Home »Sports »Other Sports »Others» Wrestling Dropped From Olympics Indian Medal Hopes Crushed

PICS: जब तेल लगा कर उतरती है हसीना, देखने वालों का निकलता है पसीना

Dainikbhaskar.com | Feb 13, 2013, 10:00 IST

  • खेल डेस्क.प्रतिद्वंद्वी पहलवान को धोबी पछाड़ और फितली पैंतरे के साथ ही सुशील कुमार ने रच दिया ओलिंपिक में इतिहास। दो ओलिंपिक में मेडल जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने हमारे सुशील कुमार। भारत की मेडलों की संख्या बढ़ कर हुई 6। सभी भारतवासियों को अपने इन दो पहलवानों पर गर्व हो रहा होगा।
    इन लाइनों को अखबार में छपे अभी एक साल भी नहीं गुजरा। 2012 में हुए लंदन ओलिंपिक में भारतीय दल को जिन दो शूरवीरों ने बुलंदी पर पहुंचाया, वे दोनों पहलवानी के धुरंधर थे। लेकिन अब 2020 में होने वाले ओलिंपिक खेलों में भारत की मेडल जीतने की उम्मीद सात साल पहले 2013 में ही खत्म हो गई। आईओसी ने पूरे खेल जगत को चौंकाते हुए ओलिंपिक खेलों से रेस्लिंग को बाहर कर दिया।
    ओलिंपिक की सबसे बड़ी बॉडी आईओसी के इस फैसले ने भारतीय उम्मीदों को तगड़ा झटका दिया है। सिर्फ भारत ही नहीं, अमेरिका, जापान, चीन और कनाडा जैसे देश पहलवानी से मेडल जीतने की भरपूर कोशिश करते हैं। लेकिन अब धोबी पछाड़ और फितली जैसे पैंतरे ओलिंपिक खेलों के दौरान नहीं देखने को मिलेंगे।
    पहलवानी में भारत ने मेडल जीते हैं यह बात तो देश का बच्चा-बच्चा जानता है, लेकिन दुनियाभर में पहलवानी के कौन-कौन से प्रकार हैं, इनसे बहुत कम ही लोग रूबरू हैं।
    dainikbhaskar.com लेकर आया है पहलवानी की दुनिया की कुछ ऐसी ही रोचक जानकारी।
    आगे क्लिक कर देखिए, कौन-कौन सी स्टाइल में पहलवान आजमाते हैं अखाड़े में अपना जोर...
  • पहलवानी के खेल में दो पहलवान एकदूसरे पर अपना जोर आजमाते हैं। इंडियन स्टाइल में कहें तो धोबी पछाड़, पटखनी, फितली जैसे पैंतरों से पहलवान अपना दम दिखाने की कोशिश करते हैं।
    ओलिंपिक में रेस्लिंग की एंट्री 708 BC में हुई थी। महज एक बार के आयोजन के बाद पहलवानी की खेलों के महासमर में वापसी हुई। 1896 में एथंस में हुए मॉडर्न ओलिंपिक से पहलवानी लगातार खेलों का एक अहम हिस्सा रहा।
    फ्री स्टाइल रेस्लिंग और भार वर्गों की शुरुआत 1904 में हुई।
    पहलवानी में महिलाओं को हाथ आजमाने का मौका 2004 के ओलिंपिक से मिल सका।
  • पानक्रेशन
    ग्रीक शब्द पान और क्राटोस से मिल कर बने पानक्रेशन का अर्थ है वह जो दूसरे पर काबू पाता है। रेस्लिंग की यह स्टाइल 648 BC से 393 AD तक के ओलिंपिक खेलों में देखने को मिली।
    इस खेल में बॉक्सिंग और पहलवानी का बेहतरीन मिक्स देखने को मिलता है।
  • साम्बो
    साम्बो मार्शल आर्ट की शुरुआत रूस से हुई थी। रूस में इसका उपयोग आत्मरक्षा में किया जाता है। सोवियत रेड आर्मी अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए साम्बो तकनीक का इस्तेमाल करती थी।
    इसमें खिलाड़ी अपने पैरों से तो प्रतिद्वंद्वी को जकड़ सकता है, लेकिन गले से जकड़ना इसमें अवैध माना जाता है।
  • तेल पहलवानी
    पहलवानी का यह स्टाइल तुर्की में बहुत मशहूर है। इसमें खिलाड़ी तेल से सराबोर हो कर अखाड़े में उतरते हैं। इस खेल में पहलवान किसबेट नाम की स्पेशल पैंट पहन कर उतरते हैं।
    प्रतिद्वंद्वी को हराने के लिए एक पहलवान उसे किसबेट से पकड़ कर खींचता है।
    तुर्की में तेल पहलवानी का एक पूरा महोत्सव आयोजित किया जाता है। इस फाइट में खिलाड़ियों को जीतने के लिए 40 मिनट का समय दिया जाता है। निर्धारित समय में फैसला न हो पाने की स्थिति में 15 मिनट का एक्स्ट्रा टाइम भी मिलता है।
  • बीच रेस्लिंग
    पहलवानी की इंटरनेशनल बॉडी FILA ने रेत में होने वाली पहलवानी को 2004 में स्वीकृति दी थी।
    इस खेल में पहलवान स्विमसूट्स पहन कर उतरते हैं। समुंद्र किनारे रेत पर 6 मीटर का घेरा बनाया जाता है, जिसके भीतर यह फाइट होती है। इसमें सिर्फ दो वेट कैटेगरी रखी गई हैं - लाइट और हैवी।
    इस फाइट में प्रतिद्वंद्वी को या तो रिंग के बाहर फेंकना होता है या फिर उसका कंधा जमीन से लगाना होता है।
  • कॉम्बेट ग्रैपलिंग
    कॉम्बेट ग्रैपलिंग एक प्रकार का सुरक्षित मिक्सड मार्शियल आर्ट होता है। इसमें खिलाड़ी या तो विरोधी पर अपनी पकड़ मजबूत कर जीत दर्ज कर सकते हैं या फिर उन पर लात से वार कर सकते हैं।
    इस तकनीक का इस्तेमाल मिलिट्री, पुलिस और सिक्योरिटी ट्रेनिंग में किया जाता है।
  • मिक्सड मार्शल आर्ट्स
    हर तरह से प्रतिद्वंद्वी को मारने की इस खास पहलवानी को लेकर आज कर टीवी शो भी आ रहे हैं। शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा ने हाल ही में एक टीवी रियालिटी शो में इस पहलवानी को दिखाया था।
  • ग्रैपलिंग
    FILA की इस पहलवानी स्टाइल में एक एथलीट दूसरे पर सिर्फ काबू पा कर ही जीत दर्ज कर सकता है। प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी पर पैर या हाथ से वार करना इसमें अवैध माना जाता है। इसमें खिलाड़ी को सिर्फ अपनी पकड़ में कसना होता है।
  • फ्री स्टाइल रेस्लिंग
    पहलवानी की इस स्टाइल को ओलिंपिक खेलों में शुमार किया गया था। इस स्टाइल में खिलाड़ी अपने या प्रतिद्वंद्वी के पैर का वार करने या बचाव करने में इस्तेमाल कर सकता है।
    इस पहलवानी में जीत उस एथलीट की होती है जो कि अपने प्रतिद्वंद्वी को बाहर फेंक देता है या जमीन पर पटक देता है।
  • ग्रीको-रोमन रेस्लिंग
    ग्रीस और रोम की तकनीक के इस मिश्रित रूप को भी ओलिंपिक का हिस्सा माना गया था।
    इसमें भी प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी के कंधे को जमीन से लगाना होता है। इसमें पहलवान दूसरे पहलवान को टंगड़ी अड़ा कर गिरा सकता है। रेस्लर को कमर के नीच मारना इसमें अवैध होता है।
  • शुआई जियाओ
    चीन में पहलवानी की शुरुआत शुआई जियाओ नाम की शैली से हुई थी। यह रेस्लिंग स्टाइल 4,000 साल पुरानी है।
    शुआई जियाओ पहलवानी का चीनी वर्जन है।
  • कॉलेजियेट रेस्लिंग
    यह स्टाइल अमेरिका में बड़ी प्रचलित है। इसे स्कूली या लोकशैली पहलवानी भी कहा जाता है।
  • पुरोरेसू
    पुरोरेसू जापानी प्रोफेशनल रेस्लिंग है। इस पहलवानी में शूट रेस्लिंग और मार्शल आर्ट्स के करारे पैंतरों का इस्तेमाल किया जाता है।
  • लुचा लिबरे
    यह मैक्सिकन प्रोफेशनल रेस्लिंग है। इसमें सामान्य पहलवानी पैंतरों के साथ मार्शल आर्ट्स का भी इस्तेमाल किया जाता है। इसमें पहलवान अपनी एक खास ड्रेसिंग स्टाइल और मास्क के साथ रिंग में उतरता है।
    मैक्सिको में इन पहलवानों को लुचाडोर कहा जाता है। इसमें पहलवान हवा में कूद कर भी विपक्षी पर हमला कर सकता है।
  • रिंगर बुंडसलीगा
    जर्मनी में पहलवानी को इस नाम से बुलाया जाता है। इस पहलवानी में ट्रेडिशनल मूव्स का ही प्रयोग होता है। इस टूर्नामेंट में पहलवानों की टीमें उतरती हैं।
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: wrestling dropped from olympics indian medal hopes crushed
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From Others

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top