Home »Uttar Pradesh »Lucknow »News » The Girl Returned Alive The Next Day Of The Funeral

अंतिम संस्कार के दूसरे दिन मौत के रहस्य में आया टि्वस्ट, डर गए लोग

dainikbhaskar.com | Mar 22, 2017, 10:08 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

यूपी के रामपुर में एक लड़की दाह संस्कार के एक दिन बाद ही घर लौट आई।

रामपुर.मरने के बाद भूत और प्रेत आत्माओं की चर्चा तो जोरों पर रहती है, लेकिन अंतिम संस्कार के बाद किसी के घर लौट आने की बात पर लोग जल्दी भरोसा नहीं करेंगे। ऐसा ही एक मामला यूपी के रामपुर में सामने आया है, जहां पर एक लड़की दाह संस्कार के एक दिन बाद ही घर लौट आई। उसको देखने के बाद लोग डर गए, लेकिन सच पता चला तो लोग खुश भी हुए।
नोट- वीडियो से फोटो कट क‍िए जाने के कारण क्वालिटी थोड़ी लो है।
- रामपुर जिले के स्वार थाना क्षेत्र में एक खेत से लड़की का अधजला शव मिला था। इसके बाद ग्रामीणों और लोगों की भीड़ लग गई। जब इसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी तो पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम कराने को भेज दिया।
- जब पुलिस ने शव की पहचान कराई तो गांव भूवरी के रहने वाले भूप सिंह ने शव को अपनी बेटी राजरानी का बता कर पहचान की।
- उन्होंने पुलिस को बताया कि उसकी बेटी राजरानी अक्सर घर से कई-कई दिनों के लिए गायब हो जाती है और पिछले 15 दिन से लापता है। इसके बाद उन्होंने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवा कर परसों शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया।
कहानी में आया नया ट्विस्ट
- पुलिस अपनी जांच आगे बढ़ाती, उससे पहले ही कहानी में नया मोड़ आ गया। 24 घंटे बाद ही लापता युवती जीवित लौट आई।
- उसके पिता ने बताया कि उनके बड़े दामाद राकेश कुमार दिल्ली में टेलरिंग करते हैं। वो दामाद कल ही दिल्ली से घर आ रहे थे। उनको मुरादाबाद रेलवे स्टेशन पर लापता बेटी मिल गई। वो उसे घर ले आए।
पुलिस भी हुई हैरान
- भूप सिंह अपनी लड़की को जिंदा देख काफी खुश हैं। परिवार के लोग फौरन राजरानी को लेकर पुलिस के पास पहुंचे और उसके घर सकुशल लौट आने की बात कही।
- वह दिमाग से कमजोर होने के कारण कुछ बताने की स्थिति में नहीं है। पुलिस को भी जब उसके जीवित लौट आने की जानकारी मिली तो उनके होश उड़ गए।
क्या कहती है पुलिस
- थाना प्रभारी स्वार मनोज कुमार पुलिस जिस घटना की तफ्तीश राजरानी की हत्या मानकर आगे बढ़ा रही थी, अब उसके सामने दूसरी चुनौती खड़ी हो गई है।
- मृतका जब राजरानी नहीं है तो फिर शव किसका था और किन परिस्थितियों में खेत तक पहुंचा या फिर खेत में ही हत्या कर जलाया गया।
- पुलिस ने नए सिरे से अज्ञात की हत्या की पड़ताल शुरू की है।
मां ने किया था इनकार
- भूप सिंह ने जब अधजले शव की पहचान अपनी बेटी राजरानी के रूप में की थी, तब उसकी पत्नी चंद्रवती ने शव को बेटी होने से इनकार किया था।
- वो कहती रहीं कि शव उसकी बेटी का नहीं है। मां होने के नाते अपनी बात पर कायम रहीं, लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी। अब बेटी के जीवित लौट आने पर लोगों में इस बात को लेकर चर्चा होती रही।
आगे की स्लाइड्स में देखें रिलेटेड फोटोज...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: The girl returned alive the next day of the funeral
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top