Home »Union Territory »New Delhi »News » Salary Day Follow Up After Demonetization

सैलरी डे: 23 दिन बाद भी पहले दिन जैसी कतारें, कैश क्राइसिस से संकट

Bhaskar news | Dec 02, 2016, 07:57 AM IST

सैलरी डे: 23 दिन बाद भी पहले दिन जैसी कतारें, कैश क्राइसिस से संकट
नई दिल्ली.नोटबंदी के फैसले के 23वें दिन भी बैंक व एटीएम के बाहर गुरुवार को पहले दिन जैसी ही कतारें नजर आईं। अधिकांश बैंकों में लंच या उससे पहले ही कैश खत्म होने के बोर्ड लगा दिए गए और अधिकांश एटीएम पर आउट ऑफ सर्विस के पर्चे चस्पा थे।
एक दिसंबर को वेतनभोगी कर्मचारियों को सबसे ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ी। कई-कई घंटे कतारों में खड़े रहने के बावजूद लोगों को चेक से 24 हजार रुपए नहीं मिल पा रहे, अधिकांश लोगों से यह कहा गया कि वे कम राशि भरकर कैश निकालें। लोगों ने शिकायत की कि बैंक वाले कनॉट प्लेस, नेहरू प्लेस, राजौरी गार्डन, लक्ष्मी नगर जैसे इलाकों में बैंक कर्मचारियों के साथ उपभोक्ताओं की झड़प होती देखी गई। बुजुर्गों व महिलाओं को कई बैंकों व एटीएम के बाहर बिलखते हुए देखा गया।
लाइन में लगे लोगों की परेशानी इस बात को लेकर थी कि दूध वाले को कैश में भुगतान करना है। बैंक में सैलरी आ गई, लेकिन एटीएम में कतार लगी है, जबकि ऑफिस भी जाना है। मयूर विहार फेज दो स्थित एक्सिस बैंक की लाइन में लगे राजेश ने कहा कि परेशानी यह है कि जिस बैंक में खाता खुला है, वहीं से रुपए निकालने हैं। कंपनी नोएडा में है, घर नोएडा में है और बैंक दिल्ली में। वहां की शाखा से रुपए निकालने से मना कर दिया, कहा कि दिल्ली की शाखा में ही रुपए निकालने जाओ। यह अजीब सिस्टम है।
मयूर विहार फेज दो स्थित केनरा बैंक की लाइन में लगे राकेश कहते हैं कि हर दिन सरकार की ओर से नया नियम आ जाता है। महीने के एंड पर और सेलरी मिलने के बाद कैश की परेशानी से हर परिवार जूझ रहा है। इसलिए दिसंबर के शुरुआती सप्ताह में सरकार को एटीएम से सप्ताह में दो बार 10-10 हजार रुपए निकालने की छूट दे देनी चाहिए। क्योंकि जिस आदमी का सैलरी एकाउंट है। उसकी सैलरी एक ही एकाउंट में आएगी, वह रोज-रोज 2 से ढाई हजार रुपए निकालने के लिए तीन से चार घंटे लाइन में तो नहीं लगेगा। जब तक नंबर आता है। कई बार एटीएम या बैंक में कैश खत्म होने की सूचना जारी कर दी जाती है।
परेशानी यह भी नजर आई कि कोई व्यक्ति बैंक में चेक की रकम भरकर ले जा रहा है तो काउंटर पर बैठे कैशियर कम कैश का हवाला देते हुए 24 हजार की बजाए उन्हें 5 से 10 हजार रुपए निकालने को कहते। जिससे अन्य लोगों को भी रुपए मिल सकें।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: salary day follow up after demonetization
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।

Stories You May be Interested in

      More From News

        Trending Now

        Top