Home »Uttar Pradesh »Lucknow »News » Akhilesh Yadav Distribute Laptop In Lokbhawan

अखिलेश यादव ने कहा- UP में विकास से डेमोक्रेसी चलती है, धर्म से नहीं

dainikbhaskar.com | Dec 03, 2016, 08:40 AM IST

अखिलेश यादव ने कहा- UP में विकास से डेमोक्रेसी चलती है, धर्म से नहीं
लखनऊ.सीएम अखिलेश ने शुक्रवार को लोकभवन में 255 छात्र-छात्राओं को लैपटॉप बांटे। ये सभी 2015-16 के पासआउट मेधावी स्‍टूडेंट्स हैं। कार्यक्रम में अखिलेश ने केंद्र सराकर पर हमला करते हुए कहा कि अच्‍छे दिन वालों ने लाइनों में खड़ा कर दिया। उन्‍होंने कहा कि लोग कहते हैं कि यूपी में धर्म से डेमोक्रेसी चलती है, मैं कहता हूं विकास से डेमोक्रेसी चलती है।
अखिलेश बोले- बदलाव को अपनाना होगा
- अखिलेश ने स्‍टूडेंट्स को संबोधित करते हुए कहा कि ये लैपटॉप आपको इस लिए मिला कि आपने मेहनत की है। मैं आपको बधाई देता हूं।
- देश दुनिया में बदलाव हुआ है, लेकिन एक बहुत बड़ा वर्ग छूट गया है। जागरूकता हो यह सही है।
- हम समाजवादियों ने बहुत दूरियां कम की हैं। जिस रफ्तार से बदलाव आ रहा है उसे अपनाना भी होगा।
लैपटॉप से पूरे परिवार को सहयोग मिलेगा
- सीएम ने कहा कई बार यह सवाल किया जाता है कि हम लैपटॉप क्‍यों बांट रहे हैं।
- हम कहते हैं कि लैपटॉप से लोगों का डर दूर होगा। जिन बच्‍चों के हाथ में लैपटॉप आता है वो खुद के साथ परिवार को भी सीखा देते हैं।
- सोचिए लैपटॉप घर में जा रहा है तो कितना बड़ा काम हो रहा है। इससे पूरे परिवार को सहयोग मिलेगा।
- मुझे याद है मैंने जब पहली बार लैपटॉप बांटा था तो जिस घर में ये गया वहां के लोगों को विश्‍वास नहीं हो रहा था।
- मैं आप से कहूंगा की आप इसी तरह आगे बढ़ें। खूब नाम रोशन करें।
- साथ ही लैपटॉप मिला है तो हजरतगंज में जाइये वहां फ्री वाईफाई भी मिलेगा।
- इतनी रफ्तार वाला वाईफाई और कहीं नहीं मिलेगा, जितना हम समाजवादियों ने दिया है।
विकास से डेमोक्रेसी चलती है
- सीएम ने आगे कहा कि इधर कुछ दिन से बदलाव दिखाई दिया है कि आपको-हमको लाइन में लगना पड़ गया।
- कहा जा रहा है कि डिजिटल पेमेंट होगा, लेकिन लोग कहां तैयार हैं।
- अब हम स्‍मार्ट फोन भी देने जा रहे हैं। अब तक 3 करोड़ से अधिक रजिस्‍ट्रेशन हो चुका है।
- लोग कहते हैं कि यहां तो धर्म से डेमोक्रेसी चलती है। मैं कहता हूं विकास से डेमोक्रेसी चलती है।
अच्‍छे दिन वालों ने लाइनों में खड़ा कर दिया
- अखिलेश ने कहा हमने गांव में खुशहाली पहुंचाने का काम किया है। अच्‍छे दिन वालों ने लाइनों में खड़ा कर दिया।
- बहुत से लोगों की नौकरी चली गई। करोबार खत्‍म हो गया।
- आप भय पैदा करेंगे तो अर्थव्‍यवस्‍था नहीं बढ़ेगी। बहुत से परिवारों ने गुल्‍लक तोड़ दिए। उसमें भी 500-500 के नोट निकले, जिन्‍हें बदलवाना पड़ा।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: akhilesh yadav distribute laptop in lokbhawan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

    More From News

      Trending Now

      Top