Home »Uttar Pradesh »UP Special» Oil Theft Manoj Goyal Special Story

परचून की दुकान चलाता था यह शख्स, ऐसे बनाई अरबों की संपत्ति

dainikbhaskar.com | Mar 31, 2017, 17:29 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

मथुरा रिफाइनरी से 100 करोड़ की तेल चोरी के मुख्य आरोपी मनोज गोयल (इनसेट में) को पुलिस ने रिमांड पर लिया।

आगरा.मथुरा रिफाइनरी से 100 करोड़ की तेल चोरी का मुख्‍य आरोपी मनोज गोयल 30 साल पहले अपने पिता की परचून की दुकान चलाता था। इसके बाद पेट्रोल पंप खोला और फर्जीवाड़े की बदौलत उसने अरबों की अकूत संपत्ति बना ली। उसके ठि‍कानों पर दो बार इनकम टैक्‍स विभाग का छापा पड़ चुका है। नेहरू नगर में 10 करोड़ से अधिक की कीमत का मकान है। बता दें, मनोज के सात पेट्रोल पंप सीज हो चुके हैं और गुरुवार को पुलिस ने उसे रिमांड पर ले लिया है।
ऐसे फ्रॉड बना मनोज गोयल
- मनोज गोयल आगरा के किरावली कस्‍बे का रहने वाला है। यहां पर उसका पैत्रिक आवास है।
- 30 साल पहले उसके पिता की परचून की दुकान थी। मनोज अपने पिता का कारोबार संभालने लगा था।
- इसके लाखों रुपए उधार लिए और उसने फतेहपुर सीकरी में एक पेट्रोल पंप खोला। इस दौरान उसे रिफाइनरी के पाइपलाइन की जानकारी मिली।
- पुलिस सूत्रों के अनुसार, मनोज ने रिफाइनरी के ठेकेदारों से सांठगांठ की। शुरू में चोरी का पेट्रोल और डीजल खरीदने लगा और इसे अपने पेट्रोल पंप पर बेचने लगा।
- इसके बाद मनोज और उसके पिता घूरेलाल गोयल ने परचून की दुकान अपने चाचा का सौंप दी और आगरा के शाहगंज में बस गए।
- 20 साल पहले मनोज ने रिफाइनरी की पाइप लाइन से तेल चोरी करने की योजना बनाई।

20 साल पहले शुरू की रिफाइनरी पाइपलाइन की जमीन की खरीददारी
- 20 साल पहले मनोज गोयल ने चोरी के पेट्रोल व डीजल बेचकर लाखों की संपत्ति बनाई। इसी से उसने दो नए पेट्रोल पंप का लाइसेंस ले लिया।
- पुलिस सूत्रों के अनुसार, अब उसने खुद ही रिफाइनरी की पाइपलाइन में सेंधमारी की योजना बनाई। इसके लिए उसने इंजीनियर और टेक्‍नीशियन को साधा। इसके बाद जिस जगह से पाइपलाइन जा रही थी, उस जमीन को खरीदना शुरू किया।
- मथुरा में रिफाइनरी की पाइपलाइन जहां से होकर जाती हैं, उसका 20 फीसदी से ज्‍यादा हिस्‍सा मनोज गोयल दूसरों के नाम पर खरीद चुका है।

रिफाइनरी के ठेकेदार-पूर्व इंजीनियर से पाइप लाइन में सेंध लगावाई

- मनोज ने रिफाइनरी की पाइप लाइन में सेंधमारी का काम 15 साल पहले शुरू किया। उसने कई इंजीनियर को लाखों रुपए दिए और पाइपलाइन में सेंधमारी करवाई। इन्‍हीं इंजीनियर ने पाइपलाइन की डिजाइन की थी।
- पुलिस को इनमें से कुछ इंजीनियर का पता चला है, जो फरीदाबाद में रहते हैं। इसके लिए 18 लाख रुपए की लेन-देन का रिकॉर्ड मिला है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कैसे की पाइप लाइन में सेंधमारी...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: oil theft manoj goyal special story
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From UP Special

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top