Home »Uttar Pradesh »News» Crime Against Women In Akhilesh Govt

अखिलेश 'राज' में महिलाओं पर अत्याचार, दहली यूपी

अजयेंद्र राजन/संमय प्रकाश | Jan 05, 2013, 12:25 IST

  • लखनऊ. यूपी के सीएम अखिलेश यादव कहते हैं कि महिला उत्‍पीड़न कतई बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। वह दिल्‍ली गैंगरेप मामलेमें पीड़ित परिवार को 20 लाख रुपए भी जारी कर चुके हैं और कहते हैं कि इसके लिए कानून में बदलाव के वो हिमायती हैं और जो भी बन पड़ेगा वह करेंगे। लेकिन प्रदेश में महिलाओं के लिए हालात बदतर होते जा रहे हैं। नए साल में अब तक एक दर्जन से ज्‍यादा रेप केस सामने आ चुके हैं। कहीं मंदबुद्धि किशोरी को वहशी नोंच रहे हैं तो कहीं पुलिसवाला वर्दी को शर्मसार कर रहा है। कई मामलों में तो एफआईआर तक दर्ज नहीं हुई है। और, पंचायत बलात्‍कार पीड़ित 13 साल की बच्‍ची की कीमत 50 हजार रुपए बता रही है।
    देश भर में कहीं नहीं रुक रहे रेपआगे क्लिक कर पढ़ें यूपी में इस साल हुई रेप की घटनाओंके बारे में और महिलाओं पर अत्‍याचार की कुछ दास्‍तां...

    आज की प्रमुख खबरों पर एक नजर:

    'दामिनी'के साथ क्‍या हुआ था उस रात,साथ रहे दोस्‍त ने सुनाई दिल दहला देने वाली आंखों देखी

    टीम इंडिया की 5बीमारी और इलाज के 5नुस्‍खे

    टीम इंडिया में आपसी दरार

    जानलेवा ठंड,जमा राजस्‍थान

    सोनिया पर वायुसेना के विमान का गलत इस्‍तेमाल करने का आरोप

    नहीं रुक रहे रेप

    ...तो क्‍या बंद हो जाएगा इंटरनेट

    PHOTOSजरा हट के:डिलीवरी के दौरान बच्‍ची ने पकड़ी डॉक्‍टर की अंगुली

  • गैंग रेप कर जिन्दा जलाने का प्रयास, जिंदगी की जंग लड़ रही पीड़िता
    उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में एक नाबालिग़ लड़की के साथ न सिर्फ सामूहिक बलात्कार किया गया, बल्कि आरोपियों ने पकड़े जाने के डर से लड़की पर तेज़ाब और मिटटी का तेल डाल कर जिन्दा जलाने का प्रयास किया। गंभीर रूप से जली पीड़िता जिंदगी और मौत के बीच अंतिम सांसे गिन रही है। इलाहाबाद के स्वरुपरानी हॉस्पिटल में जिंदगी और मौत से दो-चार हो रही लड़की को देख कर अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसको किस दरिंदगी का सामना करना पड़ा है। इस लड़की के साथ दरिंदगी की ऐसी वारदात हुई है जिसे सुन कर किसी की भी रूह कांप जाए। घटना 28 दिसंबर की है, जहां घर से बाज़ार के लिए निकली एक लड़की को चार लड़के उठा कर ले गए।
  • 13 साल की बच्‍ची की अस्‍मत की कीमत 50 हजार रुपए
    कुंडा में कोतवाली क्षेत्र के मौली गांव में किशोरी को गांव का युवक तमंचे के बल पर नागपुर उठा ले गया था। कई दिनों तक वह दुराचार करता रहा। उसके चंगुल से छूटकर किशोरी घर पहुंची। पुलिस के सुनवाई न करने पर एसपी से गुहार लगाई। रिपोर्ट दर्ज होने पर आरोपियों ने दबाव बनाकर गांव में पंचायत कराई। कुछ पंचों ने आबरू की कीमत पचास हजार रुपये लगा दी। मतभेद के चलते फैसला नहीं हो सका। गांव के ही निवासी किशोरी के भाई ने एसपी को दी तहरीर में कहा है कि उसका परिवार गांव आया था। इसी दौरान गांव का एक युवक 13 वर्षीय उसकी बहन को तमंचे के बल पर उठा ले गया। चार-पांच दिन बाद बहन बदहाल हालत में घर लौटी और बताया कि गांव का युवक उसे नागपुर उठा ले गया था। कमरे में बंद कर दुराचार करता रहा। उसे बेचने की भी कोशिश की गई। मौका मिलने पर किसी तरह वह वहां से भाग निकली। भुक्तभोगी ने घटना की तहरीर स्थानीय पुलिस को दी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। 29 दिसंबर को एसपी से गुहार लगाई तो रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया। रिपोर्ट दर्ज होने की जानकारी मिलने पर विपक्षी ने दो जनवरी की शाम समझौते के लिए गांव में पंचायत बुलाई। पंचायत में पीड़िता के पिता ने बेटी के बालिग होने पर आरोपी के साथ ही शादी कराने की मांग रखी। इसे पंचायत ने नकार दिया। कुछ पंचों ने आबरू की कीमत 50 हजार रुपये लगाते हुए मामला रफा-दफा करने का फरमान सुना दिया। इस पर मतभेद हो गया और कोई फैसला नहीं हो सका।
  • मेरठ के सरधना क्षेत्र के सरूरपुर के पांचली बुजुर्ग गांव में तीन लोगों ने समुदाय विशेष की मंदबुद्धि किशोरी से सामूहिक दुराचार कर दिया। घटना को लेकर दो समुदायों के लोगों में तनाव की स्थिति बन गई। पुलिस को भी जमकर विरोध झेलना पड़ा। लड़की की चीख सुनकर दौड़े ग्रामीणों ने एक आरोपी को धर दबोचा और उसे मौके पर पहुंचे पुलिस दल के हवाले कर दिया। बाद में पुलिस ने पीड़िता के बयान पर दूसरे आरोपी को भी हिरासत में ले लिया। तीसरे आरोपी की तलाश पुलिस कर रही है। घटना की शिकार बनी 11 वर्षीया किशोरी के पिता की 10 साल पहले मौत हो गई थी। दो भाई सुबह जब मजदूरी करने गए थे, वहीं मां सरधना में चिकित्सक के यहां दवा लेने गई थी। दिन के करीब 11 बजे किशोरी घर के बाहर अन्य बच्चों के साथ खेलने लगी। इसी दौरान बच्चे एक उपासना स्थल के सामने चले गए। मौका पाकर तीन युवक किशोरी को उपासना स्थल के कमरे में जबरिया खींच ले गए। आरोप है कि वहां इन तीनों ने किशोरी से गैंगरेप किया। बचाव के लिए किशोरी के चिल्लाने पर ग्रामीण उधर दौड़ पड़े। आरोपी कमरे से निकलकर भागने लगे। ग्रामीणों ने पीछा कर उनमें से एक को धर दबोचा।
  • कानपुर में पड़ोसी के घर में लाही कूटने गई एक किशोरी से कोतवाली क्षेत्र के गिरंदापुरवा गांव में मोहल्ले के ही युवक रंगीलाल उर्फ शिवसिंह ने रेप किया। किशोरी के शोर मचाने पर आरोपी धमकी देते हुए भाग निकला। बाद में घाटमपुर कोतवाली में किशोरी के पिता की ओर से घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने किशोरी को अस्‍पताल भिजवाया। कानपुर देहात के रसूलाबाद में सिठऊमताना गांव में पांच युवक आसकरन, गोविंद सिंह, उस्मान खां, जमीर अहमद, इरफान अली एक किशोरी को सोते समय उठा ले गए और गैंगरेप कर उसकी हत्‍या कर दी व लाश खेत में फेंक दी। किशोरी के पिता ने पांच लोगों पर अपहरण, गैंगरेप व हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। बांदा में 20 वर्षीय विवाहिता युवती के साथ युवक ने दुराचार किया। पीडि़ता के शोर मचाने पर पास में ही खेत में काम कर रहे लोग और पड़ोसी दौड़ पड़े। आरोपी दीवार फांदकर भाग निकला। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। फतेहगंज थाना क्षेत्र के एकपुरवा में दोपहर को विवाहिता घर में अकेली थी। मौका पाकर गांव का ही राममिलन यादव घर में घुस आया और युवती के साथ दुराचार किया। युवती ने शोर मचाया तो वह भाग निकला।

  • कन्‍नौज में एकतरफा प्यार में पागल युवक ने शादी से इनकार करने पर अपने गांव की युवती पर तेल छिड़क कर आग लगा दी। उसकी हालत गंभीर है। घटना के बाद आरोपी फरार हो गया। पुलिस हिरासत में उसके पिता ने बताया कि युवती ही उसके पुत्र पर शादी के लिए दबाव डाल रही थी। मना करने पर उसने स्वयं आग लगा ली। देर रात तक पुलिस घटना की रिपोर्ट दर्ज न कर लीपापोती में व्यस्त थी। एटा के मलावन क्षेत्र के दतौली गांव में एक महिला को एक जनवरी को कुछ लोगों ने मारपीट कर निर्वस्त्र कर दिया था। साथ ही उसके पति को मारपीट कर घायल कर दिया। इसकी रिपोर्ट महिला के पति ने मलावन थाना में दर्ज कराई है। पुलिस के अनुसार एक जनवरी को मलावन क्षेत्र के गांव दतौली निवासी देवेन्द्र के पुत्र ने गांव के ही राकेश के पुत्र के साथ मारपीट की थी। इसकी शिकायत करने गई राकेश की पत्नी को देवेंद्र ने चार अन्य साथियों के साथ मिलकर मारपीट कर निर्वस्त्र किया।
    बहराइच में एक सिपाही ने अपने ही साथी पुलिसवाले की बेटी के साथ छेड़छाड़ कर दी। किशोरी के शोर मचाने पर दौड़े परिजनों ने सिपाही को जमकर पीटा। इस मामले में सिपाही के खिलाफ छेड़छाड़ की रिपोर्ट कोतवाली देहात में दर्ज की गई है। एसपी ने तत्काल प्रभाव से आरोपी सिपाही को निलंबित कर दिया है। मामले की जांच सीओ सिटी को सौंप दी है। कोतवाली देहात में तैनात सिपाही जयप्रकाश यादव ने अपने साथी पुलिसवाले की बेटी के साथ छेड़छाड़ की। लड़की के शोर मचाने पर परिवार के लोग दौड़े। इस पर छेड़छाड़ करने वाला सिपाही हमलावर हो गया। किशोरी के परिजनों के साथ ही इकट्ठा हुए कॉलोनी के लोगों ने सिपाही की लात-घूसों से जमकर पिटाई की।
  • हाथरस में युवती को जिंदा जलाया, कानपुर में युवती ने लगाई फांसी
    कानपुर में मनचले से परेशान युवती ने फांसी लगा ली। हाथरस में विरोध करने पर मनचलों द्वारा जलाए जाने वाली युवती की मौत हो गई। कानपुर के नौबस्‍ता इलाके में शनिवार की सुबह एक युवती घर में फांसी पर लटकी मिली। 22 वर्षीय युवती की 6 फरवरी को शादी होने वाली थी और फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर रही थी। उसने अपने सुसाइड नोट में मनचले से परेशान होकर यह कदम उठाने की बात कही है। नोट में उसने मनचलों का नाम लिखा है। नौबस्‍ता थानाप्रभारी के मुताबिक इसी इलाके का एक युवक उसे परेशान करता था। सुसाइड नोट में युवती ने लिखा है कि युवक उसे ब्‍लैकमेल कर रहा था। बार-बार शादी रोकने और उससे शादी करने का दबाव दे रहा था। उसके पिता को युवक के दो दोस्‍तों ने धमकी भी दी थी। परिवार की बदनामी और कुछ न कर पाने की वजह से उसने आत्‍महत्‍या कर ली।
    हाथरस में एक मनचले ने चार दिन पहले को युवती को छेड़ा। इसके विरोध में युवती ने हंगामा कर दिया। थोड़ी देर बाद गुस्‍साए युवक ने युवती पर मिट्टी का तेल छिड़कर दिया और आग लगा दी। युवती को 90 फीसदी जली हुई हालत में अस्‍पताल में भर्ती करवाया गया। देर रात उसे अलीगढ़ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया गया। शनिवार की सुबह युवती की मौत हो गई। पुलिस अब तक उस मनचले का पता नहीं लगा पाई है। हाथरस के एसपी हैप्पी गुप्तन ने बताया कि इस मामले पर गंभीर कार्रवाई की जा रही है। मुजफ्फरनगर में 27 दिसम्‍बर को एक युवती को पांच युवक उठाकर ले गए। युवती का आरोप है कि उसके साथ पांच दिनों तक बलात्‍कार किया गया। दो दिन पहले पुलिस ने उसे रिहार करवाया। पहले पुलिस इस मामले को प्रेस प्रसंग बता रही थी। शनिवार की सुबह अदातल में युवती ने बलात्‍कार की बात कही। इसके बाद मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई हुई।
  • बलात्‍कार की इन बढ़ती घटनाओं पर बसपा सुप्रीमो कहती हैं कि मुख्‍यमंत्री लाचार हैं। जब वह खुद कह रहे हैं कि क्‍या अब उन्‍हें पुलिस की वर्दी पहननी पड़ेगी तो इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह कितने लाचार हैं। उधर भाजपा के प्रवक्‍ता राजेन्द्र तिवारी कहते हैं कि हालात यह है कि केवल महिला उत्पीड़न व बलात्कार के 1533, छेड़खानी के 1669, शीलभंग की 2983 घटनाएं एक साल में दर्ज हुई है, जिनमें 39 नाबालिग इसकी शिकार हुई है। गम्भीर बात यह है कि उत्तर प्रदेश के पुलिस प्रशासन की कार्यशौली आये दिन विवाद का विषय बन रही है। यह चिंता का विषय है। सपा के राजेंद्र चौधरी कहते हैं कि पांच साल के बसपा शासनकाल में महिलाओं के साथ अत्याचार होते रहे। लखनऊ, कानपुर, फैजाबाद, इटावा जैसे शहरो में महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाएं घटीं, वहीं बांदा और लखीमपुर, बहराइच के ग्रामीण इलाकों में भी महिलाओं एवं किशोरियों को दरिंदगी का शिकार होना पड़ा। सपा की जब से सरकार बनी हैं, कानून व्यवस्था की स्थिति में नियंत्रण के साथ महिलाओं के सम्मान और सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री जी स्वयं इस मामले में बहुत संवेदनशील है। वूमेन पावर लाइन 1090 को पूरे प्रदेश में प्रभावी किया गया है। आदेश दिया गया है कि छेड़खानी, शारीरिक और मानसिक उत्पीड़न, बलात्कार, दहेज उत्पीड़न व हत्या के अपराधों की शिकायत पर तत्परता से कार्यवाही की जाए।

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
Web Title: crime against women in Akhilesh govt
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top