पिन की ओर ध्यान दिया।
  • राहुल द्रविड़ के साथ सुंदर (बाएं)।
    खेल चुके हैं U-19 वर्ल्ड कपः
    वाशिंगटन सुंदर 2017 में वर्ल्ड कप खेलने वाली भारत की अंडर-19 टीम में थे। वर्ल्ड कप के फाइनल में वेस्ट इंडीज के खिलाफ सुंदर कोई विकेट नहीं ले सके थे, लेकिन 9 ओवर में उन्होंने सिर्फ 18 रन दिए थे। इसमें एक मेडन ओवर भी था।
  • पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर ग्लेन मैक्ग्राथ (बाएं) के साथ सुंदर (बीच में)।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: Reason behind Washington Sundar name Revealed
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From IPL @ Rochak

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top