Rajasthan » Jaipur » इस किला का आठवां द्वार आज भी है रहस्यमय!

इस किला का आठवां द्वार आज भी है रहस्यमय!

Manish Kumar | Dec 08, 2012, 20:20 IST

  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स
  • ट्रेन्डिंग नोटिफिकेशन्स

जोधपुर। यह है मेहरानगढ़ का किला। जोधपुर शहर के ठीक बीचोंबीच। करीब 125 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह किला भारत के समृद्धशाली अतीत का प्रतीक है। 15वीं शताब्दी में राव जोधा ने इस किले की नींव रखी, लेकिन महाराज जसवंत सिंह ने इसे पूरा किया। इस किले के मुख्य चार द्वार हैं। वैसे किले के सात द्वार (पोल) हैं, जबकि आठवां द्वार गुप्त है। अनगिनत बुर्ज हैं।किला दस किलोमीटर लंबी ऊंची दीवार से घिरा है। यह किला बाहर से अदृश्य, घुमावदार सड़कों से जुड़ा है।

किले के अंदर कई भव्य महल, अद्भुत नक्काशीदार दरवाजा और जालीदार खिड़कियां हैं। खासतौर पर मोती महल, फूल महल, शीश महल, सिलेह खाना, दौलत खाना की एक अलग ही पहचान है। इन महलों में भारतीय राजवंशों के साजो- सामान का विस्मयकारी संग्रह है। इसके अलावा पालकियां, हाथियों के हौदे, विभिन्न शैलियों के लघु चित्रों, संगीत वाद्य, पोशाकों व फर्नीचर का अद्भुत संग्रह भी है।

इस किले के बारे में जानने के लिए आगे की स्लाइड पर क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App
Web Title: इस किला का आठवां द्वार आज भी है रहस्यमय!
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)
पढ़ते रहिए 5.5 करोड़ + रीडर्स की पसंदीदा और विश्व की नंबर 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट dainikbhaskar.com, जानो ख़बरों से ज़्यादा।
 

Stories You May be Interested in

      More From Jaipur

        Trending Now

        पाएं लेटेस्ट न्यूज़ एंड अपडेट्स

        दैनिक भास्कर के ट्रेंडिंग खबरों के नोटिफिकेशन रखेंगे आपको अपडेट..

        * किसी भी समय ब्राउजर सेटिंग्स बदलकर नोटिफिकेशंस ऑफ कर सकते हैं.
        Top