Home »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Four Thousand SP Workers Will Kick Out From Party

SPL: सपा से जल्‍द KICK OUT होंगे 4000 'दबंग'

Ajayendra Rajan | Jan 25, 2013, 13:34 IST

  • लखनऊ. मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेते ही अखिलेश यादव ने कहा था कि उनकी पार्टी में जो भी पदाधिकारी हैं उनके अलावा कोई भी कार्यकर्ता अपनी गाड़ियों पर समाजवादी झंडे का इस्‍तेमाल नहीं करेगा। मगर ऐसा नहीं हुआ। पार्टी के बेअंदाज कार्यकर्ता धड़ल्‍ले से अपनी गाड़ियों पर पार्टी के झंडे लगाते दिखाई पड़े। यहीं नहीं जिन्‍होंने झंडा ने लगाया उन्‍होंने मिशन 2014 का पार्टी का स्‍टीकर चिपकाकर खुद को समाजवादी पार्टी से जुड़ा साबित किया। और तो और कई कार्यकर्ता ऐसे भी सामने आए, जिन्‍होंने अपनी गाड़ियों में हूटर और लालबत्‍ती तक लगा दी। ऐसे बेअंदाज कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई करने के लिए समाजवादी पार्टी तैयार हो गई है। सूत्रों के अनुसार करीब 4000 ऐसे कार्यकर्ताओं की सूची तैयार कर ली गई है, जल्‍द ही चरण बद्ध तरीके से इनके खिलाफ कार्रवाई होगी। इस कार्रवाई में पार्टी से निष्‍कासन शामिल है।

    उत्‍तर प्रदेश की 27 जनवरी की प्रमुख खबरें

  • कुछ दिन पहले ही समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और प्रोफेसर राम गोपाल यादव ने अनाधिकृत रूप से वाहनों पर हूटर, लाल बत्ती, मिशन-2014 के स्टीकर और झण्डे लगाकर चलने, होर्डिग लगाने के साथ ही टीम अखिलेश के नाम से विजिटिंग कार्ड छापने पर कड़ी आपत्ति जताई थी और कहा था कि बार-बार चेतावनी दिए जाने के बाद भी कार्यकर्ता समझ नहीं रहे हैं, जल्‍द ही उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

  • यही नहीं ऐसे कार्यकर्ताओं का नाम सामने लाने के लिए एक कमेटी का ऐलान भी किया गया, जिसके 15 सदस्यों में नरेश उत्तम एमएलसी, अरविंद कुमार सिंह सांसद, विजय यादव एमएलसी, संग्राम सिंह, पवन पाण्डेय, राज कुमार राजू, अरुण वर्मा विधायक गण, रामवृक्ष सिंह यादव सदस्य राष्ट्रीय कार्यकारिणी, रमेश प्रजापति सचिव राज्य कमेटी, उमाशंकर चौधरी सदस्य राज्य कमेटी, सुनील सिंह यादव पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष समाजवादी छात्रसभा, अमिताभ वाजपेयी पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष यूथ बिग्रेड, नफीस अहमद पूर्व प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी युवजन सभा, नईमुल हसन पूर्व प्रदेश अध्यक्ष यूथ बिग्रेड और निर्भय सिंह पटेल पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लोहिया वाहिनी शामिल हैं। साथ ही ऐलान किया गया झंडा बैनर आदि अनाधिकृत रूप से लगाने वाले कार्यकर्ता पकड़े जाते हैं तो जिला प्रमुखों की जिम्‍मेदारी मानी जाएगी।

  • खुद मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने सभी जिला और नगर अध्यक्षों को आदेश दिया कि वे अपने जिलों में झण्डे लगे वाहनों पर हूटर लगाकर जनता पर सरकार का रौब झाड़ने वालों की सूची तैयार करें। सभी ने मिलकर ऐसे 4000 से ज्‍यादा लोगों की शिकायत आलाकमान तक पहंचाई गई। सूत्रों के अनुसार पूरी सूची 26 जनवरी तक बनकर तैयार हो जायेगी। उसके बाद इनका चरणबद्ध तरीके से निष्कासन किया जायेगा।

  • जानकारों की मानें तो समाजवादी पार्टी अपने इन कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करके संगठन को अनुशासित करने की कोशिश में है। खुद मुलायम सिंह यादव कई बार सार्वजनिक तौर पर प्रदेश सरकार के आम कार्यकर्ताओं के साथ ही मंत्रियों, विधायकों तक को चेतावनी दे चुके हैं कि पार्टी लाइन से हटकर काम करने वालों को बख्‍शा नहीं जाएगा। एमएलसी रमेश बाबू यादव कहते हैं कि विजिटिंग कार्ड पर सपा मुखिया की फोटो होने को गंभीरता से लिया गया है। पार्टी पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि अपनी गाड़ी में कोई होर्डिग, हूटर या लाल बत्ती नहीं लगाएंगे। राष्ट्रीय, प्रदेशीय, जिला स्तरीय और विधानसभा स्तरीय संगठन द्वारा निर्धारित कार्यक्रमों की होर्डिग संगठन अध्यक्ष के स्तर से ही लगा सकेंगे। आयोजक भी अपना फोटो नहीं लगा सकते। राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेश अध्यक्ष और मुख्य अतिथियों के ही फोटो लगाए जा सकते हैं।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: four thousand SP workers will kick out from party
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top