Home »Uttar Pradesh »Mahakumbh 2013 »News» Angry Shankaracharyas Back In Kumbh Fair

PHOTOS: नाराज शंकराचार्यों का कुम्भ में वापसी का रास्ता साफ

महाकुंभ डेस्क | Jan 05, 2013, 10:17 IST

  • इलाहाबाद. कुंभ मेले में शंकराचार्यों की ज़मीन का विवाद सुलझने की कगार पर है। संगम के तीर्थ पुरोहितों ने इस बारे में अपनी तरफ से पहल करते हुए चारों पीठों के शंकराचार्यों के चतुष्पथ के लिए अपने हिस्से की ज़मीन दे दी है। शंकराचार्यों ने इस ज़मीन पर अपनी छावनी बनाने के प्रस्ताव को मंजूर भी कर लिया है।
    तीर्थ पुरोहितों द्वारा मुहैया कराई गई ज़मीन पर शंकराचार्यों के प्रतिनिधियों ने भूमि-पूजन कर इसका उद्घाटन भी कर दिया है। ज़मीन का विवाद हल होने पर अब कुंभ में जल्द ही शंकराचार्यों की वापसी हो जाएगी। दूसरी तरफ, कुंभ मेला प्रशासन ने लिखित रूप से यह ऐलान कर दिया है कि शंकराचार्य के तौर पर वह सिर्फ आदि शंकराचार्य द्वारा स्थापित चार पीठों के शंकराचार्यों को ही ज़मीन व दूसरी सुविधाएं देगा, बाकी किसी को नहीं।
    तस्वीरों के जरिए जानिए पूरी घटना...
  • कुंभ प्रशासन ने पुरी की गोवर्धन पीठ पर स्वामी निश्चलानंद सरस्वती को शंकराचार्य माना है, जबकि ज्योतिपीठ का केस कोर्ट में चलने की वजह से इस पीठ के लिए स्वामी स्वरूपानंद सरवती और वासुदेवानंद सरस्वती, दोनों को ही सुविधाएं दिए जाने की बात कही है।

  • गौरतलब है कि आदि शंकराचार्य द्वारा स्थापित चारों पीठों के शंकराचार्यों ने इस बार के कुंभ मेले में हरिद्वार की तर्ज पर इलाहाबाद में भी शंकराचार्य चतुष्पथ बनाने की मांग की थी। इसके तहत इन्हें ज़मीन भी दे दी गई, लेकिन बाद में प्रशासन ने यह ज़मीन खाली करने का आदेश देते हुए चतुष्पथ की मांग को खारिज कर दिया। द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती इससे नाराज़ होकर इलाहाबाद छोड़कर चले गए और मेले के बहिष्कार का ऐलान कर दिया था।

  • पुरी और श्रृंगेरी मठ के शंकराचार्यों के आदेश पर उनके प्रतिनिधियों ने भी मेला छोड़ दिया था। कुंभ मेले में जिस जगह चतुष्पथ बनाने का प्रस्ताव था, उसकी एक-तिहाई ज़मीन को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक दूसरे संतों को देने का आदेश दे दिया था। हाईकोर्ट का फैसला आते ही शंकराचार्यों के प्रतिनिधि नरम पड़ गए और उन्होंने तीर्थ पुरोहितों द्वारा सेक्टर-6 में चतुष्पथ के लिए दी गई ज़मीन को मंजूर कर लिया। सभी शंकराचार्यों के प्रतिनिधियों ने तीर्थ पुरोहितों द्वारा दी गई ज़मीन पर पूजा- अर्चना के बाद अपने गुरुओं की तस्वीर को स्थापित कर दिया और चतुष्पथ का उद्घाटन कर दिया।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: angry Shankaracharyas back in Kumbh Fair
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top