Home »Uttar Pradesh »Allahabad » Huge Crowed Gathered Before Shahi Snan

PICS: मौनी अमावस्या स्नान की पहली तस्वीरें

Ashish rai | Feb 10, 2013, 04:24 AM IST

कुंभ कैंपस.मौनी अमावस्या पर महाकुंभ में स्नान करने पहुंचे लोगों के बीच रविवार को इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर भगदड़ मच गई।प्लेटफॉर्म नंबर 6 के पास पुल की रेलिंग टूटने से हुए इस हादसे में अब तक 26 लोगों के मरने की खबर है। अब तक मरने वाले 6 लोगों की पहचान हो चुकी है। वहीं, तीन दर्जन से ज्यादा लोग जख्मी बताए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व उत्तर प्रदेश के चरखारी से भाजपा विधायक उमा भारती घायलों से मिलने रेलवे अस्पताल पहुंची हैं।

उमा भारती ने राज्य सरकार और रेलवे पर हादसे का ठीकरा फोड़ा है। उमा का कहना है की जब राज्य सरकार को सब पता था तब उन्हे इस भीड़ से निपटने के लिए इन्तजाम करने चाहिए थे। लेकिन न तो रेलवे की तरफ से और न ही राज्य सरकार की तरफ से कोई पुक्ता इन्तजाम किए गए।उन्होंने कहा की अगर समय पर चिकित्सा मिल गयी होती तो कई जाने बचाई जा सकती थी। उमा ने कहा की जिनकी लापरवाही से ये मौतें हुई हैं वे हत्यारे हैं।

वहीं यूपी के नवनियुक्त कारागार मंत्री राजेंद्र चौधरी ने कहा की रेलवे और केंद्र से जितनी मदद मांगी गयी थी वह नहीं मिली जो की इस घटना के पीछे जिम्मेदार हो सकती है। रेल मंत्री पवन बंसल ने पूरे मामले में एक जांच टीम गठित करने की बात कही है।

रेलवे के डी आई जी लाल जी शुक्ल का कहना ने हादसे में 20 लोगों के मरने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि क़रीब 40 लोग गंभीर रूप से घायल हुए है। डीआईजी का कहना है की हादसे की असली वजहों का खुलासा नहीं हो पाया है लेकिन एक बात तय है कि यह हादसा एक साथ ज्यादा भीड़ बढ़ने के कारण हुआ है।


हादसे में घायलों को रेलवे स्टेशन के पास के हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है। जहां अभी भी कई की हालत गंभीर बनी हुई है। कुछ घायलों को इलाहाबाद के स्वरूप रानी मेडिकल हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया है और जो गंभीर रूप से घायल है उन्हें लखनऊ भेजने की तैयारी की जा रही है।

वहीं, स्टेशन पर बाकी ट्रेनों का आवागमन पूरी तरह से फिलहाल रोक दिया गया है। यूपी सरकार नें घटना के बाद केंद्र से महाकुंभ के लिए और ट्रेने चलाने का आग्रह किया। रेल मंत्री पवन कुमार बंसल ने बताया कि 50 अतरिक्त ट्रेने इलाहाबाद भेजी जा रहीं हैं। रेल मंत्री का कहना है कि मेरी जानकारी के अनुसार फुटओवर ब्रिज नहीं टूटा।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रु. और घायलों को 1-1 लाख रु. मुआवजे देने का एलान किया है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी मुआवजे की घोषणा की है, हालांकि मुआवजे की राशि कितनी है इसका पता अभी नहीं चल सका है।

इस बीच डेढ़ दर्जन घायलों को इलाहाबाद के स्वरुप रानी नेहरु मेडिकल कॉलेज के अस्पताल और बेली अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उधर प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, यूपी के सीएम अखिलेश यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव, बसपा अध्यक्ष मायावती और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर शोक जाहिर किया है। वहीं यूपी राजस्व परिषद के अध्यक्ष को पूरी घटना की जांच की जिम्मेदारी सौपी गयी है।

कुछ चश्मदीदों के मुताबिक पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसकी वजह से भगदड़ मची और लोग एक दूसरे को कुचलते गए।हादसे को लेकर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शोक जताया है। पीएम ने कहा कि घायलों को अच्छी से अच्छी सुविधाएं मुहैय्या कराई जाए। साथ ही रेल मंत्रालय को पीड़ितों को पूरी मदद देने का आदेश भी दिया। वहीं, यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने इस हादसे की जांच के लिए कमेटी गठित कर दी है।

यूपी पुलिस के आईजी (लॉ एंड आर्डर) बी पी सिंह ने लखनऊ में इलाहाबाद जंक्शन रेलवे स्टेशन पर कुछ लोगों की भगदड़ में मौत की पुष्टि की है पर उनकी संख्या बताने में असमर्थता जाहिर की। उनका कहना है की वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुच गए हैं और पूरे मामले पर नज़र बनाये हुए हैं।

भगदड़ प्लेटफार्म नंबर छह पर मची थी। इससे पहले महाकुंभ में एक श्रद्धालु की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। रविवार कोकरीब तीन करोड़ लोगों ने शाही स्नान किया।

रेलवे ने हादसे को लेकर हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं।
हेल्पलाइन नंबर
इलाहाबाद: 0532-2408149, 2408128, 2407353
कानपुर: 0512-2323015
आगरा: 0562-1072
मुगलसराय: 05412-254145
नयी दिल्ली: 011-23341074, 23342954
निजामुद्दीन: 011-24357660रेलवे हेल्पलाइन नंबर:
इलाहाबाद: 0532-2408149, 2408128, 2407353
कानपुर: 0512-2323015
आगरा: 0562-1072
मुगलसराय: 05412-254145
नयी दिल्ली: 011-23341074, 23342954
निजामुद्दीन: 011-24357660
आगे की स्लाइड्स में देखें शाही स्नान की एक्सक्लूसिव तस्वीरें
ये भी पढ़ें

गिटार पर गजल गाने वाले अफजल की जिंदगी का सच, जानिए

Well Educated अफजल कैसे और क्‍यों बना आतंकी, पढ़िए उसकी कहानी

फांसी के बाद भी 'अफजल' से नहीं छूट रहा पीछा

इन 5 कारणों से उठे अफजल की फांसी पर सवाल!

INSIDE STORY: कड़े फैसले के 4 बड़े किरदार

PHOTOS: फांसी का विरोध करने वालों की हुई पिटाई, मुंह पर कालिख भी पोती

परिवार ने मांगी कब्र पर इबादत की इजाजत

अफजल को फांसी: शिंदे ने हड़बड़ में कर दी गड़बड़

फांसी से पहले अफजल ने मांगी थी कुरान, पढि़ए- उसके अंतिम पलों का ब्‍यौरा

तिहाड़ में ही दफन किया गया अफजल!

पाकिस्‍तान में बदले की भावना, उठी सरबजीत को फांसी की मांग

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Huge Crowed Gathered Before Shahi Snan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

    Trending Now

    Top