Home »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Amit Shah Supports Yogi Adityanath For UP Chief Minister

INSIDE STORY: भागवत ने किया मोदी को फोन और तय हो गया योगी का नाम

रोहिताश्व कृष्ण मिश्रा | Mar 20, 2017, 23:06 IST

  • बताया जा रहा है कि मोहन भागवत ने सुबह 6.30 बजे मोदी को फोन किया और योगी आदित्यनाथ के नाम पर मुहर लग गई। (फाइल)
    लखनऊ.   योगी आदित्यनाथ जहां यूपी के सीएम बने हैं, वहीं केशव मौर्य और दिनेश शर्मा को डिप्टी सीएम का पद दिया गया है। हालांकि, अमित शाह के करीबी सूत्रों की मानें तो केशव मौर्य सीएम बनने की रेस में आगे थे। लेकिन, ऐन मौके पर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने नरेंद्र मोदी को फोन कर योगी को सीएम बनाने के लिए कहा। इसके बाद योगी को दिल्ली बुलवाया गया और नाम पर मुहर लगा दी गई। मोदी के पास सुबह करीब 6.30 बजे आया भागवत का फोन...
     
     
    - बीजेपी के केंद्रीय कार्यालय से जुड़े करीबी सूत्रों के मुताबिक, शुक्रवार देर रात अमित शाह और संघ पदाधिकारी डॉ. कृष्णा गोपाल के बीच यूपी CM के लिए मीटिंग होती है। वो शाह के सामने मनोज सिन्हा का नाम ख़ारिज कर योगी का नाम रखते हैं। शाह नहीं मानते हैं। ये कह के टाल देते हैं कि अभी मोदीजी सो रहे होंगे। सुबह फोन पर बात करेंगे|
    - अमित शाह के ऑफिस से जुड़े एक करीबी सूत्र के मुताबिक- शनिवार सुबह अमित शाह मोदी को फोन कर पाते, इससे पहले ही करीब सुबह 6:30 बजे मोहन भागवत का फोन PM के पास आता है। वो मोदी से कहते हैं कि आखिरी बार एक चीज मांगना चाहता हूं, मानोगे तो कहूंगा। थोड़ी देर सोचने के बाद मोदी हां बोल देते हैं।
    - भागवत तुरंत योगी को CM बनाने के लिए कहते हैं। मोदी पसोपेश में पड़ गए। हां बोलने के अलावा उनके पास कोई विकल्प नहीं बचता है।
    - भागवत के फोन रखते ही मोदी ने अमित शाह को फोन कर सब बताते हुए कहा- योगी को CM बनाना है। उन्हें बुलवाओ। उसके बाद योगी प्राइवेट प्लेन से सुबह ही  दिल्ली आते हैं और उनकी ताजपोशी को हरी झंडी मिलती है। 
    - बीजेपी के केंद्रीय कार्यालय के करीबी सूत्रों के मुताबिक- योगी के CM बनने के बाद ही अमित शाह ने अपने 2 लोग डिप्टी CM बनाने को लेकर मोदी से मंजूरी ले ली, ताकि योगी कुछ गड़बड़ करें तो ये दोनों शाह के लोग कमांड में रख सके। और तरह UP की सत्ता पर शाह अपना अधिकार रख सकें। इससे पहले तक ये तय हुआ था कि मनोज सिन्हा CM होंगे। दिनेश शर्मा डिप्टी CM होंगे। मौर्य केंद्र में मंत्री बनेंगे।
     
    पर्यवेक्षकों को योगी के नाम की जानकारी ही नहीं थी
    - वेंकैया नायडू और भूपेंद्र यादव UP में विधायक दल के नेता चुनने के लिए पर्यवेक्षक बनाए गए थे। इस नाते वो दोनों शनिवार सुबह ही लखनऊ आ गए थे। लेकिन सुबह  लखनऊ पहुंचने तक दोनों को ये नहीं पता था कि योगी को CM बनाया जाना है। 
    - सुबह 11 बजे तक योगी का नाम भागवत और मोदी की तरफ से फाइनल हो गया। उसके बाद पर्यवेक्षकों को इस बारे में जानकारी दी गई।
     
    दागी छवि आड़े आई
    - सूत्रों के मुताबिक, ओम माथुर केशव मौर्य के नाम पर सहमत थे। उन्होंने अमित शाह के सामने भी इस बात को रखा, लेकिन अमित शाह ने केशव का नाम खारिज कर दिया।  
    - अमित शाह ने तर्क दिया कि जब केशव बीजेपी प्रदेश बने थे, तब दागी नेता को अध्यक्ष बनाने की खूब चर्चा हुई थी। यही नहीं, उन पर हत्या का भी आरोप था। हालांकि, केशव ने अपनी बात रखते हुए कहा कि वह इस आरोप से बरी हो चुके हैं, लेकिन शाह ने उनके नाम पर सहमति नहीं दी।
    - शाह को लगा कि अगर केशव को सीधे सीएम बना दिया गया तो बीजेपी को खासे विरोध का सामना करना पड़ेगा। 
    - ओबीसी कार्ड को ध्यान में रखते हुए केशव पर लगे सारे आरोपों को दरकिनार करते हुए उन्हें डिप्टी सीएम बनाया गया। 
     
    अमित शाह ने कहा- योगी बेहतर हैं 
    - 2019 लोकसभा चुनावों को देखते हुए अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ का नाम आगे किया। उन्होंने तर्क दिया कि योगी को सीएम बनाने से यूपी के ठाकुरों को साधा जा सकता है। 
    - साथ ही डिप्टी सीएम के तौर पर केशव का नाम फाइनल किया, तब जाकर ओम माथुर और केशव मौर्य ने सहमति दी। 
    - मीटिंग में मनोज सिन्हा के नाम पर भी चर्चा हुई, तब ओम माथुर ने अपना तर्क रखा कि यूपी में भूमिहार जाति की ज्यादा संख्या नहीं है। ऐसे में, आगे दिक्कत आ सकती है। 
    - संघ के कई पदाधिकारियों ने भी मनोज सिन्हा के नाम पर अपनी सहमति नहीं दी थी। 
     
    कुछ यूं चलता रहा यूपी में सीएम बनने का ड्रामा 
    - शुक्रवार शाम से ही केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा का नाम सीएम की रेस में सबसे आगे चलने लगा था। यही नहीं, शुक्रवार की रात वाराणसी पहुंचने पर मनोज सिन्हा के पीछे-पीछे मीडिया भी पहुंच गया। 
    - शनिवार सुबह 7 बजे जहां मनोज सिन्हा वाराणसी में काल भैरव का दर्शन कर रहे थे, वहीं केशव मौर्य के शनिवार सुबह 10 बजे लखनऊ पहुंचना था, लेकिन अचानक उन्हें दिल्ली में ही रोक लिया गया। 
    - शनिवार सुबह फिर ओम माथुर और केशव मौर्य अमित शाह से मिलने उनके घर पहुंचे। 
    - उधर, बीजेपी ऑफिस पर सुबह 10 बजे से ही योगी और केशव मौर्य के समर्थक दोनों को सीएम बनाने के लिए प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।  
    - सुबह साढ़े 10 बजे के बाद ही खबर आई की योगी आदित्यनाथ को स्पेशल चार्टर प्लेन से दिल्ली बुलाया गया है। चर्चा यह भी हुई कि योगी की अमित शाह से मुलाकात नहीं हुई। इस दौरान पार्टी लीडर्स के रिएक्शन आते रहे कि सीएम चुनने पर कोई कन्फ्यूजन नहीं है।  
    - दोपहर ढाई बजे खबर आई की मनोज सिन्हा के कार्यक्रम में तब्दीली हुई है और वह अब लखनऊ आ रहे हैं। हालांकि, वह लखनऊ पहुंचे नहीं, जबकि 3 बजे से ही बीजेपी विधायक लोकभवन पहुंचना शुरू हो गए थे। इस दौरान बीजेपी कार्यालय पर जमे कार्यकर्ता नारेबाजी करते रहे। 
    - 4 बजे के आसपास योगी आद‍ित्यनाथ, केशव प्रसाद और ओम माथुर ने दिल्ली से लखनऊ के लिए उड़ान भरी।  
    - साढ़े 4 बजते बजते खबर फैल गई कि अब योगी आद‍ित्यनाथ ही यूपी के सीएम होंगे। साथ ही, 5 बजे के आसपास दोनों डिप्टी सीएम के नाम भी सामने आ गए। 
     
    ये भी पढ़े:
    सरकार किसी से भेदभाव नहीं करेगी: CM का चार्ज संभालने के बाद बोले आदित्यनाथ
    अखिलेश की ओर इशारा कर बोले मुलायम, हंस दिए मोदी: PM के कान में भी कुछ कहा 
    योगी मंत्रिमंडल: कोई पहली बार लड़ा चुनाव, किसी पर 7 क्रिमिनल केस हैं दर्ज
    मुसलमानों से भेदभाव मत करना: योगी के सीएम बनने पर बोले पिता आनंद सिंह
    DB Interview: मुस्लिम ये सोचें कि उनका इलाका ही अति संवेदनशील क्यों होता है - CM बनने से पहले योगी
  • योगी आद‍ित्यनाथ यूपी के नए सीएम होंगे। व‍िधायक दल की मीट‍िंग के बाद उनके नाम पर मुहर लग गई।
  • केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को डिप्टी सीएम बनाया गया है। (फाइल)
  • ऐसे चुने गए योगी सीएम, देखें वीडियो...
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: amit shah supports yogi adityanath for UP chief minister
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top