Home »Sports »Other Sports »Others» Indian Olympics Associations Ban Impact

IOA पर BAN: अगले ओलिंपिक में नहीं खेल पाएंगे हम इंडियंस

Dainikbhaskar.com | Dec 04, 2012, 19:31 IST

  • खेल डेस्क. इससे शर्मनाक लम्हा शायद ही कभी भारतीय खेलों के इतिहास में आया हो। गत अगस्त महीने में देश के एथलीट्स ने लंदन ओलिंपिक में रिकॉर्डतोड़ परफॉर्मेंस किया था। महज 6 महीनों में उनकी मेहनत पर अधिकारियों की लापरवाही के कारण कालिख पुत गई।
    इस एक फैसले से भारतीय खेलों का गर्त में जाना तय दिख रहा है। (यहां क्लिक कर जानिए पूरा मामला)
    आखिर क्या होगा इस एक फैसले का असर? आगे क्लिक कर जानें आईओए पर लगे प्रतिबंध से होने वाली 5 परेशानियों के बारे में...
  • नहीं खेल पाएंगे ओलिंपिक
    भारतीय एथलीट आगमी ओलिंपिक और एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। खेलों के महासमर ओलिंपिक का आयोजन 2016 में ब्राजील के रियो डि जिनेरिया में होना है
    । उससे पहले 2014 में एशियाई खेल होंगे।
  • छिन जाएगा तिरंगा

    यदि खिलाड़ियों को आईओसी की तरफ से छूट मिलती भी है तो वे तिरंगे के साथ नहीं उतर पाएंगे। उन्हें स्वतंत्र पार्टिसिपेंट्स के इंटरनेशनल झंडे के अंतर्गत खेलना होगा।

  • रुक जाएगी फंडिंग
    प्रत्येक देश की ओलिंपिक बॉडी को IOC खेलों के विकास के लिए फंड देता है। इसके अलावा खिलाड़ियों के बेहतर विकास और उन्हें नई तकनीकों से अवगत करवाने के लिए एक्सपर्ट मुहैया करवाता है। इस प्रतिबंध के बाद भारतीय एथलीट्स के लिए यह सुविधा हमेशा के लिए बंद हो जाएगी।
  • मेजबानी का ख्वाब भी होगा हराम

    इस शर्मनाक प्रतिबंध के बाद भारत कभी ओलिंपिक के स्तर वाले टूर्नामेंटों की मेजबानी के लिए दावेदारी तक पेश नहीं करवाएगा। 2010 में भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स का सफल आयोजन किया था। लेकिन इस प्रतिबंध के बाद उसने बड़े आयोजनों की मेजबानी का अधिकार खो दिया है।

  • देश का नाम हो गया बदनाम

    यह सिर्फ एक प्रतिबंध नहीं, बल्कि पूरे देश पर एक कालिख है। इसका असर देश की इकॉन्मी और सोशल स्टेटस पर भी दिख सकता है।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: indian olympics associations ban impact
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Others

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top