Home »Union Territory »New Delhi »News» Rajya Sabha Voting Today: High-Stakes In Uttar Pradesh, Haryana & Rajasthan.

राज्यसभा चुनाव: 7 राज्यों की 27 सीटें पर आज वोटिंग, यूपी-हरियाणा में मुकाबला दिलचस्प

dainikbhaskar.com | Jun 11, 2016, 08:32 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

निर्मला सीतारण को जीत की बधाई देते कर्नाटक बीजेपी के नेता।

नई दिल्ली.राज्यसभा की सात राज्यों की 27 सीटों के लिए शनिवार को हुई वोटिंग के नतीजे आ गए। इनमें 11 सीटें बीजेपी ने जीत ली हैं। इसके साथ ही, उसने सदन में पहली बार 50 का आंकड़ा पार कर लिया। उसकी अब 53 सीटें हैं। कांग्रेस पहली बार 60 के अंदर सिमट गई है। अब राज्यसभा में उसके कुल 59 मेंबर हैं। यूपी से कांग्रेस के कपिल सिब्बल जीते तो बीजेपी समर्थित प्रीति महापात्रा हार गईं। वहीं, एमपी में भी बीजेपी तीन में से दो ही सीट जीत पाई। कांग्रेस के विवेक तन्खा की अपर हाउस में एंट्री हो गई। हरियाणा में उलटफेर हुआ। यहां एक सीट बीजेपी के खाते में गई। दूसरी सीट पर बीजेपी के सपोर्ट से खड़े हुए सुभाष चंद्रा कांग्रेस में फूट का फायदा उठा कर जीत गए। आरके आनंद को पार्टी की अंदरूनी कलह और 14 वोट रिजेक्ट होने के कारण हार का सामना करना पड़ा। किस राज्य से कौन जीता...
- राज्यसभा के लिए 15 राज्यों से 57 सीटें खाली हुई थीं। इनमें से 14-14 सीटें बीजेपी और कांग्रेस की थीं।
- 7 सपा की, 5 जदयू, 3-3 बीजेडी और एआईएडीएमके से थीं।
- 2-2 सीटें बसपा, डीएमके, एनसीपी और टीडीपी और 1-1 वाइएसआर कांग्रेस, शिवसेना और शिरोमणि अकाली दल से खाली हुई थीं।
- 8 राज्यों से 31 मेंबर निर्विरोध चुने गए।
- 7 राज्यों की 27 सीटों पर चुनाव हुआ।
- राजस्थान की चारों सीटें बीजेपी ने जीत ली। यहां कांग्रेस के सपोर्ट से खड़े निर्दलीय कैंडिडेट को हार मिली।
- यूपी में 11 सीटों पर हुई वोटिंग में 7 सपा, 2 बीएसपी और 1-1 कांग्रेस और बीजेपी के खाते में गई।
- यहां बीजेपी ने निर्दलीय प्रीति महापात्रा को खड़ा करके चुनाव रोचक बना दिया था। लेकिन वो उन्हें जिता नहीं पाई।
- झारखंड में बीजेपी दोनों सीटें जीतने में सफल रही।
- मध्य प्रदेश में 2 सीटें बीजेपी और एक सीट कांग्रेस के खाते में गई।(पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)
ये बड़े चेहरे जीते
कपिल सिब्बल, सुभाष चंद्रा, वेंकैया नायडू, चौधरी बीरेंद्र सिंह, मुख्तार अब्बास नकवी, निर्मला सीतारमण, जयराम रमेश, आस्कर फर्नांडीज, केसी राममूर्ति।
बीजेपी को चार सीटों का हुआ फायदा
- राज्य सभा की खाली हुई 57 सीटों में 14 बीजेपी के पास थीं। चुनावों के बाद उसके पास 17 सीटें हो गई हैं। यानी तीन सीटों का सीधा फायदा।
- सुभाष चंद्रा भी बीजेपी के सपोर्ट से जीते हैं। उनको भी मिला लिया जाए तो बीजेपी 4 सीटों के मुनाफे में रही।
कांग्रेस को हुआ नुकसान
- चुनाव के बाद कांग्रेस की राज्यसभा में पांच सीटें कम हो गई हैं।
- उसके 14 सांसद रिटायर हुए थे। लेकिन उसे केवल 9 सीटें ही मिलीं।
इन राज्यों में वोटिंग
राज्यराज्यसभा की सीटेंकिसे कहां कितनी सीटें मिलीं
यूपी117 SP, 2 BSP, 1 BJP, 1 कांग्रेस
राजस्थान44 BJP
कर्नाटक43 कांग्रेस, 1 BJP
मध्य प्रदेश32 BJP, 1 कांग्रेस
झारखंड22 BJP
हरियाणा21 BJP, 1 निर्दलीय(BJP के सपोर्ट से)
उत्तराखंड11 कांग्रेस
किसके खाते में कितनी सीटें
पार्टीसीटें जीतीं
बीजेपी11
सपा7
कांग्रेस6
बसपा2
निर्दलीय1
अब राज्यसभा में क्या है स्थिति?
पार्टी / गठबंधनसीटें
NDA (भाजपा, टीडीपी, अकाली, शिव सेना)72
UPA (कांग्रेस, डीएमके, केरल कांग्रेस)66
अन्य (सपा, बसपा, एडीएमके, टीएमसी, जेडीयू)107
राज्यसभा : भाजपा की ताकत बढ़ी, लेकिन बिल पास कराने लायक नहीं
- भाजपा को राज्यसभा चुनाव में चार सीटों का फायदा हुआ। वह पहली बार 50 का आंकड़ा पार करने में कामयाब रही।
- लेेकिन इससे बिल पास कराने का समीकरण नहीं बदला है।
- बहुचर्चित जीएसटी बिल के लायक तो बिल्कुल भी नहीं, जाे कॉन्स्टिट्यूशन बिल है।
- इसे पास कराने के लिए तो 245 सदस्यीय सदन में दो-तिहाई वोट यानी कम से कम 164 सीटें चाहिए।
- चुनाव नतीजों से साफ है कि राज्यसभा में कांग्रेस कमजोर हुई है। जबकि दूसरे दल मजबूत बन कर उभरे हैं।
- सदन की दो सबसे बड़ी पार्टियां कांग्रेस और भाजपा हैं। इन दोनों की 59 आैर 53 सीटें मिला दें तो 112 ही होती हैं।
- यानी किसी भी बिल को पास करने का समीकरण दूसरे दलों के पक्ष में हैं।
- इनमें सपा (19), एडीएमके (13), जेडीयू (10), टीएमसी (12) और बसपा (6) प्रमुख हैं।
- इन पांच पार्टियों के पास ही 60 सीटें हैं। ये पांचों एनडीए और कांग्रेस की अगुआई वाले यूपीए में भी शामिल नहीं हैं।
- ऐसे में, किसी भी बिल को पास कराने के लिए ये पार्टियां निर्णायक साबित होंगी।
संभाजी राजे राज्यसभा के लिए नॉमिनेट
- राज्यसभा के लिए खाली एक नॉमिनेटेड मेंबर की सीट पर भी नए नाम का एलान हो गया है।
- सोशल एक्टिविस्ट संभाजी राजे छत्रपति को राज्यसभा के लिए नॉमिनेट किया गया है।
- राजे छत्रपति शिवाजी के वंशज हैं।
- सरकार ने पहले प्रणब पांड्या को नॉमिनेट किया था। लेकिन उन्होंने इस प्रपोजल को ठुकरा दिया था।
यूपी में क्यों हुआ बवाल...
- सपा के बागी नेता गुड्डू पंडि‍त ने आरोप लगाया कि‍ सपा नेता पवन पांडेय ने बैलेट छीनने की कोशि‍श की। उन्होंने कहा कि सपा नेताओं ने मुझे और मेरे भाई मुकेश शर्मा को जान से मारने की धमकी दी। इसके बावजूद हमने वोट डाला।
- बीजेपी MLA संगीत सोम ने कहा है कि‍ बीजेपी के वोटर्स से सपा नेताओं ने बैलेट पेपर छीनने की कोशि‍श की।
- बीजेपी के कई नेताओं ने कहा कि‍ उन्‍हें वोट देने से रोकने की कोशि‍श हुई।
- पीस पार्टी के अध्यक्ष अयूब खान ने कहा है कि‍ पीस पार्टी कांग्रेस को वोट कर रही है और जो विधायक पार्टी लाइन से हटकर वोट कर रहे हैं, उन पर कार्रवाई होगी।
आगे की स्लाइड्स में देखें PHOTOS...
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: Rajya Sabha voting today: High-stakes in Uttar Pradesh, Haryana & Rajasthan.
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top