Home »Union Territory »New Delhi »News» Martyr Amit Deswal Wife Become An Army Officer

शहीद की पत्नी ने ठुकराई सरकारी नौकरी, अब ले रहीं आर्मी की टफ ट्रेनिंग

dainikbhaskar.com | Mar 09, 2017, 07:15 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

मणिपुर में एक सर्च ऑपरेशन के दौरान अलगाववादियों से मुठभेड़ में मेजर देसवाल शहीद हो गए थे।

नई दिल्ली. पिछले साल मणिपुर में एक सर्च ऑपरेशन के दौरान अलगाववादियों से मुठभेड़ में मेजर देसवाल शहीद हो गए थे। शहीद के तीन साल के बेटे की जिम्मेदारी उनकी पत्नी नीता पर आ गई। हरियाणा सरकार ने नीता को सरकारी नौकरी ऑफर की, लेकिन देशसेवा के लिए समर्पित शहीद की पत्नी ने आर्मी की नौकरी करने की ठानी ली थी। आसान नौकरी को ठुकराकर नीता ने एसएसबी का एग्जाम पास कर लिया। अब वे 1 अप्रैल से आर्मी की ट्रेनिंग के लिए जांएगीं। मेरे लिए आर्मी ही सब कुछ...

- मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले की रहने वाले शहीद अमित देशवाल की पत्नी नीता देशवाल को राज्य सरकार ने नौकरी भी ऑफर की थी।
- नीता का मन पति की तरह ही आर्मी में रहकर देशसेवा करने का ही था, इसलिए उन्होंने इस नौकरी को ठुकरा दिया।
- ससुराल पक्ष ने भी इसके लिए हामी भर दी और उन्हें दिल्ली में एसएसबी (सर्विस सिलेक्शन बोर्ड) की तैयारी के लिए दिल्ली भेज दिया।
- मेहनत और लगनते पर नीता देसवाल ने एग्जाम क्लियर कर लिया। नवंबर 2016 में उन्हें शॉर्ट सर्विस कमिशन के लिए चुना गया।
- नीता को अब 49 दिनों की कठिन ट्रेनिंग के लिए चेन्नई भेजा जाएगा।
पति को मानती हैं हीरो
- आर्म्ड फोर्सेस ऑफ इंडिया में चयनित होने के बाद नीता काफी खुश हैं। वे अपना आइडियल दिवंगत पति अमित को मानती हैं।
- नीता का कहना है कि उनके परिवार के लिए आर्मी ही सबुकछ है। आर्मी से दूर रहने की वे एक पल सोच भी नहीं सकतीं।
- आर्मी से जुड़कर वे हर पल अपने पति की यादों के साथ जीना चाहती हैं।
- ससुरालवाले भी नीता के तीन वर्षीय बेटे अर्जुन को संभालने के लिए तैयार हैं।
- नीता देशवाल को भोपाल स्थित आर्मी सलेक्शन सेंटर में शॉर्ट सर्विस कमिशन कोटे के तहत रिकमंड किया गया है।
आगे की स्लाइड्स में देखिए, नीता देसवाल की अन्य तस्वीरें...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: martyr Amit Deswal wife become an army officer
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top