Home »Uttar Pradesh »Lucknow »News » DM Aligarh Stopped Salary Of 54 Govt Officers

अलीगढ़ के डीएम ने 54 अफसरों की रोकी सैलरी, शिकायतों को सॉल्‍व न करने पर गिरी गाज

dainikbhaskar.com | Dec 02, 2016, 13:13 PM IST

अलीगढ़ के डीएम राजमणि यादव

अलीगढ़.यहां लोगों की शिकायतों का निस्‍तारण न करने की वजह से अलीगढ़ के एसपी, सीएमओ, सिटी मजिस्ट्रेट और एसडीएम समेत 54 अधिकारियों का वेतन रोक लिया गया है। यह आदेश अलीगढ़ के डीएम राजमणि यादव ने जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायतों के निस्‍तारण में ढिलाई बरतने पर जारी किया है। डीएम बोले​- प्रॉब्‍लम सॉल्‍व होने तक नहीं जारी किया जाएगा वेतन....

- डीएम राजमणि यादव ने इस संबंध में बताया कि कई बार मीटिंग में जनसुनवाई पोर्टल की शिकायतों को जल्द से जल्द निस्तारित करने की बात कही गई थी।
- लेकिन लगातार कहने के बाद भी अधिकारियों ने सुस्त रवैया अपनाए रखा, जिसके बाद अब उनके वेतन रोकने का आदेश जारी किया गया है।
- जब तक समस्या पूरी तरह से सॉल्‍व नहीं होगी तब तक संबंधित अधिकारियों का वेतन नहीं दिया जाएगा।
- इन 54 अधिकारियों में एसपी सिटी, एसपी देहात, सीएमओ, कई एसडीएम, जिला विकास अधिकारी सहित कई पुलिस क्षेत्राधिकारी और थानाध्‍यक्ष शामिल हैं।
डीएम के एक्‍शन से सकते में अधिकारी
- डीएम के इस सख्‍त एक्शन के बाद सभी अधिकारी सकते में आ गए हैं। एसएसपी अलीगढ़ राजेश कुमार पांडेय ने इस बारे में कहा कि हाल के दिनों में त्योहारों का समय चल रहा था, जिसमें सभी अधिकारी व्यस्त थे।
- इस वजह से जनसुनवाई पोर्टल पर की गईं शिकायतों के निस्तारण में देरी हुई है।
क्‍या है जनसुनवाई पोर्टल?
- सीएम अखिलेश यादव ने इस साल जनवरी में जनसुनवाई पोर्टल की शुरुआत की थी। इस पोर्टल के माध्‍यम से शिकायतकर्ता ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा सकता है।
- इन शिकायतों का निस्‍तारण संबंधित अधिकारियों को 15 दिन के अंदर करना होता है।
- इसी पोर्टल की शिकायतों के निराकरण के मामले में अलीगढ़ जनपद का प्रदर्शन बहुत ही लचर बना हुआ था।
आगे की स्लाइड्स में देखें रिलेटेड​ फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: DM Aligarh stopped Salary of 54 govt officers
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    More From News

      Trending Now

      Top